BREAKING NEWS

मुश्किलों में फंस सकते है कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल, सीबीआई कसेगी शिकंजा ◾आज का राशिफल (17 अगस्त 2022)◾बिहार में मिशन 35 प्लस के लक्ष्य के साथ नीतीश-तेजस्वी सरकार के खिलाफ मैदान में उतरेगी भाजपा◾PM मोदी और मैक्रों ने भू-राजनीतिक चुनौतियों, असैन्य परमाणु ऊर्जा सहयोग पर चर्चा की◾अपने अंतिम दिनों में, ठाकरे सरकार ने जल्दबाजी में लिए फैसले : CM शिंदे◾ चीनी पोत पहुंचा श्रीलंका हम्बनटोटा बंदरगाह , भारत ने जताई जासूसी की आशंका◾चीनी ‘जासूसी पोत’ पहुंचा श्रीलंकाई बंदरगाह , बीजिंग बोला-जहाज किसी के सुरक्षा हितों के लिए खतरा नहीं◾दिल्ली में फिर से आया कोरोना, 917 नए मामले आये सामने , तीन की मौत◾कांग्रेस संगठन में बड़ा बदलाव, रसूल वानी बने जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष◾AAP सरकार के पांच महीने पूरे होने पर 5 मंत्रियों ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड◾मुंबई पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, गुजरात की फैक्ट्री में मारा छापा, 1026 करोड़ का नशीला पदार्थ जब्त◾गुजरात दंगों में बिल्कीस बानो दुष्कर्म के दोषी जेल से रिहा, राजनीति का शिकार होने का किया बड़ा दावा◾दिल्ली सरकार ने कोविड संबंधी आंकड़ों के प्रबंधन के लिए बनाई दो टीम, एक सरकारी आदेश में दी जानकारी ◾टारगेट किलिंग पर ओवैसी का फूटा गुस्सा, केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा- पंडितों को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहा◾ Haryana: मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बोले- विदेशी निवेशकों की पहली पसंद बन रहा है हरियाणा◾Mother Dairy hikes Today: मदर डेयर दूध के भी बढ़े दाम, दो रूपये लीटर की हुई बढ़ोतरी, कल से होगा लागू◾खनन से प्रभावित लोगों की भलाई के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है मोदी सरकार, जानिए पूरी जानकारी ◾ट्रंप की संपत्ति से जुड़ी जानकारी छिपा रहा न्याय विभाग, जांच में नुकसान होने का दिया हवाला ◾Rajasthan: गहलोत का सचिन पायलट पर कटाक्ष, कहा- जुमला बन गया है कार्यकर्ताओं का मान-सम्मान◾जम्मू-कश्मीरः सुरक्षाबलों की मौत पर राष्ट्रपति मुर्मू ने जताया दुख, घायलों के शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की ◾

रूस ने किया दावा, कहा- यूक्रेन ने विभिन्न देशों के लगभग 7,000 लोगों को बंधक बनाया

यूक्रेन के साथ युद्ध के बीच रूस ने दावा किया है कि उसने कीव, चेर्निहीव, सूमी, खारकीव और मारियुपोल शहरों से नागरिकों और विदेशी नागरिकों को निकालने के लिए मास्को से 10 कॉरिडोर खोले हैं, जिसमें प्रत्येक शहर से एक कॉरिडोर शामिल है। दूसरी ओर रूस ने यह भी आरोप लगाया कि यूक्रेन ने विभिन्न देशों के लगभग 7,000 लोगों को बंधक बना लिया है जबकि 70 जहाज बंदरगाहों पर फंसे हैं।

पिछले 24 घंटों में 23,127 और लोगों ने रूस में शरण ली

शुक्रवार को एक बयान में, रूस ने दावा किया है कि एक कॉरिडोर पोलैंड, मोल्दोवा और रोमानिया के पश्चिम में कीव अधिकारियों द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों के माध्यम से किया जा रहा है। रूसी दूतावास ने कहा, "हमारे द्वारा प्रस्तावित दस मार्गो में से, यूक्रेनी केवल दो पर सहमत हुए हैं, जिसमें कीव और मारियुपोल शामिल है।" 

कीव में अधिकारियों ने अतिरिक्त रूप से इजियम, एनरगोडार, वोल्नोवाखा और जाइटॉमिर दिशा में चार और मार्गो की घोषणा की। रूस के बयान में आगे कहा गया है, " पिछले 24 घंटों में 23,127 और लोगों ने रूस में शरण ली है और उनमें से पहले से ही यूक्रेन की लगभग 2,000 बस्तियों से 26,19,026 लोग रह रहे हैं। 

62,000 से अधिक शरणार्थियों को निकालने में कामयाब 

रिपोर्ट में कहा गया है कि, "3,562 बच्चों सहित 34,555 लोगों को यूक्रेन के विभिन्न क्षेत्रों से निकाला गया, साथ ही लुगांस्क और डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक, यूक्रेनी पक्ष की भागीदारी के बिना और 2,23,000 से अधिक लोगों को विशेष सैन्य अभियान की शुरुआत के बाद से निकाला जारी रखा गया, जिनमें से 50,258 बच्चे थे।"

बयान के अनुसार, शुक्रवार को रूसी सशस्त्र बलों ने 13 बसों, 957 शरणार्थियों के साथ 130 निजी कारों से एनजरेदर शहर से जापोरोजे तक आवाजाही की सुरक्षा सुनिश्चित की और 62,000 से अधिक शरणार्थियों को निकालने में कामयाब रहे।

21 विदेशी देशों के 7,000 लोगों को यूक्रेनी बंधक बनाए हुए हैं : रूस 

वर्तमान में, यूक्रेनी बंदरगाहों में 50 से अधिक विदेशी जहाज हैं, जो अजरबैजान, ग्रीस, जॉर्जिया, मिस्र, भारत, लेबनान, सीरिया, तुर्की, फिलीपींस, जमैका और कई अन्य विदेशी नागरिकों द्वारा संचालित हैं।

उन्होंने आगे कहा, "हम यूक्रेनी पक्ष से अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून के मानदंडों का सख्ती से पालन करने और यूक्रेनी बंदरगाहों और क्षेत्रीय समुद्र से विदेशी जहाजों के सुरक्षित निकास को सुनिश्चित करने का आह्वान करते हैं।" बयान में कहा गया है, "हम एक बार फिर जोर देते हैं कि रूसी सशस्त्र बल लोगों के लिए खतरा पैदा नहीं करते हैं।" रूस के क्षेत्रों में 9,500 से अधिक अस्थायी आवास केंद्र संचालित हो रहे हैं।

आज, खारकीव, जापोरोजि़या, कीव और चेर्निगोव क्षेत्रों में 23 मानवीय कार्य किए जा रहे हैं, जिसके दौरान भोजन सहित 284 टन बुनियादी जरूरतों को आबादी में स्थानांतरित किया जा रहा है।