BREAKING NEWS

KKR vs DC : वरुण की फिरकी में फंसी दिल्ली, 59 रनों से जीतकर टॉप-4 में बरकरार कोलकाता ◾महबूबा मुफ्ती के घर गुपकार बैठक, फारूक बोले- हम भाजपा विरोधी हैं, देशविरोधी नहीं◾भाजपा पर कांग्रेस का पलटवार - राहुल, प्रियंका के हाथरस दौरे पर सवाल उठाकर पीड़िता का किया अपमान◾बिहार में बोले जेपी नड्डा- महागठबंधन विकास विरोधी, राजद के स्वभाव में ही अराजकता◾फारूक अब्दुल्ला ने 700 साल पुराने दुर्गा नाग मंदिर में शांति के लिए की प्रार्थना, दिया ये बयान◾नीतीश का तेजस्वी पर तंज - जंगलराज कायम करने वालों का नौकरी और विकास की बात करना मजाक ◾ जीडीपी में गिरावट को लेकर राहुल का PM मोदी पर हमला, कहा- वो देश को सच्चाई से भागना सिखा रहे है ◾बिहार में भ्रष्टाचार की सरकार, इस बार युवा को दें मौका : तेजस्वी यादव ◾महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कोरोना पॉजिटिव , ट्वीट कर के दी जानकारी◾होशियारपुर रेप केस पर सीतारमण का सवाल, कहा- 'राहुल गांधी अब चुप रहेंगे, पिकनिक मनाने नहीं जाएंगे'◾भारतीय सेना ने LoC के पास मार गिराया चीन में बना पाकिस्तान का ड्रोन क्वाडकॉप्टर◾ IPL-13 : KKR vs DC , कोलकाता और दिल्ली होंगे आमने -सामने जानिए आज के मैच की दोनों संभावित टीमें ◾दिल्ली की वायु गुणवत्ता 'बेहद खराब' श्रेणी में बरकरार, प्रदूषण का स्तर 'गंभीर'◾पीएम मोदी,राम नाथ कोविंद और वेंकैया नायडू ने देशवासियों को दुर्गाष्टमी की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने गुजरात में 3 अहम परियोजनाओं का किया उद्घाटन ◾RJD ने 'प्रण हमारा संकल्प बदलाव का' के वादे के साथ जारी किया घोषणा पत्र, तेजस्वी ने नीतीश पर साधा निशाना ◾महबूबा मुफ्ती के देशद्रोही बयान देने के बाद भाजपा ने की उनकी गिरफ्तारी की मांग ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का हाहाकार, पॉजिटिव केस 4 करोड़ 20 लाख के पार◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 78 लाख के पार, एक्टिव केस 6 लाख 80 हजार◾पाकिस्तान को FATF 'ग्रे लिस्ट' में रहने पर बोले कुरैशी- ये 'भारत के लिए हार' ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आखिर क्यों बुलगड़ी गांव छोड़ना चाहता है हाथरस पीड़िता का परिवार ?

हाथरस में कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म का शिकार होने और पखवाड़े भर बाद इलाज के दौरान दम तोड़ देने वाली 19 वर्षीय दलित लड़की का परिवार अब उस बुलगड़ी गांव को छोड़कर जाना चाहता है, जो कई पीढ़ियों से उनका घर रहा है। गांव में ऊंची जाति के लगभग 60 परिवार और चार दलित परिवार हैं। आरोपी ऊंची जातियों के हैं और उनका समुदाय उनके लिए समर्थन करता रहा है।

पीड़िता के बड़े भाई ने कहा, "पुलिस और मीडिया के चले जाने के बाद यहां रुकना असंभव होगा। अगर हम कहीं और चले गए तो यह हमारे लिए ठीक होगा।" उन्होंने कहा कि अगर मामला दिल्ली ट्रांसफर किया जाता है, जैसा कि उन्होंने अदालत में गुहार लगाई है, तो वे राष्ट्रीय राजधानी में शिफ्ट होना चाहेंगे। उन्होंने सरकार से उन्हें दूसरी जगह जाने में मदद करने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा, "हम हाथरस से दूर जाकर फिर से शुरूआत करना चाहते हैं। परिवार ने 12 अक्टूबर को इलाहाबाद हाईकोर्ट के समक्ष उत्तर प्रदेश से दिल्ली शिफ्ट होने का अनुरोध किया था और हमें उम्मीद है कि हमारी याचिका स्वीकार कर ली जाएगी।" हालांकि, उनके घर पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है, पीड़िता परिवार ने मिलने गए नेताओं से कहा है कि वे अपने गांव में सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे और हर तरफ से दबाव डाला जा रहा है। 

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्र शेखर, जिन्होंने इस महीने की शुरूआत में परिवार का दौरा किया था, ने कहा, "मुझे उन्हें अपने घर में रखना होगा, अगर राज्य के अधिकारी उन्हें पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहते हैं।" 

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने शनिवार को ट्वीट किया कि वह दिल्ली में परिवार को अपने साथ रखने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा, "मैंने इस संबंध में पीड़िता के चाचा से बात की है।"

UP के ग्रेटर नोएडा में नहर के पास एलियन जैसी चीज देख अचम्भे में आये लोग