BREAKING NEWS

जलवायु परिवर्तन पर ‘बेसिक’ देशों को एक सुर में आवाज उठानी होगी : जावड़ेकर ◾BJP सरकार का रवैया नकारात्मक, अमेठी-मैनपुरी में सैनिक स्कूल की स्थापना समाजवादी सरकार में हुई : अखिलेश◾MP : मुख्यमंत्री कमलनाथ उज्जैन मंदिर को दे सकते हैं 300 करोड़ की सौगात ◾TOP 20 NEWS 17 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ AIIMS अस्पताल में लगी भीषण आग, अभी तक कोई हताहत नहीं◾जेटली जीवन रक्षक प्रणाली पर : नीतीश, पीयूष गोयल समेत अन्य नेता हाल जानने एम्स पहुंचे ◾PM मोदी : भूटान का पड़ोसी होना सौभाग्य कि बात, भूटान कि पंचवर्षीय योजनाओं में करेंगे सहयोग◾पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾AAP के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल◾चिदंबरम बोले- मीर को नजरबंद करना गैरकानूनी, नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें अदालतें◾राजनाथ के आवास पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक शुरू, शाह समेत कई मंत्री मौजूद◾भूटान पहुंचे मोदी का PM लोटे ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर◾शरद पवार बोले- पता नहीं राणे का कांग्रेस में शामिल होने का फैसला गलत था या बड़ी भूल◾उत्तर कोरिया ने किया नए हथियार का परीक्षण, किम ने जताया संतोष◾12 दिन बाद आज से घाटी में फोन और जम्मू समेत कई इलाकों में 2G इंटरनेट सेवा बहाल◾राम माधव बोले- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को मिलेगा देश के कानूनों के अनुसार लाभ◾वित्त मंत्रालय के अधिकारियों संग PMO की बैठक आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा◾कोविंद, शाह और योगी जेटली को देखने AIIMS पहुंचे, जेटली की हालत नाजुक : सूत्र ◾

उत्तर प्रदेश

उप्र : मछली पकड़ते समय साइफन में फंसी डॉलफिन

उत्तर प्रदेश : बहराइच जिले में सरयू नदी में मछली पकड़ते समय नदी पर बने साइफन में एक डॉलफिन फंस गई। ग्रामीणों की नज़र पड़ते ही लोगों ने इसकी सूचना तुरंत वन विभाग को दी। मौके पर पहुंचे वन कर्मियों ने ग्रामीणों की मदद से फांसी डॉलफिन को साइफन से निकाल कर फिर से उसे नदी में छोड़ दिया।

वन विभाग के सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बहराइच जिले  के महसी तहसील इलाके में जैतापुर गांव के निकट सरयू नदी की साइफन है, जहां रविवार को मछली पकड़ने के दौरान एक डॉलफिन साइफन में फंस गई थी।  कैसरगंज रेंज के वन क्षेत्राधिकारी नदीम, वन दरोगा जहीरुद्दीन मौके पर पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों की मदद से डॉलफिन को साइफन से बाहर निकालकर उसे महसी तहसील के घूरदेवी स्थित घाघरा नदी में छोड़ दिया। वन क्षेत्राधिकारी नदीम ने बताया कि डाल्फिन की उम्र काफी कम थी और उसका वजन लगभग 37 किलो था। 

श्री नदीम ने बताया कि एक सामान्य डाल्फिन जमीन पर सिर्फ 4 मिनट 13 सेकेंड जीवित रह सकती है। यदि उसने इससे ज्यादा समय जमीन पर व्यतीत किया होता तो पानी के अभाव से  उसकी मौत हो सकती थी इसलिए हमने उसे  तुरंत पकड़कर घाघरा नदी में छोड़ दिया। इस बीच कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के डीएफओ जीपी सिंह ने बताया कि डॉलफिन घाघरा नदी में मिलती है। क्योंकि घाघरा नदी सीधे गंगा नदी की शाखा से जुड़ हुई है। जिसमें महसी, कैसरगंज का जरवलरोड, मिहींपुरवा का जालिमनगर के अलावा कौड़याला व गेरुआ नदी में भी इसकी मात्रा पायी जाती है।