BREAKING NEWS

कोरोना संकट : देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, मौत का आंकड़ा पहुंचा 24◾कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी आज करेंगे मन की बात◾कोरोना : लॉकडाउन को देखते हुए अमित शाह ने स्थिति की समीक्षा की◾इटली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,000 के पार, 92,472 लोग इससे संक्रमित◾स्पेन में कोरोना वायरस महामारी से पिछले 24 घंटों में 832 लोगों की मौत , 5,600 से इससे संक्रमित◾Covid -19 प्रकोप के मद्देनजर ITBP प्रमुख ने जवानों को सभी तरह के कार्य के लिए तैयार रहने को कहा◾विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई - महामारी आगामी कुछ समय में अपने चरम पर पहुंच जाएगी◾कोविड-19 : राष्ट्रीय योजना के तहत 22 लाख से अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को मिलेगा 50 लाख रुपये का बीमा कवर◾कोविड-19 से लड़ने के लिए टाटा ट्रस्ट और टाटा संस देंगे 1,500 करोड़ रुपये◾लॉकडाउन : दिल्ली बॉर्डर पर हजारों लोग उमड़े, कर रहे बस-वाहनों का इंतजार◾देश में कोविड-19 संक्रमण के मरीजों की संख्या 918 हुई, अब तक 19 लोगों की मौत ◾कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने देशवासियों से की प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की अपील◾कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : CM केजरीवाल◾Coronavirus : केंद्रीय राहत कोष में सभी BJP सांसद और विधायक एक माह का वेतन देंगे◾लोगों को बसों से भेजने के कदम को CM नीतीश ने बताया गलत, कहा- लॉकडाउन पूरी तरह असफल हो जाएगा◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान - लॉकडाउन के दौरान राज्य आपदा राहत कोष से मजदूरों को मिलेगी मदद◾वुहान से भारत लौटे कश्मीरी छात्र ने की PM मोदी से बात, साझा किया अनुभव◾लॉकडाउन को लेकर कपिल सिब्बल ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा - चुप हैं गृहमंत्री◾बेघर लोगों के लिए रैन बसेरों और स्कूलों में ठहरने का किया गया इंतजाम : मनीष सिसोदिया◾कोविड-19 : केरल में कोरोना वायरस से पहली मौत, देश में अबतक 20 लोगों की गई जान ◾

तेलंगाना, आंध्र में कांग्रेस, क्षेत्रीय पार्टियों ने लोगों की भावनाओं से किया खिलवाड़ : योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश में कांग्रेस और क्षेत्रीय दलों पर हमला बोला और आरोप लगाया कि उन्होंने विकास ‘‘बाधित किया’’ और लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ किया है।

आदित्यनाथ ने कहा कि इन पार्टियों ने वंशवादी और पारिवारिक राजनीति को ‘‘बढ़ावा’’ दिया और आम लोगों के जीवन को ‘‘मुश्किल’’ बनाया।

आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘पिछले कुछ वर्षों में आंध्र प्रदेश में या तो कांग्रेस या क्षेत्रीय दल सत्ता में रहे हैं। उन्होंने लोगों से विकास के नाम पर धोखा किया है। उन्होंने यहां वंशवादी और पारिवारिक राजनीति को ‘‘बढ़ावा’’ दिया और विकास प्रक्रिया को बाधित किया।’’

देवबंद में बोलीं मायावती- BJP जा रही है, गठबंधन आ रहा है

आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘इन्होंने केवल आकर्षक नारे दिये और आम लोगों का जीवन मुश्किल बनाया। तेलंगाना में पिछले पांच वर्षों से टीआरएस की सरकार है। यह सरकार भी कांग्रेस के दिखाये रास्ते पर चल रही है। ये भी वंशवादी और पारिवारिक राजनीति में लिप्त हो रही है।’’

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री चुनावी सभाओं को संबोधित करने के लिए तेलंगाना में हैं। वे आंध्र प्रदेश में भी लोगों को संबोधित करेंगे। आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘चाहे वह आंध्रप्रदेश में तेदेपा हो, तेलंगाना में कांग्रेस या टीआरएस हो, सभी ने तुष्टिकरण की राजनीति की है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इन सभी ने बड़े और आकर्षक वादे करके लोगों की भावनाओं से खेला है।’’ उन्होंने कहा कि यह लंबे समय नहीं चलेगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करेगी और अपने प्रतिद्वंद्वियों का ‘‘विकास विरोधी चेहरा’’ और उनके द्वारा की जा रही तुष्टिकरण की राजनीति को उजागर करेगी। उन्होंने विश्वास जताया कि भाजपा दोनों राज्यों में अच्छी संख्या में सीटें जीतेगी।

यह पूछे जाने पर कि तेदेपा प्रमुख एवं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू राजग से क्यों अलग हुए और क्या इससे दक्षिण भारत में भाजपा पर असर होगा जहां पार्टी अपनी सीटों की संख्या बढ़ाने की कोशिश कर रही है, आदित्यनाथ ने कहा, 'यह अवसरवाद की राजनीति है। राजग में उनका सम्मान किया गया। भाजपा ने पार्टी कार्यकर्ताओं की अनदेखी करते हुए चंद्रबाबू नायडू को सम्मान दिया था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘राजग से उनके अलग होने से भाजपा की चुनावी संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा। भाजपा आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में बहुत अच्छा प्रदर्शन करेगी और इन राज्यों में अच्छी संख्या में सीटें जीतेगी।’’ आदित्यनाथ ने कहा कि ओडिशा, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में भी भाजपा अच्छी संख्या में सीटें जीतेगी।

मुख्यमंत्री ने ओवैसी भाइयों..एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और अकबरुद्दीन ओवैसी...पर भी हमला बोला और आरोप लगाया कि उनके द्वारा दिए गए नकारात्मक बयान हैदराबाद और तेलंगाना के लोगों का अपमान है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम विकास और सुरक्षा की बात करते हैं। हैदराबाद के ओवैसी बंधुओं द्वारा की गई नकारात्मक राजनीति और बयानबाजी न केवल तेलंगाना और हैदराबाद के लोगों के लिए अपमानजनक है बल्कि यह देश की मूल भावनाओं का भी अपमान है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि उनके द्वारा की जा रही नकारात्मक राजनीति के लिए भारतीय लोकतंत्र में कोई जगह नहीं होनी चाहिए।’’ हैदराबाद लोकसभा क्षेत्र परंपरागत रूप से एआईएमआईएम का गढ़ है। असदुद्दीन ओवैसी यहां से 2004 से जीत रहे हैं। इसमें सात विधानसभा क्षेत्र हैं और इनमें से छह पर 2018 तेलंगाना विधानसभा चुनाव में एआईएमआईएम ने जीत दर्ज की थी।