BREAKING NEWS

न्यायमूर्ति यू यू ललित होंगे सुप्रीमकोर्ट के नए प्रधान न्यायधीश ◾दिग्गज कारोबारी अडानी को जेड प्लस सिक्योरिटी, आईबी ने दिया था इनपुट◾शपथ लेने के बाद नीतीश की गेम पॉलिटिक्स शुरू, मोदी के खिलाफ कर सकते हैं ये बड़ा काम ◾नुपूर को सुप्रीम राहत, जांच पूरी न होने तक नहीं होगी गिरफ्तारी, सभी एफआईआर को एक साथ जोड़ा ◾ ‘‘नीतीश सांप है, सांप आपके घर घुस गया है।’’, भाजपा नेता गिरिराज ने याद की लालू की पुरानी बात ◾ सुनील बंसल का बीजेपी में बढ़ा कद, बनाए गए पार्टी महासचिव◾पिता जेल में तो संभाली पार्टी की कमान, 75 सीट जीतकर किया धमाकेदार प्रदर्शन, जानिए तेजस्वी के संघर्ष की कहानी ◾बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव◾शपथ लेते ही BJP पर बरसे नीतीश, कहा-2014 में जीतने वालों को 2024 की करनी चाहिए चिंता ◾60 वर्ष से अधिक उम्र की बहनों और माताओं के लिए बसों में निःशुल्क यात्रा योजना जल्द आएगी : CM योगी ◾ गुजरात भाजपा में फूट के संकेत ! मतभेद की खबर पकड़ रही हैं जोर◾निर्माणाधीन टंकी का लेंटर गिरने से 19 मजदूर मलबे में दबे◾राकांपा प्रमुख शरद पवार ने बीजेपी पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- सहयोगियों को धीरे-धीरे खत्म कर रही है भाजपा ◾सुशील मोदी ने राजद को चेताया, कहा - नीतीश कुमार पार्टी तोड़ने की करेंगे कोशिश ◾बिहार में फिर से लौटा तेजस्वी- नीतीश युग, राजभवन में दोनों नेताओं ने ली गोपनीयता की शपथ ◾भारत व चीन की सीमा पर पकड़ा गया मानसिक रूप से अस्वस्थ्य व्यक्ति, सीमा सुरक्षा पर खड़ा होता है सवाल ◾बिहार की सियासी बयार पर प्रशांत किशोर का तंज, कहा-आशा है अब राज्य में राजनीतिक स्थिरता लौटे◾स्वतंत्र देव सिंह के इस्तीफे के बाद केशव प्रसाद मौर्य बन सकते है विधान परिषद के नेता◾बिहार में फिर से लौटा तेजस्वी- नीतीश युग, राजभवन में दोनों नेताओं ने ली गोपनीयता की शपथ ◾नीतीश को लालू की शुभकामनांए , शपथ से पहले दोनों नेताओं ने फोन पर की बातचीत◾

26/11 मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद को नए मामले में 15 साल की सजा

26/11 मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड और प्रतिबंधित जमात-उद-दावा (जेयूडी) के नेता हाफिज सईद को पाकिस्तान की आतंकवाद रोधी अदालत ने एक अन्य मामले में दोषी पाए जाने के बाद 15 साल की सजा सुनाई है। एक मीडिया रिपोर्ट ने शुक्रवार को यह जानाकरी दी।

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, सईद के खिलाफ तीन मामलों के फैसले, जो पिछले साल से सलाखों के पीछे हैं, पहले ही सुनाए जा चुके हैं, जबकि जेयूडी लीडर के खिलाफ आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) में कई अन्य मामले लंबित हैं।

सईद के अलावा, एटीसी जज एजाज अहमद बुट्टर ने हाफिज अब्दुल सलाम, जफर इकबाल, मुहम्मद अशरफ और याहया मुजाहिद को भी 15 साल और छह महीने की कैद की सजा सुनाई, जबकि हाफिज अब्दुल रहमान मक्की को छह महीने की कैद दी गई।

रिपोर्ट में जेयूडी द्वारा जारी किए गए विवरणों के हवाले से जानकारी दी गई है। जेल की शर्तों के अलावा, दोषी पाए गए सभी लोगों को 200,000 पाकिस्तानी रुपये का जुर्माना भी भरना होगा। ताजा फैसला सईद और तीन अन्य को एटीसी द्वारा 19 नवंबर को दो अलग-अलग आतंक-वित्तपोषण मामलों में दोषी ठहराए जाने के बाद आया है।

नवंबर के फैसले में, अदालत ने 110,000 पाकिस्तानी रुपये का जुर्माना लगाने के अलावा सईद की संपत्ति भी जब्त कर ली थी। सितंबर में, गृह मंत्रालय ने सीनेट को सूचित किया था कि संघीय सरकार ने जेयूडी और जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) से संबंधित कुल 964 संपत्तियों को फ्रीज कर दिया था।

12 फरवरी को, सईद को दो मामलों में दोषी ठहराया गया और साढ़े पांच साल के लिए जेल भेज दिया गया था। 2008 के मुंबई आतंकवादी हमलों के बाद संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा प्रतिबंधित, सईद अकेले पाकिस्तान में 23 आतंकवादी मामलों का सामना कर रहा है।

पाकिस्तान ने फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) द्वारा आतंकवादी गतिविधियों को वित्तपोषित करने और धन शोधन करने के लिए देश को 'ग्रे लिस्ट' में रखने के बाद सईद के खिलाफ आरोप लगाए और सख्त कदम उठाए।