BREAKING NEWS

कोरोना संकट : देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, मौत का आंकड़ा पहुंचा 24◾कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी आज करेंगे मन की बात◾कोरोना : लॉकडाउन को देखते हुए अमित शाह ने स्थिति की समीक्षा की◾इटली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,000 के पार, 92,472 लोग इससे संक्रमित◾स्पेन में कोरोना वायरस महामारी से पिछले 24 घंटों में 832 लोगों की मौत , 5,600 से इससे संक्रमित◾Covid -19 प्रकोप के मद्देनजर ITBP प्रमुख ने जवानों को सभी तरह के कार्य के लिए तैयार रहने को कहा◾विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई - महामारी आगामी कुछ समय में अपने चरम पर पहुंच जाएगी◾कोविड-19 : राष्ट्रीय योजना के तहत 22 लाख से अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को मिलेगा 50 लाख रुपये का बीमा कवर◾कोविड-19 से लड़ने के लिए टाटा ट्रस्ट और टाटा संस देंगे 1,500 करोड़ रुपये◾लॉकडाउन : दिल्ली बॉर्डर पर हजारों लोग उमड़े, कर रहे बस-वाहनों का इंतजार◾देश में कोविड-19 संक्रमण के मरीजों की संख्या 918 हुई, अब तक 19 लोगों की मौत ◾कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने देशवासियों से की प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की अपील◾कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : CM केजरीवाल◾Coronavirus : केंद्रीय राहत कोष में सभी BJP सांसद और विधायक एक माह का वेतन देंगे◾लोगों को बसों से भेजने के कदम को CM नीतीश ने बताया गलत, कहा- लॉकडाउन पूरी तरह असफल हो जाएगा◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान - लॉकडाउन के दौरान राज्य आपदा राहत कोष से मजदूरों को मिलेगी मदद◾वुहान से भारत लौटे कश्मीरी छात्र ने की PM मोदी से बात, साझा किया अनुभव◾लॉकडाउन को लेकर कपिल सिब्बल ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा - चुप हैं गृहमंत्री◾बेघर लोगों के लिए रैन बसेरों और स्कूलों में ठहरने का किया गया इंतजाम : मनीष सिसोदिया◾कोविड-19 : केरल में कोरोना वायरस से पहली मौत, देश में अबतक 20 लोगों की गई जान ◾

उत्तर प्रदेश में मुसीबत बनी बारिश : 14 लोगों की मौत, बलिया में पटरी धंसने से यातायात ठप

उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में पिछले कुछ दिन से जारी मूसलाधार बारिश ने मुसीबत का रुप धर लिया है। वर्षा की वजह से जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश के विभिन्न जिलों में वर्षाजनित हादसों में 14 लोगों की मौत हुई है। 

राहत आयुक्त कार्यालय से प्राप्त सूचना के मुताबिक प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान बारिश के कारण दीवार गिरने, मकान ढहने और बिजली गिरने से 14 लोगों की मौत हुई है। गाजीपुर में 3, अम्बेडकर नगर में 2 तथा आजमगढ़, मिर्जापुर, जौनपुर, बलिया, फतेहपुर, अयोध्या, रायबरेली, चंदौली तथा कौशाम्बी में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। बंगाल की खाड़ी से आ रही पूर्वा हवा की वजह से जगह-जगह घिरे बादल पिछले कई दिन से रूक-रूक कर बरस रहे हैं। इसकी वजह से जनजीवन दरहम-बरहम हो गया है। बलिया में लगातार बारिश की वजह से रविवार को बलिया-छपरा रेल प्रखंड पर यातायात ठप हो गया। 

बलिया में आज तड़के सवा चार बजे भारी बारिश के कारण छपरा-बलिया रेल खंड पर बलिया और बांसडीह रेलवे स्टेशन के बीच मिट्टी धंसने पटरी धंस गयी और यहां यातायात पूरी तरह ठप हो गया। इस वजह से सात ट्रेनों का संचालन निरस्त कर दिया है तथा छह ट्रेनों को परिवर्तित मार्ग से भेजा जा रहा है। धंसी हुई पटरी को ठीक करने की कोशिश की जा रही है। 

आंचलिक मौसम केन्द्र ने बताया कि दक्षिण-पश्चिमी मानसून पूरे प्रदेश में सक्रिय है। विशेषकर पूर्वी इलाकों में यह खासा तेज है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में अनेक स्थानों पर वर्षा हुई। कुछ जगहों पर भारी से बहुत भारी बारिश भी हुई। इस अवधि में ज्ञानपुर में सबसे ज्यादा 21 सेंटीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गयी। इसके अलावा लालगंज में 18, हंडिया और चुनार में 17-17, करछना और वाराणसी में 15-15, राजघाट में 14, फूलपुर तथा इलाहाबाद में 13-13, मिर्जापुर, आजमगढ़ में 12-12, मोहम्मदाबाद, बलिया तथा जौनपुर में 11-11 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गयी। अगले 24 घंटे में राज्य में कुछ स्थानों पर वर्षा होने का अनुमान है। 

भीमपुरा थाना क्षेत्र के केवलडीह गांव में रविवार सुबह बारिश के कारण दीवार गिरने से मलबे में दबकर जानकी प्रसाद (55) की मौत हो गयी। उभांव थाना क्षेत्र के शाह कुंडैल गांव स्थित ईंट—भट्ठे के निकट बने बरसाती तालाब में डूब कर हरी राम राजभर (40) की मौत हो गई। पकड़ी गांव में अनवरत हो रही बारिश के कारण शनिवार देर रात एक कच्चा मकान गिरने से चार लोग घायल हो गए। 

गोंडा से प्राप्त सूचना के मुताबिक अपर जिलाधिकारी रत्नाकर मिश्र ने बताया कि जिले में बारिश के कारण कई कच्चे मकान गिरने की खबर है। सभी उप जिलाधिकारियों को सतर्कता बनाए रखने और नुकसान की रिपोर्ट तत्काल भेजने के निर्देश दिए गए हैं ताकि पीड़ितों को यथाशीघ्र सहायता पहुंचाई जा सके। 

इस बीच सरयू नदी पर बने भिखारीपुर-सकरौर तटबंध के टूटने का खतरा मंडराने लगा है। बच्चीपुर माझा के पास स्पर नम्बर 2 और 3 खतरनाक स्थिति में पहुंच गये हैं। इसके साथ ही तटबंध के किलोमीटर 13.600 पर कई बड़े गड्ढे तथा रेनकट के कारण स्थिति नाजुक बनी हुई है। कई स्थानों पर तटबंध पर निर्मित सड़क और बांध की पटरी धंस गई है, जिससे गाड़ियों का आना-जाना मुश्किल हो गया है। 

इसके साथ ही निश्चिंत पुरवा व मदरही के सामने किमी नौ और 10 के बीच घाघरा नदी धीरे-धीरे कटान करते हुए बांध से मात्र 20 मीटर दूरी पर आ गई है। पिछले वर्ष भी यह तटबंध टूट जाने की वजह से कई गांवों में बाढ़ ने भीषण तबाही मचाई थी।