BREAKING NEWS

खनन से प्रभावित लोगों की भलाई के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है मोदी सरकार, जानिए पूरी जानकारी ◾ट्रंप की संपत्ति से जुड़ी जानकारी छिपा रहा न्याय विभाग, जांच में नुकसान होने का दिया हवाला ◾Rajasthan: गहलोत का सचिन पायलट पर कटाक्ष, कहा- जुमला बन गया है कार्यकर्ताओं का मान-सम्मान◾जम्मू-कश्मीरः सुरक्षाबलों की मौत पर राष्ट्रपति मुर्मू ने जताया दुख, घायलों के शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की ◾Ratan Tata Invests : वरिष्ठ नागरिकों के सहयोग के लिए स्टार्टअप गुडफेलोज में किया निवेश◾कश्मीरी पंडित की हत्या पर उमर अब्दुल्ला सहित कई राजनेताओं ने जताया दुख, जानिए क्या कहा? ◾Amul Milk Price Hiked: देश में महंगाई का कहर! अमूल मिल्क के बढ़े दाम, इतने लीटर महंगा हुआ दूध◾राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने की मुलाकात ◾नीतीश को घेरने के लिए बीजेपी आलाकमान ने बुलाई बैठक, बिहार इकाई के प्रमुख नेता होंगे शामिल ◾WPI मुद्रास्फीति घटकर 13.93 फीसदी, खाद्य वस्तुओं सहित विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बड़ी गिरावट ◾WPI मुद्रास्फीति घटकर 13.93 फीसदी, खाद्य वस्तुओं सहित विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बड़ी गिरावट ◾मुम्बई में बारिश को लेकर मौसम विभाग का बड़ा अलर्ट, 24 घंटे के अंदर होगी झमाझम बारिश ◾Bihar Politics : नीतीश मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार , तेज प्रताप समेत RJD से 16 मंत्री बने ◾गहलोत के अर्धसैनिक बलों के ट्रकों में 'अवैध धन' ले जानें वाले बयान पर बीजेपी का पलटवार, जानिए मामला◾NSE Phone Tapping Case : मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त की जमानत अर्जी पर ED को नोटिस जारी◾J-K News: जम्मू कश्मीर के पहलगाम में दर्दनाक हादसा, 39 जवानों की बस खाई में गिरी, 6 की मौत, जानें स्थिति ◾जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने दो कश्मीरी पंडित भाइयों पर बरसाई गोलियां, एक की मौत, एक घायल◾बिहार : नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल के 31 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली, कांग्रेस नेता भी शामिल ◾कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने उठाई 3 दशकों से जेल में बंद सिख कैदियों की रिहाई की मांग ◾भारत में शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए केंद्र दिल्ली सरकार की विशेषज्ञता का उपयोग करें : CM केजरीवाल ◾

ईशनिंदा के आरोप में शिया बोर्ड ने की वसीम रिजवी की गिरफ्तारी की मांग, प्रदर्शन तेज

ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएसपीएलबी) ने शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य वसीम रिजवी को ईशनिंदा, शांति भंग करने, कानून-व्यवस्था भंग करने के आरोप में गिरफ्तार करने की मांग की है। बोर्ड ने रिजवी के भाषणों, लेखन और कुरान और पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ अपमानजनक गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने के साथ रिजवी की वक्फ बोर्ड की सदस्यता समाप्त करने की मांग की।

एआईएसपीएलबी के प्रवक्ता ने कहा, "ऐसा प्रतीत होता है कि यूपी सरकार रिजवी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करके उनका समर्थन कर रही है।" उन्होंने आरोप लगाया कि सलमान रुश्दी और इस्लाम और पैगंबर का अपमान करने वाली तस्लीमा नसरीन पर रिजवी के विचार अपमानजनक हैं। एआईएसपीएलबी के अध्यक्ष मौलाना सैयद साइम मेहदी ने देश भर के सभी सदस्यों से अपील की कि वे 16 नवंबर को अपने जिलों में रिजवी के खिलाफ प्रदर्शन करें।

मौलाना साइम ने कहा, "जब रिजवी राज्य और देश में शांति भंग करता है तो सरकार चुप क्यों रहती है। सरकार कानून और व्यवस्था के मामूली मुद्दों पर लोगों को गिरफ्तार करती है, लेकिन रिजवी हुक से बाहर है, भले ही उसके खिलाफ कई प्राथमिकी दर्ज हों। अगर सरकार चुप्पी बनाए रखती है तो आगे जो कुछ भी होगा उसके लिए वह जिम्मेदार होगी।"

बोर्ड के सदस्य मौलाना जहीर इफ्तेखारी ने कहा, "सरकार रिजवी के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है क्योंकि उसे सांप्रदायिक ताकतों का समर्थन प्राप्त है। चूंकि यूपी में चुनाव नजदीक हैं, इसलिए विभाजन पैदा करने की सभी संभावनाएं तलाशी जा रही हैं।" इस बीच, यूपी शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष पद के लिए बहुप्रतीक्षित चुनाव 15 नवंबर को होगा। राज्य सरकार ने चुनाव के लिए अधिसूचना जारी की है जिसमें बोर्ड के नवनियुक्त आठ सदस्यों में से नए अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा।

यह पद 18 महीने से अधिक समय से खाली पड़ा है। आठ सदस्य जो आपस में अध्यक्ष का चुनाव करेंगे, उनमें रामपुर से पूर्व सांसद बेगम नूर बानो, बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी, सैयद फैजी, मौलाना मौलाना रजा हुसैन और लखनऊ से अली जैदी, अमरोहा के वकील जरयाब जमाल रिजवी, सिद्धार्थ नगर से शबाहत हुसैन, और जिला महिला अस्पताल, प्रयागराज में वरिष्ठ सलाहकार, डॉ नूरुस हसन नकवी शामिल हैं।

प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर लगाया आरोप, कहा- UP में महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं