कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने रविवार को यहां कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में सपा, बसपा और रालोद गठबंधन के लिए सात सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। राज बब्बर ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि कांग्रेस मैनपुरी, कन्नौज, फिरोजाबाद, बागपत, मुजफ्फरनगर के साथ ही मायावती व अखिलेश यादव के खिलाफ अपने प्रत्याशी नहीं उतारेगी।

 उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में अपना दल (कृष्णा पटेल) के साथ गठबंधन के तहत उनके लिए भी दो सीटों  छोड़ दी हैं। ये सीटों गोंडा व पीलीभीत हैं।’ राज बब्बर ने कहा, ‘जन अधिकार पार्टी से हमारा सात सीटों के लिए समझौता हुआ है, जिसमें पांच सीटों पर वे अपने चुनाव चिन्ह पर लड़ेंगे और दो सीटों हमारे चुनाव चिन्ह पर लड़ेंगे।’

उन्होंने बताया कि पांच सीटों में झांसी, चंदौली, एटा, बस्ती और एक कोई सीट पूर्वांचल या पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हो सकती है। जबकि गाजीपुर कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर तथा इसी तरह दूसरी सीटबाद में तय की जाएगी। शिवपाल यादव से गठबंधन के सवाल पर राज बब्बर ने कहा, ‘अभी गठबंधन चल रहे हैं और बातें हो रही हैं। जहां भाजपा को फायदा होता है, वहां हमें चार बार सोचना है कि ऐसी कोई सीट उनके लिए मजबूत नहीं करेंगे, किसी भी तरह से भाजपा को मदद नहीं पहुंचाएंगे।’