BREAKING NEWS

कोरोना वायरस : देश में संक्रमितों की संख्या 3,300 के पार, 77 लोगों के मौत की पुष्टि ◾अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण मामलों की संख्या 3 लाख के पार हुई, इटली में 15362 लोगों की मौत ◾कोविड-19: दिल्ली में संक्रमण के मामले बढ़कर हुए 445, उनमें से 301 लोग हुए थे निजामुद्दीन के कार्यक्रम में शामिल ◾लॉकडाउन : शहर में फंसे विदेशियों के लिए ट्रांजिट पास जारी करेगी दिल्ली सरकार◾ कोरोना वायरस : राष्ट्रपति ट्रम्प ने दी मास्क पहन कर घर से बाहर निकलने की सलाह, खुद नहीं पहनेंगे मास्क ◾PM मोदी ने की उच्चाधिकार प्राप्त समूहों की संयुक्त बैठक की अध्यक्षता◾तिहाड़ जेल कैदियों ने जेल में ही बना डाले 75000 मास्क, सेनेटाइजर◾महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र आव्हाड का दावा : गृह मंत्रालय ने ही दी थी तबलीगी जमात को अनुमति◾कोविड-19 का प्रकोप : दुनियाभर में कोरोना के मामले 11 लाख के पार, 59 हजार से अधिक लोगों की मौत ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3,072 तक पहुंची, अब तक 75 लोगों की मौत ◾दिल्ली में 445 लोग COVID-19 से संक्रमित, और बढ़ सकते हैं मामलें : CM केजरीवाल◾तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद ने क्राइम ब्रांच को भेजा जवाब, कहा- अभी सेल्फ क्वारनटीन में हूं, बाकी सवाल बाद में◾स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान : देश के कुल कोरोना संक्रमित मामलों में 30 फीसदी तबलीगी जमात के लोग◾राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾कोविड-19 पर सरकार ने जारी किया परामर्श, चेहरे और मुंह के बचाव के लिए घर में बने सुरक्षा कवर का करे प्रयोग◾जानिये क्यों, पीएम की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील के बाद अलर्ट मोड पर है बिजली विभाग की कंपनियां◾तबलीगी जमातियों पर भड़के राज ठाकरे,कहा- ऐसे लोगों को गोली मार देनी चाहिए ◾PM मोदी ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता को शेयर करते हुए कहा- आओ दीया जलाएं◾देश में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, गौतम बुद्ध नगर में वायरस के 5 नए मामले आए सामने ◾PM मोदी की दीया अपील पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया, कहा- दोबारा सोचने की है जरुरत ◾

सरकारी डॉक्टर को डांटते हुए अखिलेश यादव का वीडियो हुआ वायरल, BJP ने बताया शर्मनाक

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा एक अस्पताल में कथित तौर पर सरकारी डॉक्टर को फटकार लगाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। बीजेपी ने इसे शर्मनाक बताया। अखिलेश एक बस हादसे में घायल हुए लोगों से मिलने अस्पताल पहुंचे थे। उन्हें वीडियो में सरकारी डॉक्टर से कहते सुना जा रहा है, ''तुम सरकार के आदमी हो, तुम्हें नहीं बोलना चाहिए। तुम सरकार का पक्ष नहीं ले सकते।'' 

उन्हें आपात चिकित्सा अधिकारी डी एस मिश्रा से कहते सुना जा सकता है, ''तुम बहुत छोटे अधिकारी हो। बहुत छोटे कर्मचारी हो। आरएसएस के हो सकते हो। बीजेपी के हो सकते हो .... दूर हो जाओ यहां से। एकदम दूर हो जाओ। हट जाओ यहां से। बाहर भागो यहां से।'' इस पर मिश्रा ने कहा, ''वह (अखिलेश यादव) मरीजों का हालचाल ले रहे थे। पूछ रहे थे कि चैक मिला कि नहीं। मैंने सफाई देनी चाही कि साहब चैक मिला है। ये भाग जाते हैं घर। 

इस पर (वह) भड़क गये एकदम से। कहा भाग जाइये ... हम इमरजेंसी डयूटी पर थे और हमसे कहा कि निकल जाइये।’’ उन्होंने कहा कि वह मरीजों का इलाज कर रहे थे। एक मरीज ने कहा कि उसे मुआवजे का चैक नहीं मिला है। मैंने सफाई देने की कोशिश की तो सपा अध्यक्ष ने चले जाने को कहा। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने इस घटना पर कहा, ''बहुत शर्म की बात है कि उत्तर प्रदेश जैसे राज्य के मुख्यमंत्री के पद पर रह चुके अखिलेश यादव जैसे व्यक्ति ने एक बुजुर्ग आपात चिकित्सा अधिकारी को अकारण बेइज्जत किया।'' 

जय प्रताप सिंह ने कहा, ''ये समझ के परे है कि इतने नीचे स्तर पर अखिलेश जाएंगे और इस तरह की भाषा का उपयोग करेंगे। वह डॉक्टर वहां डयूटी पर थे और घायलों की देखरेख भी कर रहे थे। मरीजों को जो पैसा सरकार की तरफ से मिलना था, वह भी दिलवाया जा रहा था।'' मंत्री ने कहा कि इसके बावजूद भी अखिलेश ने इस तरह की भाषा का प्रयोग करके किसी एक संस्था या किसी एक दल से जोड़ते हुए इस तरह की बात की है जो बहुत ही शर्म की बात है। उन्होंने कहा, ‘‘इतने निचले स्तर पर गिरकर बात करना राजनीति के खिलाफ ही जाता है और इनके खिलाफ भी जाएगा।’’