BREAKING NEWS

असम के लोगों से PM की अपील, कांग्रेस बोली- मोदी जी, वहां इंटरनेट सेवा बंद है◾केंद्र सरकार महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर संविधान की आत्मा छलनी करने वाला बिल लाई : प्रियंका ◾पाकिस्तान की ओर से हो रहे घुसपैठ की कोशिशों को नजरअंदाज कर रही है सरकार: शिवसेना ◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले में SC ने 3 सदस्यीय जांच आयोग का किया गठन◾आईयूएमएल ने नागरिकता संशोधन विधेयक को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती ◾असम के लोगों से PM मोदी की अपील, बोले- कोई नहीं छीन सकता आपके अधिकार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: तीसरे चरण में 17 सीटों पर 9 बजे तक 13 फीसदी मतदान◾झारखंड विधानसभा चुनाव : PM मोदी ने मतदाताओं से बड़ी संख्या में मतदान का किया आग्रह◾गोवा : CM प्रमोद सावंत ने संसद में CAB पारित होने पर प्रधानमंत्री को दी बधाई◾नागरिकता बिल पर असम में व्यापक विरोध प्रदर्शन, कई जिलों में इंटरनेट बंद◾राज्यसभा में पूर्वोत्तर की सभी पार्टियों ने नागरिकता विधेयक के पक्ष में वोट किया : गोयल ◾येचुरी ने सरकार पर लगाया आरोप कहा- भाजपा CAB के जरिए द्विराष्ट्र के सिद्धांत को फिर से जिंदा करने की कोशिश कर रही है ◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ जारी प्रदर्शनों के बीच मुख्यमंत्री के घर पर किया गया पथराव ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को निकट भविष्य में अदालत में चुनौती दी जाएगी : सिंघवी ◾नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾ राज्यसभा में अमित शाह बोले- CAB मुसलमानों को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं◾कांग्रेस का दावा- ‘भारत बचाओ रैली’ मोदी सरकार के अस्त की शुरुआत ◾

उत्तर प्रदेश

सपा नेता ने की बिजली मंत्री और बड़े अफसरों को बर्खास्त कर जेल में डालने की मांग

 ram govind 1

उत्तर प्रदेश विधानसभा में सपा के नेता राम गोविंद चौधरी ने बिजलीकर्मियों की भविष्य निधि में हुए 2600 करोड़ रुपये के कथित घोटाला मामले में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा और विभाग के प्रमुख सचिव को बर्खास्त कर जेल भेजने तथा घोटाले की उच्च न्यायालय के किसी न्यायाधीश से जांच कराने की मांग की है। चौधरी ने सोमवार को यहां कहा कि बिजलीकर्मियों की भविष्य निधि के 2600 करोड़ रुपये का निजी संस्था डीएचएफएल में निवेश करना सीधे तौर पर लूट है। इतनी बड़ी लूट ऊर्जा मंत्री, पावर कार्पोरेशन के चेयरमैन और ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव की जानकारी के बगैर हो ही नहीं सकती। 

उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मांग की कि इन तीनों को तत्काल बर्खास्त करके जेल में डाला जाये और इस लूट की जांच उच्च न्यायालय के न्यायाधीश से करायी जाये, ताकि इसमें शामिल अन्य बडे़ लोग भी गिरफ्त में आ सकें। इन लोगों के अपने पद पर बने रहने तक मामले की निष्पक्ष जांच नहीं हो सकती। चौधरी ने कहा कि अगर सरकार ने यह कार्रवाई नहीं की तो सपा इस मसले पर सड़क से सदन तक आंदोलन करेगी। 

दिल्ली: मनीष सिसोदिया साइकिल से पहुंचे दफ्तर, कहा- पराली के जलने से भारत में धुंआ हो गया है

भ्रष्टाचार के इस मामले में बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा की सफाई और राज्य सरकार द्वारा की गयी कार्रवाई पर नेता विपक्ष ने योगी सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि इसी तरह की लूट महाराष्ट्र के पीएमसी बैंक में भी हुई है। उसी की जांच पड़ताल में पता चला कि पीएमसी बैंक को लूटने वाली कम्पनी को ही उत्तर प्रदेश के ऊर्जा विभाग ने भी भारी रकम अंतरित की है। इससे स्पष्ट लग रहा है कि इस लूट की साजिश बड़े स्तर पर हुयी है। 

नेता प्रतिपक्ष ने कहा है कि इस मामले में ऊर्जा मंत्री, पावर कार्पोरेशन के चेयरमैन और ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव लगातार सफाई दे रहें है कि कर्मचारियों का रुपया सुरक्षित है। उनका यह दावा सीधे-सीधे सच पर पर्दा डालने जैसा है। कर्मचारी लूटे जा चुके है। मंत्री और अफसर इस घोटाले से अपनी जान बचाने के लिए सफाई दे रहें हैं। 

गौरतलब है कि बिजलीकर्मियों की भविष्य निधि के करीब 2600 करोड़ रुपये नियमविरुद्ध तरीके से निजी बैंकिंग संस्था डीएचएफएल में जमा कराये जाने का मामला सामने आया है। सरकार ने एक शिकायत पर इसकी जांच करायी और प्रथम दृष्ट्या दोषी पाये गये दो पूर्व अफसरों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इस घोटाले के लिये प्रदेश की पूर्ववर्ती सपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।