BREAKING NEWS

विवादों में घिरे राज ठाकरे ने रद्द किया अयोध्या दौरा, BJP सांसद बृजभूषण ने दी थी मनसे प्रमुख को चेतावनी! ◾सिद्धू को जाना होगा जेल, सरेंडर से राहत वाली मांग पर SC ने तत्काल सुनवाई से किया इनकार ◾विजय पताका के बावजूद आज हम अधीर और बेचैन, क्योंकि..., जयपुर में BJP कार्यकर्ताओं से बोले मोदी◾World Corona : 52.39 करोड़ हुए कोविड के मामले, 11.43 अरब लोगों का हो चुका है टीकाकरण ◾बाबरी मस्जिद के पक्षकार हाजी महबूब ने ज्ञानवापी पर दी प्रतिक्रिया, बोले- मुसलमानों ने किया आंदोलन तो...◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,259 नए केस, 191.96 करोड़ दी जा चुकी है वैक्सीन ◾पिता के खिलाफ CBI की कार्रवाई से भड़कीं लालू की बेटी, जांच एजेंसी को बताया 'बेशर्म तोता'◾भर्ती घोटाला मामले में लालू यादव की बढ़ी मुश्किलें, बिहार से लेकर दिल्ली तक CBI ने 17 ठिकानों पर मारी रेड ◾MP : दलित युवक की बारात पर किया था पथराव, अब शिवराज सरकार ने घर पर चलाया बुलडोजर ◾सामना में शिवसेना का तंज, चीन द्वारा कब्जाई जमीन पर भगवान शिव, ताज महल में ढूंढ रहे हैं भक्त ◾ज्ञानवापी : जुमे की नमाज में कम से कम शामिल हों लोग, मस्जिद कमेटी की अपील◾J&K : जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर सुरंग का एक हिस्सा गिरा, 10 फंसे, जारी है रेस्क्यू ऑपरेशन ◾UP : 27 महीने बाद जेल से बाहर आए आजम खान, अखिलेश यादव ने Tweet कर किया स्वागत◾कृष्ण जन्मभूमि मामला : Court मस्जिद हटाने का अनुरोध करने वाली याचिका पर करेगी विचार ◾आज का राशिफल ( 20 मई 2022) ◾RCB vs GT ( IPL 2022 ) : कोहली के बल्ले से निकली आरसीबी की जीत और प्लेऑफ की उम्मीद◾पंजाब में कांग्रेस को पड़ी दोहरी मार : सिद्धू को एक साल की सजा, जाखड़ ने थामा भाजपा का दामन◾भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन बनीं विश्व चैंपियन , PM मोदी ने दी बधाई ◾ इंडोनेशिया के ऐलान से भारत को राहत, जल्द ही कम हो सकते हैं खाने के तेल के दाम◾ अदालत में दाखिल याचिका को लेकर भड़के ओवैसी, बोले- मुसलमानों के खिलाफ अविश्वास पैदा करने की हो रही कोशिश◾

विश्व में कहीं खत्म नहीं हुआ कोरोना का आतंक, WHO ने ओमीक्रॉन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें क्या कहा?

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयेसस ने चेतावनी दी कि कोरोना वायरस की महामारी अभी विश्व में कहीं खत्म नहीं हुई है और ओमिक्रॉन के बाद भी इसके नये वैरिएंट सामने आने की संभावना है। डब्ल्यूएचओ प्रमुख की चेतावनी ऐसे समय आई है जब ये तर्क दिये जा रहे हैं कि ओमिक्रॉन वैरिएंट काफी हल्का है और इसने कोरोना वायरस से उत्पन्न खतरे को समाप्त कर दिया है।

विश्व में कहीं भी खत्म नहीं हुआ कोरोना का कहर

टेड्रोस ने कहा कि ओमिक्रॉन का जोखिम औसतन कम हो सकता है, लेकिन इसे हल्की बीमारी बताया जाना भ्रामक है। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन अस्पताल में भर्ती होने तथा मौतों की वजह बनने के साथ ही कम गंभीर मामलों के बावजूद स्वास्थ्य सुविधाओं को प्रभावित कर रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यूरोपीय देशों में मंगलवार को ओमिक्रॉन के रिकॉर्ड मामले दर्ज किये गये।

कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण करना बहुत जरूरी 

डब्ल्यूएचओ के निदेशक (आपात स्थिति) माइक रयान के हवाले से मीडिया रिपोर्ट में कहा गया कि ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रसार से अस्पताल में भर्ती होने और मौतों में इजाफे के मामलों में बढ़त की आंशका है, विशेषकर उन देशों में जहां कम लोगों का टीकाकरण हुआ है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि फिलहाल ऐसे कोई साक्ष्य नहीं है जिससे स्वस्थ बच्चों और किशोरों को कोविड-19 के बूस्टर खुराक की आवश्यकता प्रतिपादित हो। 

स्वस्थ बच्चों को बूस्टर खुराक जरुरी है, इसका कोई साक्ष्य नहीं 

डब्ल्यूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने यह दावा किया कि तेजी से बढ़ रहे कोविड-19 के ओमिक्रॉन वैरिएंट के खिलाफ समय के साथ टीके की प्रतिरक्षा में कुछ कमी जरुर आयी है, लेकिन अभी यह पता लगाने के लिए और अधिक शोध किए जाने की आवश्यकता है कि बूस्टर खुराक की आवश्यकता किसे है। उन्होंने कहा कि अभी स्वस्थ बच्चों या स्वस्थ किशोरों को बूस्टर खुराक जरुरी ही है, इसके कोई युक्तिसंगत साक्ष्य नहीं है।

ओमीक्रॉन को लेकर WHO की मुख्य वैज्ञानिक ने दिया चौकाने वाला बयान

इसके साथ ही सौम्या स्वामीनाथन ने एक चौकाने वाला बयान देते हुए कहा कि 'ओमीक्रॉन वेरिएंट डेल्टा के खिलाफ इम्युनिटी' को बढ़ा सकता है। लेकिन इसके लिए उन्होंने एक शर्त भी बताई, उन्होंने कहा कि यह तभी संभव हो सकता है जब व्यक्ति ने कोरोना वैक्सीन लगवा रखी हो। सरल शब्दों में अगर किसी व्यक्ति ने कोरोना वैक्सीन के शॉट लिए हुए हैं तो कोरोना का नया वेरिएंट ओमीक्रॉन उनकी इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक होगा। 

World Corona: कोविड के वैश्विक मामलों में वृद्धि का दौर जारी, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 33.35 करोड़ के पार