BREAKING NEWS

UP News: योगी पर प्रहार करते हुए अखिलेश यादव बोले- यूपी को किया तहस नहस! शिक्षा व्यवस्था पर भी कसा तंज◾ Gyanvapi Case: सोमवार को हिंदू और मुस्लिम पक्ष को मिलेंगी सर्वे की वीडियो और फोटो◾ RR vs RCB ipl 2022: राजस्थान ने टॉस जीतकर किया गेंदबाजी का फैसला, यहां देखें दोनों टीमों की प्लेइंग XI◾नेहरू की पुण्यतिथि पर राहुल गांधी का मोदी पर प्रहार, बोले- 8 सालों में भाजपा ने लोकतंत्र को किया कमजोर◾Sri Lanka crisis: आर्थिक संकट के चलते श्रीलंका में निजी कंपनियां भी कर सकेगी तेल आयात◾ नजर नहीं है नजारों की बात करते हैं, जमीं पे चांद सितारों की बात करते...शायराना अंदाज में योगी का विपक्ष पर निशाना ◾मंकीपॉक्स की चपेट में आए 20+ देश! जानें कैसे फैल रही यह बिमारी.. WHO ने दी अहम जानकारियां ◾Ladakh Accident News: लद्दाख के तुरतुक में हुआ खौफनाक हादसा, सेना की गाड़ी श्योक नदी में गिरी, 7 जवानों की हुई मौत◾ कर्नाटक में हिन्दू लड़के को मुस्लिम लड़की से प्यार करने की मिली सजा, नाराज भाईयों ने चाकू से गोदकर की हत्या◾कांग्रेस को मझदार में छोड़ अब हार्दिक पटेल कर रहे BJP के जहाज में सवारी की तैयारी? दिए यह बड़े संकेत ◾RBI ने कहा- खुदरा महंगाई पर दबाव डाल सकती है थोक मुद्रास्फीति की ऊंची दर◾ SC से सपा नेता आजम खान को राहत, जौहर यूनिवर्सिटी के हिस्सों को गिराने की कार्रवाई पर रोक◾आर्यन खान केस में पूर्व निदेशक की जांच में थी गलतियां.. NCB ने कबूली यह बात, जानें वानखेड़े की प्रतिक्रिया ◾ शेख जफर से बना चैतन्य सिंह राजपूत...,MP के मुस्लिम शख्स ने अपनाया सनातन धर्म ◾कांग्रेस में फिर दोहरा रहा इतिहास? पंजाब की तरह राजस्थान में CM गहलोत के खिलाफ बन रहा माहौल... ◾ J&K : TV एक्ट्रेस अमरीन भट्ट के परिजनों से मिलीं महबूबा मुफ्ती, बोलीं- बेगुनाहों का खून बहाना रोज का मामूल बन गया ◾गुजरात बंदरगाह पर मिली ड्रग्स को लेकर कांग्रेस ने सरकार पर साधा निशाना, कहा- देश को बताएं किसका संरक्षण है ◾Maharashtra: कोरोना ने फिर एक बार सरकार की बढ़ाई चिंता, जानें- CM ठाकरे ने जनता से क्या कहा? ◾ OP Chautala news: हरियाणा के पूर्व CM ओपी चौटाला को हुई 4 साल की सजा, 50 लाख रुपये का जुर्माना◾कांग्रेस में मची है भगदड़, भारत जोड़ रैली के बजाय निकालनी चाहिए पार्टी जोड़ रैली : नरोत्तम मिश्रा◾

कुम्भ पूर्व ‘वैष्णव बैठक’ के लिए तैयार वृन्दावन का यमुना किनारा, बसंत पंचमी को होगा पहला स्नान

महाकुम्भ के अवसर पर परंपरागत रूप से वृन्दावन में ‘वैष्णवों की कुम्भ पूर्व बैठक’ के आयोजन के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के तमाम संबंधित विभागों ने तैयारियां पूर्ण कर ली हैं। 

इस बैठक का शुभारम्भ करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को वृन्दावन पहुंच रहे हैं। वे पांच घण्टे के वृन्दावन प्रवास के दौरान जहां कुम्भ बैठक का ध्वजारोहण करके शुभारम्भ करेंगे, वहीं कई अन्य कार्यक्रमों में भी भाग लेंगे। इस बार मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में गठित उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद इस बैठक का आयोजन कर रही है जिसमें जिला प्रशासन भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। 

जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल एवं मेलाधिकारी व ब्रज तीर्थ विकास परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नागेंद्र प्रताप ने बताया, ‘‘मेले का धार्मिक ध्वजारोहण बसंत पंचमी 16 फरवरी को आयोजित होगा। तत्पश्चात् 

माघ मास की पूर्णिमा के अवसर पर 27 फरवरी को पहला शाही स्नान, फाल्गुन एकादशी 9 मार्च को दूसरा शाही स्नान तथा फाल्गुन अमावस्या 13 मार्च को तीसरा शाही स्नान संपन्न होगा। इसके बाद 25 मार्च को पंचकोसीय परिक्रमा संपन्न होगी जिसमें सभी अखाड़े, खालसा व सम्प्रदायों के संत-महात्मा आदि शामिल होंगे।’’ 

उन्होंने बताया कि इसके लिए मेला क्षेत्र में ब्रह्मर्षि देवराह बाबा घाट, कुम्भ मेला स्वागत द्वार समेत सड़क, गंगाजल आपूर्ति, सीवेज, ड्रेनेज समेत कच्चे एवं पक्के घाटों का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि नगर निगम द्वारा अधिकांश मेला क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं और करीब 750 सफाईकर्मी दिन-रात सफाई व्यवस्था में मुस्तैद कर दिए गए हैं। 

उन्होंने बताया कि 60 हैक्टेयर क्षेत्र में आयोजित हो रहे कुम्भ मेले में शासन की मंशा के अनुरूप लोक निर्माण विभाग, जल निगम, सिंचाई विभाग, विकास प्राधिकरण, बिजली विभाग, नगर निगम, पर्यटन विभाग, संस्कृति विभाग एवं पुलिस विभाग द्वारा सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। उन्होंने बताया कि शिविरों में शौचालय, टॉयलेट व स्नानागार बनाए गए हैं। 

उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा मेला क्षेत्र में चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया जा रहा है। इसके अलावा सीसीटीवी एवं पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगाया गया है। उन्होंने बताया कि फायर ब्रिगेड द्वारा तीन फायर स्टेशन समेत 30 हाईड्रेंड प्वाइंट स्थापित किए हैं। 

अधिकारीद्वय ने बताया कि शाही शोभायात्रा के अवसर पर चतुःसंप्रदाय एवं तीनों अनी अखाड़ों के साथ सभी खालसा के नागा साधु पूरे रास्ते पटेबाजी, तलवारबाजी व दूसरे हथियारों के साथ करतब दिखाते नजर आएंगे। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. गौरव ग्रोवर ने बताया मेले में नागरिक पुलिस के अलावा प्रांतीय सशस्त्र बल (पीएसी), जल पुलिस, राज्यीय आपदा नियंत्रण बल (एसडीआरएफ) व खुफिया पुलिस के बिना वर्दी वाले पुलिसकर्मियों की चप्पे-चप्पे पर नजर रहेगी। 

उन्होंने बताया कि इस दौरान वृन्दावन में भारी वाहनों के प्रवेश पर पूर्ण पाबंदी लागू रहेगी। इसके अलावा शाही स्नान एवं सरकारी अवकाश वाले दिनों में भी वृन्दावन में केवल नियंत्रित वाहन ही भ्रमण कर सकेंगे। 

इनके अतिरिक्त मेले में सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए हर आवश्यक तैयारी की गई है। अग्निशमन दल, बम निरोधक दस्ते, घुड़सवार पुलिस आदि का इंतजाम किया गया है।