BREAKING NEWS

राम मंदिर भूमिपूजन पर मनीष तिवारी ने देशवासियों को दी शुभकामनाएं, ट्वीट किया महात्मा गांधी का भजन◾आतंकवाद को लेकर UN में भारत ने PAK को घेरा, कहा-आतंकियों का गढ़ है पाकिस्तान◾World Corona : विश्व में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 81 लाख के पार◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या साढ़े 18 लाख के पार, अब तक करीब 39 हजार लोगों की मौत◾LAC तनाव : भारत का चीन को स्पष्ट संदेश- क्षेत्रीय अखंडता के साथ कोई समझौता नहीं◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ में पाकिस्तान ने मोर्टार से गोले दागकर संघर्ष विराम का किया उल्लंघन ◾दिग्विजय सिंह ने राम मंदिर शिलान्यास की तिथि को बताया अशुभ मुहुर्त, PM मोदी से टालने का किया अनुरोध ◾कोविड-19 : देश में संक्रमण के मामले 18 लाख के पार, स्वस्थ होने वालों की संख्या 11.86 लाख हुई◾पीएम मोदी, राजनाथ, नड्डा ने रक्षा बंधन पर दी देशवासियों को शुभकामनाएं ◾दिल्लीः उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री केजरीवाल ने रक्षाबंधन की बधाई दी ◾सुशांत राजपूत मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंचे IPS विनय तिवारी को बीएमसी ने किया क्वारनटीन◾कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा भी कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में कराए गए भर्ती◾विदेशों से आने वाले यात्रियों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए गाइडलाइन्स जारी किए ◾बिहार में बाढ़ की स्थिति और बिगड़ी, 53.67 लाख लोग बेहाल और जनजीवन बुरी तरह प्रभावित◾आईपीएल के लिए सरकार ने दी हरी झंडी, फाइनल 10 नवंबर को, चीनी प्रायोजक बरकरार ◾महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 4.41 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 9,509 नए केस◾ममता बनर्जी समेत अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के जल्द स्वस्थ होने की कामना की◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रेम और भाईचारे के त्योहार रक्षाबंधन के अवसर पर देशवासियों को दी शुभकामनाएं◾तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित कोरोना पॉजिटिव पाए गए◾8 महीने बाद भी लटका है CAA , गृह मंत्रालय ने नियम बनाने के लिए तीन और महीने का समय मांगा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

STF की गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे ने की भागने की कोशिश, एनकाउंटर में मारा गया हिस्ट्रीशीटर

उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी विकास दुबे को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विकास दुबे को कानपुर ला रही एसटीएफ के काफिले की गाड़ी रास्ते में पलट गयी। कानपुर के बर्रा थाना क्षेत्र के पास घटित इस घटना में विकास दुबे गंभीर रूप से घायल हो गए थे।  पुलिस के मुताबिक इस हादसे के बाद विकास ने हथियार लेकर भागने की कोशिश की।

कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया कि सड़क हादसे के बाद कुख्यात अपराधी विकास दुबे ने भागने की कोशिश की और मुठभेड़ में मारा गया, इस दौरान कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए है। भागने के दौरान विकास दुबे और पुलिस के बीच मुठभेड़  हुई और क्रॉस फायरिंग में विकास दुबे मारा गया ।

उन्होने बताया कि गुरूवार को मध्यप्रदेश के उज्जैन में गिरफ्तार हुये विकास को पुलिस अभिरक्षा में सड़क मार्ग से कानपुर ला रहा था। उसे सुबह दस बजे अदालत में पेश करना था। संचेडी क्षेत्र तक सब कुछ ठीकठाक था लेकिन बर्रा क्षेत्र में पुलिस का वह वाहन पलट गया। वाहन पलटते ही विकास ने भागने की कोशिश की जिस पर पुलिस दल ने फायरिंग की। इस घटना में गंभीर रूप से घायल हिस्ट्रीशीटर को निजी अस्पताल मे भर्ती कराया गया है जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

गौरतलब है कि कानपुर में चौबेपुर के बिकरू गांव में पिछली दो जुलाई की रात को विकास और उसके साथियों ने आठ पुलिसकर्मियों की गोली मार कर हत्या कर दी थी। इस सिलसिले में पुलिस अब तक विकास के पांच साथियों को ढेर कर चुकी है। विकास की कल उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर से नाटकीय ढंग से गिरफ्तारी की गयी थी। पुलिस दल उसे लेने चार्टर प्लेन से उज्जैन गया था लेकिन वापसी में उसे सड़क मार्ग से लाने का फैसला किया गया।

महाकाल मंदिर के बाहर फूल-प्रसाद बेचने वाले दुकानदार राजेश माली उर्फ सुरेश माली ने दुबे को बृहस्पतिवार सुबह करीब सात बजे सबसे पहले पहचाना और उसकी दी गई सूचना के आधार पर ही दुबे को बाद में गिरफ्तार किया गया। वहीं गुरुवार को शाम को उसकी पत्नी और बेटे को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार पत्नी ऋचा और बेटे को पुलिस ने लखनऊ के कृष्णा नगर इलाके से उठाया है और इन्हें पूछताछ के लिए किसी अज्ञात जगह पर ले गई । इसके साथ ही विकास के नौकर को महेश को भी पुलिस ने पकड़ लिया । एसटीएफ सूत्रों के अनुसार, पुलिस विकास की पत्नी, बेटे व नौकर महेश को कानपुर ले जाने की तैयारी कर रही है। तीनों से एसटीएफ पूछताछ कर रही है।

बताया जा रहा है कि ऋचा विकास दुबे का समर्थन करके उसके अपराध में सहयोगी थी और यहां तक कि वह उसे लॉजिस्टिक सपोर्ट भी मुहैया कराती थी। वह घटना के बाद से लापता हो गई थी। एसटीएफ सूत्रों का कहना है कि कानपुर में पूछताछ के दौरान उसका सामना विकास से करवाया जाएगा।

इससे पहले एसटीएफ कृष्णानगर गई थी, लेकिन वह ऋचा और उसके बेटे को ढूंढ नहीं पाई थी। हालांकि गुरुवार को एसटीएफ के अधिकारियों ने मामले में टिप्पणी करने से इनकार कर दिया, लेकिन पड़ासियों ने बताया कि दोनों को पुलिस उठा कर ले गई।