BREAKING NEWS

हिमाचल प्रदेश : कांग्रेस के दो विधायकों ने की भाजपा की सदस्यता ग्रहण, मुख्यमंत्री जयराम ने किया स्वागत◾थाईलैंड के विदेश मंत्री के साथ एस. जयशंकर ने की खास बातचीत, जानिए किन मुद्दों पर हुई चर्चा ◾दिल्ली में रोहिंग्या मुसलमानों को फ्लैट देने का नहीं दिया कोई निर्देश : केंद्रीय गृह मंत्रालय ◾दिल्ली के बक्करवाला के अपार्टमेंट में भेजे जाएंगे रोहिंग्या शरणार्थी, पुलिस सुरक्षा भी कराई जाएगी मुहैया : हरदीप सिंह पुरी◾अब रोहिंग्या शरणार्थियों के पास होगा रहने का ठिकाना, केंद्र के फैसले पर AAP हमलावर, BJP नाखुश◾उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने किया ब्याज दरों में इजाफा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए दर 0.50 प्रतिशत से बढ़कर 0.75◾MP मंत्री तुलसीराम की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, बाल-बाल बचा परिवार ◾उत्तर प्रदेश की 10 हजार बेटियों को दी जाएगी 'Self Defense' की ट्रेनिंग : यूपी सरकार ◾राजस्थान : रामदेवरा मेले में आने लगे श्रद्धालु, 35 लाख से अधिक भक्तों के आने की उम्मीद◾बीजेपी ने पार्टी के संसदीय बोर्ड में किया बड़ा बदलाव, गडकरी और चौहान को हटाकर इन नोताओं को किया शामिल ◾गुजरातः चुनावों से पहले कांग्रेस के दो नेता भाजपा में शामिल, बीजेपी ने किया भगवा अंगवस्त्र और टोपियां देकर स्वागत ◾CM केजरीवाल ने की ‘मेक इंडिया नंबर 1’ अभियान की शुरुआत, कहा-इसका राजनीति से कोई संबंध नहीं◾कचरा बनी बागमती, मानी जाती है नेपाल की सबसे पवित्र नदी ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा- भारत ने रूस से तेल खरीदने के अपने रुख का कभी बचाव नहीं किया◾राजस्थान में बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार? जानिए क्या कहती है जनता◾कार्तिकेय सिंह के अरेस्ट वारंट पर बोले CM नीतीश, मुझे मामले की जानकारी नहीं◾Mann Ki Baat :PM मोदी ने 'मन की बात' की 28वीं कड़ी के लिए मांगे सुझाव, 28 अगस्त को होगा प्रसारण◾दलित छात्र की मौत को लेकर पायलट ने अपनी ही सरकार को दी नसीहत, BJP ने पूर्व उपमुख्यमंत्री का किया समर्थन◾बिलकिस बानो केस के दोषियों की रिहाई को लेकर राहुल का तंज, कहा-PM की कथनी और करनी को देख रहा है देश◾Yamuna Water Level : दिल्ली में यमुना नदी का जल स्तर एक बार फिर खतरे के पार पहुंचा◾

UP : दुष्कर्म और धर्मांतरण मामले में सपा नेता के बेटे को हाई कोर्ट से मिली जमानत

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक सईद अहमद के बेटे कावी अहमद को जमानत दे दी है। सपा नेता के बेटे पर आईपीसी की विभिन्न धाराओं 376 (दुष्कर्म) और धारा 3, 5(1) (जबरदस्ती धर्मांतरण का प्रयास) के आरोप के तहत दर्ज है।

न्यायमूर्ति सौमित्र दयाल सिंह ने कावी अहमद को अंतरिम अग्रिम जमानत देते हुए सुनवाई की अगली तारीख सात जनवरी 2022 तय की है और राज्य सरकार को मामले में जवाब (जवाबी हलफनामा) दाखिल करने का भी निर्देश दिया है। याचिकाकर्ता की दलील थी कि प्राथमिकी में उन पर दबाव बनाने के लिए झूठे आरोप लगाए गए क्योंकि उनके और मामले में शिकायतकर्ता महिला के बीच व्यापारिक संबंध थे, जो समय बीतने के साथ खराब हो गए और उन्हें व्यापार में घाटा होने लगा।

आयकर विभाग ने 16 घंटे तक की छापेमारी, राजीव राय बोले- छानबीन में मिले सिर्फ 17 हजार रुपये

इस साल 13 सितंबर को, कावी अहमद के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मारपीट, लूट और दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए और यूपी के धर्मातरण निषेध अध्यादेश, 2020 के तहत गलत बयानी द्वारा जबरन धर्मातरण के प्रयास का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

प्रयागराज के सिविल लाइंस थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। महिला ने प्राथमिकी में आरोप लगाया कि वह मिस इंडिया प्रतियोगिता की तैयारी कर रही थी और सिविल लाइंस में जिम चलाती थी। 2018 में, वह कावी अहमद के संपर्क में आई, जिसने उसका नाम बदलकर उससे दोस्ती कर ली। 

आरोपी उसे ब्यूटी पार्लर खोलने के बहाने लखनऊ ले गया, जहां उसने नशीला पदार्थ देकर उसका यौन शोषण किया। उसका अश्लील वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करने लगा। 12 सितंबर 2021 को शहर के सिविल लाइंस इलाके में आरोपी ने महिला पर हमला कर दिया और उसका पीछा किया। अपनी जान बचाने के लिए पीड़िता पुलिस चौकी में भाग गई जिसके बाद उसने वर्तमान प्राथमिकी दर्ज कराई।