BREAKING NEWS

अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत पर निर्मला सीतारमण बोली- भारत की आर्थिक स्थिति बेहतर◾सरकार के आर्थिक सलाहकारों ने भी माना कि संकट में है अर्थव्यवस्था : राहुल गांधी◾पेरिस में PM मोदी का संबोधन, बोले-हिंदुस्तान में अब टेंपरेरी के लिए व्यवस्था नहीं◾ईडी मामले में चिदंबरम को मिली राहत, 26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी◾एफएटीएफ के एशिया प्रशांत समूह ने पाकिस्तान को काली सूची में डाला◾पश्चिम बंगाल : मंदिर में दीवार गिरने से मची भगदड़ में 4 की मौत, ममता बनर्जी ने किया मुआवजा का ऐलान◾मनमोहन सिंह ने राज्यसभा सदस्य के रूप में ली शपथ◾दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ चिदंबरम की याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा SC◾SC ने ट्रिपल तलाक को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस ◾कपिल सिब्बल बोले- अर्थव्यवस्था और नागरिकों की आजादी के मकसद को प्रोत्साहन पैकेज की जरूरत◾जयराम रमेश के बाद बोले सिंघवी- मोदी को खलनायक की तरह पेश करना गलत◾जानिए कैसे हुआ आईएनएक्स मीडिया मामले का खुलासा !◾प्रह्लाद जोशी बोले- यदि चिदंबरम बेकसूर हैं तो कांग्रेस को नहीं करनी चाहिए चिंता◾भारत, पाकिस्तान को कश्मीर मुद्दे का द्विपक्षीय ढंग से समाधान निकालना चाहिए : मैक्रों ◾PM मोदी ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों के साथ बातचीत की ◾योगी आदित्यनाथ ने किया मंत्रियों के विभागों का बंटवारा ◾बहरीन में 200 साल पुराने मंदिर की पुनर्निर्माण परियोजना का शुभारंभ करेंगे PM मोदी◾आईएनएक्स मीडिया मामला बना चिदंबरम की परेशानी का सबब ◾शरद पवार, अन्य के खिलाफ बैंक घोटाला मामले में FIR दर्ज करने का आदेश◾आजम खान की याचिका सुनवाई 29 अगस्त को ◾

उत्तर प्रदेश

सोनभद्र जाने पर अड़ीं प्रियंका गांधी ,जमानत लेने से किया इनकार, बोलीं- जेल जाने को तैयार हूं

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने से रोके जाने के बाद से पिछले कई घण्टों से धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार रात कहा कि वह किसी भी सूरत में जमानत नहीं लेंगी क्योंकि उन्होंने कोई अनैतिक कार्य नहीं किया है। 

उन्होंने यह भी कहा कि वह पीड़ित परिवारों से मिलकर ही जाएंगी चाहे उन्हें भले ही जेल में डाल दिया जाए। 

प्रियंका ने ट्वीट कर कहा, ''मैं नरसंहार का दंश झेल रहे गरीब आदिवासियों से मिलने, उनकी व्यथा-कथा जानने आयी हूँ। जनता का सेवक होने के नाते यह मेरा धर्म है और नैतिक अधिकार भी। उनसे मिलने का मेरा निर्णय अडिग है।'' 

उन्होंने दावा किया, 'उत्तर प्रदेश प्रशासन द्वारा मुझे पिछले 9 घंटे से गिरफ़्तार करके चुनार किले में रखा हुआ है। प्रशासन कह रहा है कि मुझे 50,000 की जमानत देनी है अन्यथा मुझे 14 दिन के लिए जेल की सज़ा दी जाएगी, मगर वे मुझे सोनभद्र नहीं जाने देंगे ऐसा उन्हें ‘ऊपर से ऑर्डर है’।'

 

कांग्रेस महासचिव ने कहा, ''मैंने न कोई क़ानून तोड़ा है न कोई अपराध किया है। मैंने सुबह से स्पष्ट किया था कि प्रशासन चाहे तो मैं अकेली उनके साथ पीड़ित परिवारों से मिलने आदिवासियों के गाँव जाने को तैयार हूँ या प्रशासन जिस तरीके से भी मुझे उनसे मिलाना चाहता है मैं तैयार हूँ। इसके बावजूद उप्र सरकार ने यह तमाशा किया हुआ है। जनता सब देख रही है। '

उन्होंने कहा, ''मैं इस संदर्भ में जमानत को अनैतिक मानती हूँ और इसके लिए तैयार नहीं हूँ। मेरी साफ माँग है कि मुझे पीड़ित आदिवासियों से मिलने दिया जाय। सरकार को जो उचित लगे वह करे।'' 

प्रियंका ने यह भी कहा कि 'अगर सरकार पीड़ितों से मिलने के अपराध के लिए मुझे जेल में डालना चाहें तो मैं इसके लिए पूरी तरह से तैयार हूँ।' 

उधर, कांग्रेस ने कुछ वीडियो जारी कर दावा किया है कि प्रियंका को जिस गेस्टहाउस में रखा गया है वहां की बिजली काट दी गयी है। 

गौरतलब है कि प्रियंका को शुक्रवार को सोनभद्र जाने से प्रशासन ने रोक दिया। वह बुधवार को हुए इस सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने जा रहीं थी। 

प्रियंका प्रशासन के इस कदम के विरोध में धरने पर बैठ गईं। बाद में उन्हें चुनार गेस्ट हाउस ले जाया गया। पिछले दिनों सोनभद्र में जमीन विवाद में एक ग्राम प्रधान ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर कथित रूप से दूसरे पक्ष पर गोलीबारी की जिसमें 10 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।