BREAKING NEWS

दिल्ली की वायु गुणवत्ता 'बेहद खराब' श्रेणी में बरकरार, प्रदूषण का स्तर 'गंभीर'◾पीएम मोदी,राम नाथ कोविंद और वेंकैया नायडू ने देशवासियों को दुर्गाष्टमी की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने गुजरात में 3 अहम परियोजनाओं का किया उद्घाटन ◾RJD ने 'प्रण हमारा संकल्प बदलाव का' के वादे के साथ जारी किया घोषणा पत्र, तेजस्वी ने नीतीश पर साधा निशाना ◾महबूबा मुफ्ती के देशद्रोही बयान देने के बाद भाजपा ने की उनकी गिरफ्तारी की मांग ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का हाहाकार, पॉजिटिव केस 4 करोड़ 20 लाख के पार◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 78 लाख के पार, एक्टिव केस 6 लाख 80 हजार◾पाकिस्तान को FATF 'ग्रे लिस्ट' में रहने पर बोले कुरैशी- ये 'भारत के लिए हार' ◾पीएम मोदी गुजरात में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा आज तीन परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन◾आज का राशिफल ( 24 अक्टूबर 2020 )◾दुनिया की दिग्गज तेल, गैस कंपनियों के प्रमुखों से बातचीत करेंगे PM मोदी◾जम्मू कश्मीर के पुंछ में अग्रिम क्षेत्रों पर पाकिस्तानी सेना ने की गोलाबारी, भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब◾MI vs CSK ( IPL 2020 ) : बोल्ट और ईशान के प्रदर्शन से मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को 10 विकेट से हराया ◾आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान को बड़ा झटका, FATF ने ग्रे लिस्ट में रखा बरकरार◾महबूबा मुफ्ती का देशद्रोही बयान, कहा- जम्मू-कश्मीर का झंडा मिलने के बाद ही तिरंगा फहराउंगी◾भागलपुर रैली में राहुल का वादा - हमारी सरकार बनी तो बिहार के युवाओं को मिलेगा रोजगार◾भागलपुर रैली में जमकर बरसे PM मोदी - 15 साल में विपक्ष ने सत्ता को अपनी तिजोरी भरने का माध्यम बनाया◾महबूबा मुफ्ती का केंद्र वार, राष्ट्र के मुद्दों को हल करने में विफल मोदी सरकार◾बिहार चुनाव : वादों की झड़ी और नौकरी - रोजगार की 'बारिश', क्या मिल पायेगा जनता का विश्वास ?◾गया रैली में बोले पीएम मोदी - NDA के वोट की चोट पर महागठबंधन के जंगलराज का खात्मा तय◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

रामलला के अस्थायी मंदिर में सुरक्षा व्यवस्था और अधिक की जाएगी पुख्ता

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम की नगरी अयोध्या में राम जन्मभूमि पर विराजमान रामलला के भव्य मंदिर निर्माण और अस्थाई मंदिर में विराजमान रामलला की सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी की जायेगी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि राम जन्मभूमि स्थायी सुरक्षा समिति की मंगलवार को देवकाली के ताराजी रिजॉर्ट में सम्पन्न हुई बैठक में राम जन्मभूमि पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद मंदिर परिसर में बदले स्वरूप सुरक्षा को लेकर मंथन हुआ। 

जिसमें एडीजी सुरक्षा वी.के सिंह एवं एडीजी जोन एसएन सावद, एडीजी सुरक्षा, डीआईजी पीएससी, आईजी सीआरपीएफ, आईजी अयोध्या रेंज, डीआईजी/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक समेत अन्य अधिकारियों ने यह निर्णय लिया कि राम जन्मभूमि के मंदिर निर्माण तथा अस्थाई रामलला के मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की जायेगी। उन्होंने बताया कि राम जन्मभूमि परिसर का स्वरूप बदलेगा। एक तरफ जहां मंदिर का निर्माण होगा वहीं दूसरी तरफ अस्थायी मंदिर में विराजमान रामलला के दर्शन के लिये श्रद्धालुओं की भीड़ भी होगी। 

इसके लिये सुरक्षा के इंतजाम नये सिरे से किये जायेंगे। राम मंदिर का निर्माण कार्य सुचारू रूप से चले और श्रद्धालु रामलला के दर्शन भी सुचारू रूप से कर सकें इसके लिये पूरे परिसर की सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी की जायेगी। सुरक्षा अधिकारियों के साथ राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट एवं मंदिर निर्माण समिति के प्रमुख पदाधिकारियों ने भी इस विषय पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण के दौरान श्रद्धालुओं को दर्शन करने में कोई दिक्कत ना हो और मंदिर निर्माण सुचारू रूप से बनता रहे। 

साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि मंदिर निर्माण के दौरान श्रद्धालुओं को रामलला के दर्शन करने में कोई परेशानी न आ सके। उन्होंने बताया कि निर्माण के दौरान सुरक्षा को लेकर समिति ड्राफ्ट तैयार करेगी। कोरोना के कारण बैठक में थोड़ विलम्ब हुआ है, लेकिन राम जन्मभूमि की सुरक्षा के मुद्दे को लेकर हम लोग सजग हैं। अस्थायी समिति की बैठक में परिसर में मंदिर निर्माण होना है। कैसे दर्शन होता रहे और मंदिर निर्माण भी चलता रहे इसको लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने को कहा गया है। 

बैठक में एडीजी सुरक्षा वी.के. सिंह, डीआईजी पीएससी, आईजी सीआरपीएफ, एडीजी जोन, आईजी रेंज अयोध्या और डीआईजी/एसएसपी समेत उच्च सुरक्षा अधिकारी मौजूद थे। सभी अधिकारियों ने राम जन्मभूमि परिसर में जा करके सुरक्षा व्यवस्था का बारीकी से निरीक्षण किया और आने वाले समय में परिसर की सुरक्षा कैसी हो, इसके लिये विचार-विमर्श किया गया। उन्होंने बताया कि राम जन्मभूमि परिसर में सुरक्षा समिति की बैठक हर तीन महीने में आयोजित होती है।