BREAKING NEWS

मिस्र के साथ भारत के नए सिरे से संबंध - 2 विकासशील देशों का एक परिप्रेक्ष्य◾कुश्ती विवाद में सूत्रों का दावा : खेल मंत्रालय निगरानी समिति में शामिल कर सकता है और सदस्य◾उपराष्ट्रपति धनखड़ ने मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी से की मुलाकात◾दिल्ली में अगले कुछ दिन भी छाये रहेंगे बादल, 29 जनवरी को हल्की बारिश की संभावना◾गणतंत्र दिवस समारोह : कर्तव्य पथ पर भारत की सैन्य ताकत, सांस्कृतिक धरोहर, नारी शक्ति का प्रदर्शन◾विश्व के नेताओं ने गणतंत्र दिवस की बधाई दी◾अभिनेता अन्नू कपूर गंगा राम अस्पताल में भर्ती, हालत स्थिर◾जम्मू-कश्मीर में जी20 की बैठक ‘मानवता के दुश्मनों के लिए संदेश’ : उपराज्यपाल मनोज सिन्हा◾सुप्रीम कोर्ट पहुंची शैली ओबेरॉय, MCD मेयर चुनाव को लेकर दाखिल की याचिका◾मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल फतेह अल सीसी ने गणतंत्र दिवस पर देखी भारत की ताकत◾Republic Day 2023: पुतिन ने देश को गणतंत्र दिवस की दी बधाई, कहा- भारत का योगदान महत्वपूर्ण◾JNU में BBC डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर विदेश राज्य मंत्री का बयान, कहा- 'किसी को भी भारत की संप्रभुता को रौंदने की अनुमति नहीं'◾74th Republic Day: पाक रेंजर्स ने BSF को खिलाई मिठाइयां, अटारी वाघा बॉर्डर पर गणतंत्र दिवस का जश्न◾ BBC की डॉक्यूमेंट्री बैन के फैसले पर अमेरिका ने तोड़ी चुप्पी, कहा- 'हम मीडिया की स्वतंत्रता का समर्थन करते हैं'◾Republic Day : कर्तव्य पथ पर भारत ने दिखाई अपनी ताकत, जमीन पर टैंकों की दहाड़, 'आसमान में गरजा राफेल'◾जेपी नड्डा के बेटे की जयपुर में हुई शादी, 28 जनवरी को बिलासपुर में होगा रिसेप्शन◾बिहटा में भीषण सड़क हादसा, स्कॉर्पियो ने 6 को रौंदा, दो की हुई मौत◾गणतंत्र दिवस परेड में दिखा स्वदेशी हथियारों की झलक, भारतीय तोप से 21 तोपों की सलामी◾बसंत पंचमी 2023: इन तीन छात्रों पर बरसेगी मां सरस्वती की कृपा,मिलेगी सफलता,बना खास योग करें ये उपाय◾ रामचरित मानस विवाद पर आग बगूला हुए रामभद्राचार्य कहा - स्वामी प्रसाद सठिया गए ◾

यूपी: CM योगी ने गुरु गोरखनाथ को चढ़ाई खिचड़ी, समूचे जनमानस की सुख समृद्धि के लिए मंगलकामना की

मकर संक्रांति के पावन पर्व पर गोरक्षपीठाधीश्वर एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को गोरखनाथ मंदिर में ब्रह्म मुहूर्त में महायोगी गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाई। इस दौरान उन्होंने समूचे जनमानस की सुख समृद्धि के लिए मंगलकामना की। 

देश में अलग-अलग भागों में अलग नाम रूप में मनाया जाता है 

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि संक्राति का पावन पर्व है। इस अवसर पर पूर्वी यूपी और देश के विभिन्न भागों से आए लोग गोरखनाथ को आस्था की खिचड़ी चढ़ाई जा रही है। हम सब जानते हैं कि भारत के धार्मिक परंपरा में मकर संक्राति का अपना महत्व हो। यह देश के अलग-अलग भागों में अलग नाम रूप में मनाया जाता है। इसे लोग बहुत श्रद्धा से मनाते है। मकर संक्राति से शुभ कार्यों की शुरूआत होती है।  

भगवान सूर्य आज से उत्तरायण में प्रवेश करते हैं। सूर्यदेव के उत्तरायण होने पर खिचड़ी चढ़ाने की यह अनूठी परंपरा पूरी तरह लोक आस्था को समर्पित है। गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी के रूप में चढ़ाए जाने वाला अन्न पूरे वर्ष जरूरतमंदों में वितरित किया जाता है। 

योगी ने खिचड़ी चढ़ाकर बाबा को भोग अर्पित किया 

इस दिन उत्तर प्रदेश, बिहार व देश के विभिन्न भागों के साथ-साथ पड़ोसी राष्ट्र नेपाल से भी कुल मिलाकर लाखों की तादाद में श्रद्धालु शिव अवतारी बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाएंगे। आनुष्ठानिक कार्यक्रमों का शंखनाद शनिवार भोर में हो गया। सुबह चार बजे सबसे पहले गोरक्षपीठ की तरफ से पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ खिचड़ी चढ़ाकर बाबा को भोग अर्पित किया। इसके बाद नेपाल राज परिवार की ओर से आई खिचड़ी बाबा को चढ़ेगी। 

हिमांचल के कांगड़ा जिले के ज्वाला देवी मंदिर गए 

बाबा गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने की यह परंपरा सदियों पुरानी है। मान्यता है कि त्रेता युग में सिद्ध गुरु गोरक्षनाथ भिक्षाटन करते हुए हिमांचल के कांगड़ा जिले के ज्वाला देवी मंदिर गए। यहां देवी प्रकट हुई और गुरु गोरक्षनाथ को भोजन का आमंत्रित दिया। वहां तामसी भोजन देखकर गोरक्षनाथ ने कहा, मैं भिक्षाटन में मिले चावल-दाल को ही ग्रहण करता हूं। इस पर ज्वाला देवी ने कहा, मैं चावल-दाल पकाने के लिए पानी गरम करती हूं। आप भिक्षाटन कर चावल-दाल लाइए। 

एक मनोरम जगह पर अपना अक्षय भिक्षापात्र रखा  

गुरुगोरक्षनाथ यहां से भिक्षाटन करते हुए हिमालय की तराई स्थित गोरखपुर पहुंचे। उस समय इस इलाके में घने जंगल थे। यहां उन्होंने राप्ती और रोहिणी नदी के संगम पर एक मनोरम जगह पर अपना अक्षय भिक्षापात्र रखा और साधना में लीन हो गए। इस बीच खिचड़ी का पर्व आया। एक तेजस्वी योगी को साधनारत देख लोग उसके भिक्षापात्र में चावल-दाल डालने लगे, पर वह अक्षयपात्र भरा नहीं।  

गोरक्षनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने आते हैं 

इसे सिद्ध योगी का चमत्कार मानकर लोग अभिभूत हो गए। उसी समय से गोरखपुर में गुरु गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा जारी है। इस दिन हर साल नेपाल-बिहार व पूर्वाचल के दूर-दराज इलाकों से श्रद्धालु गुरु गोरक्षनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने आते हैं। पहले वे मंदिर के पवित्र भीम सरोवर में स्नान करते हैं। खिचड़ी मेला माह भर तक चलता है। इस दौरान के हर रविवार और मंगलवार का खास महत्व है। इन दिनों मंदिर में भारी संख्या में श्रद्धालु आते हैं।