BREAKING NEWS

कोरोना की स्थिति को लेकर राहुल का मोदी पर निशाना, 'श्मशान और कब्रिस्तान दोनों...जो कहा सो किया'◾बंगाल में 1:30 बजे तक 54.67 % हुआ मतदान, शांतिनगर क्षेत्र में TMC, भाजपा समर्थकों के बीच हुई झड़प◾सोनिया गांधी ने केंद्र पर निशाना साधा, बोलीं- वैक्सीन के लिए आयुसीमा घटाकर 25 साल करे सरकार ◾PM मोदी बोले-2 मई को बंगाल की जनता 'दीदी' को देगी 'भूतपूर्व मुख्यमंत्री' का प्रमाणपत्र◾चारा घोटाला मामले में आजाद हुए लालू, रांची HC ने दी RJD सुप्रीमो को जमानत, जल्द होंगे जेल से रिहा ◾ओडिशा CM का PM मोदी को पत्र, कोरोना संकट के बीच कुछ कदम उठाने के दिए सुझाव◾CM गहलोत ने जनता के नाम संदेश में कहा- कोरोना की दूसरी लहर खतरनाक, सरकार नहीं रखेगी कोई कमी◾भारत में कोरोना का तांडव, एक दिन में 2 लाख 34 हज़ार लोग हुए संक्रमित, 1341 ने गंवाई जान◾PM मोदी ने की संत समाज से अपील, कहा- कुंभ को कोरोना संकट के चलते रखा जाए ‘प्रतीकात्मक’ ◾विश्व में कोरोना केस की संख्या 13.96 करोड़ के पार, मरने वालों का आंकड़ा 29.9 लाख से अधिक ◾सोनिया गांधी की अगुवाई में CWC की बैठक आज, कोरोना महामारी से पैदा हुए हालात पर होगी चर्चा ◾पश्चिम बंगाल : 6 जिलों की 45 सीटों पर वोटिंग जारी, PM मोदी ने लोगों से भारी संख्या में मतदान की अपील की◾राजधानी में फूटा कोरोना बम, 24 घंटे में आए 19,486 नये मामले और 141 की हुई मौत◾पश्चिम बंगाल चुनाव : EC ने शाम सात से सुबह 10 बजे तक रैलियों, जनसभाओं पर लगाया प्रतिबंध ◾कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए CICSE ने 10वीं,12वीं की परीक्षा टाली ◾ममता संविधान की रक्षा करने में विफल रहीं, केंद्रीय बलों पर लगा रही है आरोप : नड्डा ◾वीकेंड कर्फ्यू के दौरान ज्यादा अंतराल पर चलेंगी दिल्ली मेट्रो ट्रेनें, इन लाइन्स पर आधे घंटे का होगा इंतजार ◾भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी जल्द आएगा भारत, प्रत्यर्पण की मांग को ब्रिटेन सरकार ने दी मंजूरी◾अदार पूनावाला की अमेरिका से अपील, टीका उत्पादन बढ़ाने के लिए बाइडन हटाए कच्चे माल पर लगा निर्यात प्रतिबंध◾उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की बेकाबू रफ़्तार, रिकॉर्ड 27,426 नये मामले, 103 और मरीजों की मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

के.पी. शर्मा ओली की सरकार करेगी चितवन जिले की 40 एकड़ ज़मीन पर अयोध्यापुरी का निर्माण

नेपाल का यह कदम भारत को और नाराज़ कर सकता है, वैसे ही ओली शर्मा के विवादित बयानों से दोनों देशों के बीच खटास आ गई है। आपको बता दें कि नेपाल की एक स्थानीय प्रशासन ने 100 बीघा या 40 एकड़ में अयोध्यापुरी धाम का निर्माण कराने का फैसला किया है। चितवन जिले की माडी नगरपालिका, जहां प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली के मुताबिक भगवान राम का जन्म हुआ है, ने अयोध्यापुरी धाम के निर्माण के लिए भूमि आवंटित करने का फैसला किया है।

ठाकुर प्रसाद ढकाल ने नेपाल की राष्ट्रीय समाचार एजेंसी को जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार को नगरपालिका की कार्यकारी निकाय बैठक ने धाम के निर्माण के लिए 100 बीघा जमीन आवंटित करने का फैसला किया। ओली ने 14 जुलाई को भगवान राम के जन्म स्थान के बारे में सनसनीखेज टिप्पणी की और दावा किया कि राम का जन्म नेपाल में हुआ था, न कि भारत स्थित उत्तर प्रदेश के अयोध्या में।

ओली ने भारत पर एक फर्जी अयोध्या बनाने का भी आरोप लगाया, जो ओली के अनुसार नेपाल के खिलाफ एक सांस्कृतिक हमला है। ओली के बयान ने भारत और नेपाल दोनों में उस वक़्त हंगामा मचा दिया जब नेपाल-भारत संबंधों में सीमा विवाद और चीन के साथ नेपाल के नज़दीकी के कारण दोनों देशों के संबंधों बिगड़ते हुए दिखने लगे। ढकाल ने कहा अयोध्यापुरी के निर्माण के लिए कहा कि, हमने वार्ड 8 और 9 में अयोध्यापुरी धाम के निर्माण के लिए वर्तमान अयोध्यापुरी पार्क की 100 बीघा जमीन आवंटित की है।

भगवान राम के विवादास्पद जन्म स्थान की घोषणा करने के बाद, ओली ने 9 अगस्त को मेयर ढकाल की अगुवाई में माडी नगरपालिका के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक की और अधिक सबूत इकट्ठा करने के लिए उस क्षेत्र में खुदाई शुरू करने का निर्देश दिया। ओली ने अपनी सरकार से माडी नगर पालिका को हर संभव समर्थन देने का और साथ ही साथ खुदाई के कामों को पूरा करने के लिए मास्टर प्लान तैयार करने में मदद करने को कहा है इसी के साथ राम, सीता और लक्ष्मण की मूर्तियों को तुरंत स्थापित करने में सहयोग देने का भी वादा किया।

ढकाल ने कहा कि हमारे पास अतिरिक्त 50 बीघा जमीन है, जिसका उपयोग हम कोई भी तकनीकी समस्या होने पर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अयोध्यापुरी धाम के निर्माण के लिए एक मास्टर प्लान तैयार किया गया है और एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट जल्द ही तैयार की जाएगी। उन्होंने कहा कि नगरपालिका, प्रधानमंत्री के निदेर्शानुसार अयोध्यापुरी धाम निर्माण के कार्यों को सुविधाजनक बनाने और प्रबंधित करने के लिए लगातार काम कर रही है। वहीँ दूसरी तरफ ओली के विवादास्पद बयान की उनकी पार्टी के नेताओं के साथ-साथ भारत की सत्तारूढ़ पार्टी, भारतीय जनता पार्टी ने भी आलोचना की थी।