BREAKING NEWS

बजट 1 फरवरी को हो सकता है पेश : सूत्र ◾BJP की महिला सांसदों ने चुनाव आयोग से की राहुल गांधी की शिकायत ◾दिल्ली में अभी चुनाव हुए तो भाजपा को मिलेंगी 42 सीटें◾अवसाद में निर्भया कांड के दोषी, खाना-पीना कम किया : तिहाड़ जेल के सूत्र◾योगी ने राम मंदिर के लिए हर परिवार से 11 रुपये, पत्थर मांगे ◾सर्जिकल स्ट्राइक की इजाजत देने से पहले पर्रिकर ने कहीं थीं दो बातें : दुआ◾‘रेप इन इंडिया’ टिप्पणी को लेकर भाजपा . कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर ◾महिलाओं की सुरक्षा को लेकर केजरीवाल बोले - हरसंभव कार्य कर रहा हूँ◾उत्तराखंड में भूकंप के हल्के झटके महसूस किये गये◾केवल भाजपा दे सकती है स्थिर और विकास उन्मुख सरकार : मनोज तिवारी◾अर्थव्यवस्था को गति देने के जब भी जरूरत होगी, कदम उठाये जाएंगे : वित्त मंत्री◾अमित शाह, निर्मला सीतारमण अगले सप्ताह भारत आर्थिक सम्मेलन में अपने विचार रखेंगे◾भाजपा की महिला सांसदों ने चुनाव आयोग से राहूल गांधी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की ◾CAB-NRC कभी नहीं लागू करूंगी : ममता◾‘रेप इन इंडिया’ टिप्पणी पर राहुल का माफी से इनकार, मोदी का वीडियो ट्वीट कर किया पलटवार◾पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी में की गोलीबारी, दो जवान घायल◾मालदीव की अवामी-मजलिस के स्पीकर मोहम्मद नशीद ने PM मोदी से की मुलाकात◾यूएई से आए विमान में बम रखे होने की कॉल, दिल्ली पुलिस ने मांगी फोन करने वाले की जानकारी ◾पूर्वोत्तर में हिंसक प्रदर्शन के कारण जापान के प्रधानमंत्री का भारत दौरा रद्द ◾TOP 20 NEWS 13 DEC : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

उत्तर प्रदेश

फर्जी आरक्षी बनकर 'ड्यूटी' करने वाला युवक गिरफ्तार

 19 11

लखनऊ : उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने फर्जी सिपाही बनकर धोखे से आला अफसरों के यहां ड्यूटी के नाम पर अनुचित लाभ लेने के आरोपी एक युवक को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ के सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि ऐसी सूचना मिली थी कि खुद को सिपाही बता रहा एक संदिग्ध व्यक्ति वर्दी पहनकर गोरखपुर में सक्रिय है।जांच—पड़ताल में पता चला कि वह व्यक्ति गोरखपुर की खजनी तहसील के उपजिलाधिकारी के यहां सिपाही बनकर ड्यूटी कर रहा है। मौके पर पहुंची एसटीएफ की टीम ने सोमवार को उसे गिरफ्तार कर लिया। 

पकड़े गये अभियुक्त ने अपना नाम अजय कुमार चतुर्वेदी बताया है। उसने यह भी खुलासा किया कि वह सिपाही नहीं है। उसने वर्ष 2014 में संत कबीर नगर जिले की घनघटा तहसील के तत्कालीन उपजिलाधिकारी से सम्पर्क करके बताया कि वह सिपाही है और पुलिस लाइन में उसकी उनके दफ्तर में सुरक्षा ड्यूटी लगी है। उसके बाद वह वहां 'ड्यूटी' करने लगा। इस दौरान किसी ने भी उसकी पड़ताल नहीं की। अभियुक्त के मुताबिक वह उपजिलाधिकारी कार्यालय में फरियाद लेकर आने वाले लोगों से काम कराने के लिये धन ऐंठता था। 

चतुर्वेदी के मुताबिक साल 2015 में उन उपजिलाधिकारी का तबादला सिद्धार्थनगर जिले में हो गया तो वह वहां भी उनके कार्यालय में उसी तरह काम करने लगा। जब लोगों को उसकी सच्चाई का पता लगा तो वह वहां से भाग गया। वर्ष 2017 में इसी तरह फैजाबाद की रुदौली तहसील के उपजिलाधिकारी दफ्तर में भी पैठ बनायी। मगर वहां उसकी पोल खुल गयी और फरवरी 2018 में उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में वह जमानत पर है। उसके बाद मार्च 2019 में वह फिर खजनी के उपजिलाधिकारी कार्यालय में आ गया और सिपाही की तरह काम करने लगा, जहां वह फिर गिरफ्तार हो गया। सूत्रों ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।