BREAKING NEWS

कर्नाटक में गिरी कुमारस्वामी सरकार, विश्वास प्रस्ताव के पक्ष पड़े 99 वोट , BJP पेश करेगी सरकार बनाने का दावा ◾येदियुरप्पा के शपथ लेने के बाद मुम्बई से लौटेंगे कर्नाटक के बागी विधायक◾कश्मीर के बारे में ट्रंप के प्रस्ताव पर भारत की प्रतिक्रिया से चकित हूं : इमरान खान ◾खुशी से पद छोड़ने को तैयार हूं : कुमारस्वामी ◾बोरिस जॉनसन बने ब्रिटेन के नए PM, यूरोपीय संघ से देश को बाहर निकालना होगी बड़ी चुनौती◾कश्मीर मुद्दे पर नरेंद्र मोदी और इमरान खान को मिलकर करनी चाहिए पहल - फारुख अब्दुल्ला◾Top 20 News 23 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾भाजपा ने ट्रंप के दावे पर विपक्ष के रूख को गैर जिम्मेदाराना बताया ◾कर्नाटक संकट: भाजपा ने कुमारस्वामी पर करदाताओं का पैसा बर्बाद करने का लगाया आरोप◾गृह मंत्रालय ने घटाई लालू यादव, चिराग पासवान समेत कई बड़े नेताओं की सुरक्षा◾SC ने NRC प्रकाशन की समय सीमा बढ़ाई, 20 फीसदी नमूनों के पुन: सत्यापन का अनुरोध ठुकराया◾PM मोदी देश को बताएं कि उनकी ट्रंप से क्या बात हुई थी : राहुल गांधी◾SC ने आम्रपाली समूह का रेरा पंजीकरण किया रद्द, NBCC को लंबित परियोजनाएं पूरी करने का निर्देश◾ट्रंप के दावे पर लोकसभा में विपक्षी सदस्यों का हंगामा, PM से जवाब देने की मांग की◾ट्रंप के बयान पर संसद में हंगामा, जयशंकर ने कहा- मोदी ने नहीं की मध्यस्थता की बात◾RTI कानून खत्म करना चाहती है सरकार, हर नागरिक होगा कमजोर : सोनिया गांधी ◾कश्मीर पर मध्यस्थता की ट्रंप की पेशकश का इमरान खान ने किया स्वागत, कहा- इसे दो पक्ष नहीं सुलझा सकते◾PM मोदी जवाब दें कि मध्यस्थता की पेशकश की या ट्रंप की बात झूठ है : कांग्रेस◾कश्मीर मुद्दे पर अमेरिका का यू-टर्न, बोला- ये भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा◾अखिलेश यादव को बड़ा झटका, ‘ब्लैक कैट’ सुरक्षा कवच वापस लेगा केंद्र◾

उत्तर प्रदेश

माता-पिता की सजा से बचने के लिए दो स्कूली छात्रों ने रची अपहरण की झूठी कहानी

राजधानी लखनऊ से एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है जिसमे 13 और 11 साल के दो नाबालिग लड़कों ने स्कूल नहीं जाने पर माता-पिता से सजा मिलने के डर से अपहरण की झूठी कहानी रच डाली। लखनऊ के सआदतगंज इलाके के रहने वाले दोनों लड़के सोमवार को स्कूल के लिए घर से निकले थे लेकिन दोनों ही छात्र घर एक मनगढ़ंत कहानी के साथ वापस लौटे। 

घर पहुंचकर दोनों ने अपने माता-पिता को बताया कि वे सुबह 7.30 बजे जब स्कूल जा रहे थे, तभी कार सवार एक शख्स ने उन्हें बुलाया। लड़कों ने आगे कहा, उस आदमी ने हम दोनों को कार के अंदर खींच लिया जिसमें पांच अन्य लोग पहले से ही सवार थे, उन लोगों ने हमारी आंखों पर पट्टी बांध दी। जब हम ठाकुरगंज के पास पहुंचे तो कार के शीशे को बोतल से तोड़ने में सफल रहे और मदद के लिए जोर- जोर से चिल्लाएं। उस समय ट्रैफिक के धीमे होने के कारण कार हल्की हो गई थी, जिस वजह से हम दोनों वहां से भागने में सफल हो पाऐ। 

लड़को की बात सुनकर घबराए माता-पिता ने पुलिस को सूचित किया। जानकारी पाते ही पुलिस ने अपहरणकर्ताओं का पता लगाने के लिए एक टीम बनाई। सआदतगंज के एसचओ महेश पाल सिंह ने कहा कि जब हमने इलाके के सीसीटीवी फुटेज को चेक किया, तब सच सामने आया। 

उन्होंने आगे बताया कि हमने ना लड़कों को देखा और ना ही किसी कार को। इसके बाद जब पुलिस ने लड़को से पूछताछ की तब लड़कों ने कबूल किया कि उन्होंने ही मनगढ़ंत कहानी बनाई थी, क्योंकि उन्होंने अपना होमवर्क नहीं किया था और स्कूल के लिए भी देर हो चुकी थी। एसएचओ ने दोनों लड़कों को भविष्य में ऐसा कोई भी ड्रामा ना करने की सलाह दी।