BREAKING NEWS

ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो की मौजूदगी में भारत ने मनाया 71वां गणतंत्र दिवस ◾71वां गणतंत्र दिवस के मोके पर राष्ट्रपति कोविंद ने राजपथ पर फहराया तिरंगा◾गणतंत्र दिवस पर सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का होगा भव्य प्रदर्शन◾अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई ◾पूर्व मंत्रियों अरूण जेटली, सुषमा स्वराज और जार्ज फर्नांडीज को पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, देखें पूरी लिस्ट !◾कोरोना विषाणु का खतरा : करीब 100 लोग निगरानी में रखे गए, PMO ने की तैयारियों की समीक्षा◾गणतंत्र दिवस : चार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास कुछ घंटों के लिए रहेगा बंद ◾ISRO की उपलब्धियों पर सभी देशवासियों को गर्व है : राष्ट्रपति ◾भाजपा ने पहले भी मुश्किल लगने वाले चुनाव जीते हैं : शाह◾यमुना को इतना साफ कर देंगे कि लोग नदी में डुबकी लगा सकेंगे : केजरीवाल◾उमर की नयी तस्वीर सामने आई, ममता ने स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया◾ओम बिरला ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को दी बधाई◾भारत और ब्राजील आतंकवाद के खिलाफ आपसी सहयोग बढ़ाने का किया फैसला◾370 के खात्मे के बाद कश्मीर में शान से फहरेगा तिरंगा : अमित शाह◾देशवासियों को बांटने, संविधान को कमजोर करने की हो रही साजिश : सोनिया◾PM मोदी और नेतन्याहू ने फोन पर वैश्विक और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की◾गांधी शांति यात्रा पहुंची आगरा ◾भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचा कोरोना वायरस, बॉर्डर पर होगी स्क्रीनिंग◾ दिल्ली चुनाव : 250 नेता, हर दिन 500 जनसभाएं, इस तरह माहौल बनाने में जुटी है भाजपा◾

जब लोकसभा में मुलायम सिंह ने पूछा ... ‘‘सत्ता पक्ष कहां है''

लोकसभा में सपा नेता मुलायम सिंह यादव ने बृहस्पतिवार को सदन में सत्ता पक्ष के सदस्यों की संख्या कम होने का उल्लेख करते हुए पूछा कि ‘‘ सत्ता पक्ष कहां है।’’ 

शून्यकाल के दौरान सपा नेता मुलायम सिंह अचानक अपनी सीट से उठे और उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से अपनी बात रखने की अनुमति मांगते हुए सदन में सत्ता पक्ष की सीटों की ओर इशारा किया। 

सपा नेता ने पूछा, ‘‘ सत्ता पक्ष कहां है। ’’ 

इस पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा, ‘‘दो कैबिनेट मंत्री हैं.. डॉ हर्षवर्द्धन हैं, मुख्तार अब्बास नकवी बैठे हैं।’’ 

बिरला ने कहा, ‘‘और सबका संरक्षण करने के लिये मैं बैठा हूं।’’ 

उस दौरान निचले सदन में दोपहर 1 बजकर 5 मिनट पर सत्ता पक्ष के करीब 60 और विपक्ष के लगभग 50 सदस्य मौजूद थे।