BREAKING NEWS

UP के BJP विधायक का विवादित बयान, कहा- ‘राक्षसी’ संस्कृति की है ममता बनर्जी, उनके डीएनए में दोष◾किसानों की परेशानियों को सुनने और समझने की बजाए सरकार उन्हें आतंकवादी कहती है : राहुल गांधी◾लालू प्रसाद की बिगड़ी तबीयत पर बोले मुख्यमंत्री नीतीश- वे जल्द ठीक हों, मेरी शुभकामना उनके साथ◾असम में गरजे अमित शाह- कांग्रेस बताए इतने सालों तक रक्तरंजित क्यों रहा राज्य◾कृषि कानून को लेकर 60वें दिन आंदोलन जारी, 26 जनवरी पर ट्रैक्टर रैली की तैयारी में जुटे किसान ◾LAC विवाद : भारत और चीन के बीच कॉर्प्स कमांडर स्तर की बैठक मोल्डो में जारी ◾दिल्ली में आधी रात को लगे 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे, छह लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ा◾गणतंत्र दिवस पर 2 बजे के बाद खुलेगी कनॉट प्लेस मार्केट, बंद रहेंगे ये 4 मेट्रो स्टेशन◾उत्तर भारत में सर्दी का सितम जारी, शीतलहर से फिर कांपेगी राजधानी दिल्ली ◾राहुल गांधी का तंज- जनता महंगाई से त्रस्त, मोदी सरकार टैक्स वसूली में मस्त◾CM उद्धव ठाकरे की साइन की हुई फाइल से छेड़छाड़, PWD इंजीनियर के खिलाफ जांच के दिए थे आदेश◾BJP सांसद साक्षी महाराज का आरोप-कांग्रेस ने कराई थी नेताजी की हत्या◾देश में कोरोना के 14849 नए मामलों की पुष्टि, पॉजिटिव केस 1 करोड़ 65 लाख के पार ◾TOP 5 NEWS 24 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 9.86 करोड़ तक पहुंचा◾ममता बनर्जी के लिये ‘जय श्री राम’ का नारा सांड को लाल कपड़ा दिखाने के समान है : अनिल विज◾ सात और राज्य अगले सप्ताह से स्वदेशी तौर पर विकसित ‘कोवैक्सीन’ टीका लगाएंगे : स्वास्थ्य मंत्रालय ◾ वायुसेना प्रमुख भदौरिया बोले- भारत पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमानों पर काम कर रहा है◾आज का राशिफल (24 जनवरी 2021)◾गुजरात में फरवरी में होंगे स्थानीय निकाय चुनाव ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अक्टूबर से 490 प्रदर्शनकारियों की मौत : इराकी समूह

बगदाद : इराक के अर्द्ध सरकारी मानवाधिकार आयोग ने शनिवार को बताया कि सरकार विरोधी रैलियों में पिछले करीब तीन महीने में बगदाद और दक्षिणी शहरों में कम से कम 490 प्रदर्शनकारियों की मौत हुई है। 

इराक में भ्रष्टाचार, खराब सेवाओं और बेरोजगारी के विरोध में अक्टूबर से प्रदर्शन हो रहे हैं। इन प्रदर्शनों के कारण पूर्व प्रधानमंत्री अदेल अब्दुल महदी को पिछले महीने इस्तीफा देना पड़ा था। 

इन नेतृत्वहीन प्रदर्शनों पर सुरक्षा बलों ने हिंसक कार्रवाई की थी जिसमें कई प्रदर्शनकारियों की मौत हुई। 

अर्द्धसरकारी मानवाधिकार आयोग के सदस्य फैसल अब्दुल्ला ने बताया कि इन प्रदर्शनों के दौरान 490 लोग मारे गए जिनमें 33 कार्यकर्ताओं की निशाना बनाकर हत्या की गई। इस दौरान 22,000 से अधिक लोग घायल हुए हैं। 

अब्दुल्ला ने बताया कि 56 प्रदर्शनकारी लापता हैं। मानवाधिकार आयोग ने इस हिंसा के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया। 

संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि उसे ‘मिलिशिया’ बताए जाने वाले सशस्त्र व्यक्तियों, ‘अज्ञात तीसरे पक्ष’ और ‘सशस्त्र संस्थाओं’ द्वारा जानबूझकर हत्या करने, अपहरण किए गए और मनमाने तरीके से हिरासत में लेने के आरोपों की विश्वसनीय जानकारी मिली है।