BREAKING NEWS

लॉकडाउन-5 में अनलॉक हुई दिल्ली, खुलेंगी सभी दुकानें, एक हफ्ते के लिए बॉर्डर रहेंगे सील◾PM मोदी बोले- आज दुनिया हमारे डॉक्टरों को आशा और कृतज्ञता के साथ देख रही है◾अनलॉक-1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर बढ़ी वाहनों की संख्या, जाम में लोगों के छूटे पसीने◾कोरोना संकट के बीच LPG सिलेंडर के दाम में बढ़ोतरी, आज से लागू होगी नई कीमतें ◾अमेरिका : जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर व्हाइट हाउस के बाहर हिंसक प्रदर्शन, बंकर में ले जाए गए थे राष्ट्रपति ट्रंप◾विश्व में महामारी का कहर जारी, अब तक कोरोना मरीजों का आंकड़ा 61 लाख के पार हुआ ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 90 हजार के पार, अब तक करीब 5400 लोगों की मौत ◾चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर गृह मंत्री शाह बोले- समस्या के हल के लिए राजनयिक व सैन्य वार्ता जारी◾Lockdown 5.0 का आज पहला दिन, एक क्लिक में पढ़िए किस राज्य में क्या मिलेगी छूट, क्या रहेगा बंद◾लॉकडाउन के बीच, आज से पटरी पर दौड़ेंगी 200 नॉन एसी ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से ज्यादा यात्री करेंगे सफर ◾तनाव के बीच लद्दाख सीमा पर चीन ने भारी सैन्य उपकरण - तोप किये तैनात, भारत ने भी बढ़ाई सेना ◾जासूसी के आरोप में पाक उच्चायोग के दो अफसर गिरफ्तार, 24 घंटे के अंदर देश छोड़ने का आदेश ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,487 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 67 हजार के पार ◾दिल्ली से नोएडा-गाजियाबाद जाने पर जारी रहेगी पाबंदी, बॉर्डर सील करने के आदेश लागू रहेंगे◾महाराष्ट्र सरकार का ‘मिशन बिगिन अगेन’, जानिये नए लॉकडाउन में कहां मिली राहत और क्या रहेगा बंद ◾Covid-19 : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 1295 मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 20 हजार के करीब ◾वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी उद्योग जगत को देंगे वृद्धि की राह का मंत्र◾UP अनलॉक-1 : योगी सरकार ने जारी की गाइडलाइन, खुलेंगें सैलून और पार्लर, साप्ताहिक बाजारों को भी अनुमति◾श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 80 मजदूरों की मौत पर बोलीं प्रियंका-शुरू से की गई उपेक्षा◾कपिल सिब्बल का प्रधानमंत्री पर वार, कहा-PM Cares Fund से प्रवासी मजदूरों को कितने रुपए दिए बताएं◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अफगानिस्तान : तालिबान ने 6 भारतीय इंजीनियरों को किया अगवा, RPG ग्रुप के चेयरमैन ने सुषमा से की छुड़ाने की अपील

भारतीय कंपनी आरपीजी के सात कर्मचारियों को तालिबान ने अफगानिस्तान के बगलान प्रांत में बंधक बना लिया है। आपको बता दे कि आरपीजी ग्रुप के प्रमुख हर्ष गोयनका ने इन लोगों को छुड़ाने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से अपील की है। इस बीच विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वे लोग अफगान अधिकारियों के संपर्क में हैं और घटना के अपडेट पर नज़र बनाए हुए हैं। उन्होंने बताया कि सभी दा अफगानिस्तान ब्रेशना शेरकट (डीएबीएस) के लिए काम कर रहे थे, जिसमें बिजली उत्पादन होता है।

वहीं इस बारे में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अफगानिस्तान के विदेशमंत्री सलाहुद्दीन रब्बानी से फोन पर बात भी की है। सलाहुद्दीन रब्बानी ने सुषमा स्वराज को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा, कि भारतीय इंजीनियरों को छुड़ाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

वहीं इस मामले में बगलान के गवर्नर अब्दुलहई नेमाती ने बताया, कि तालिबान ने कर्मचारियों का अपहरण कर लिया है और उन्हें पुल ए खोमरे शहर के दांड शाहबुद्दीन इलाका ले गए हैं।

बताया जा रहा है कि रविवार को तालिबान के बंदूकधारियों ने आरपीजी समूह की एक कंपनी में काम करने वाले सात भारतीय इंजीनियरों को कथित तौर पर अगवा कर लिया। बता दे, पहले अगवा सातों लोग भारतीय बताए जा रहे थे, लेकिन बाद में स्पष्ट किया गया कि अगवा लोगों में से 6 भारतीय इंजीनियर हैं जबकि एक शख्स अफगानिस्तान का ही है।

वही , अफगानिस्तान और पाकिस्तान की मीडिया ने इस अपहरण के पीछे तालिबान का हाथ बताया है। हालांकि भारत सरकार अभी तक इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया, \"हमें भारतीय नागरिकों के अफगानिस्तान के बगलान प्रांत से अगवा होने की जानकारी मिली। हम अफगानिस्तान अधिकारियों के संपर्क में हैं। आगे की डिटेल का पता लगाया जा रहा है।

आपको बता दे कि अफगानिस्तान में सुरक्षा अधिकारी अपहृत किए गए सात भारतीय इंजीनियरों की रिहाई के लिए स्थानीय कबायली सरदारों के साथ काम कर रहे हैं।

सातों भारतीय इंजीनियरों का कल तालिबान के बंदूकधारियों ने अशांत उत्तरी बगलान प्रांत में अपहरण कर लिया था। मीडिया की खबरों में आज यह जानकारी दी गई है।  प्रांतीय पुलिस के प्रवक्ता जबीउल्ला शूजा ने बताया कि आरपीजी समूह की कंपनी केईसी इंटरनेशनल के भारतीय इंजीनियर एक बिजली उप केंद्र के निर्माण की परियोजना पर काम कर रहे थे।

सातों इंजीनियर कल कार्य की प्रगति का जायजा लेने जा रहे थे। चश्मा ए शीर इलाके में उग्रवादियों ने उनका अपहरण कर लिया। शूजा ने बताया कि इंजीनियरों को ले जा रहा उनका अफगान वाहन चालक भी लापता है। इन लोगों की रिहाई के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

प्रांत में सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि अपहृत भारतीय इंजीनियरों की रिहाई के लिए अफगान बल , सरकारी अधिकारी और स्थानीय कबायली सरदार प्रयास कर रहे हैं।

प्रांतीय गवर्नर अब्दुल नेमती ने बताया कि सुरक्षा बल और स्थानीय अधिकारी लापता इंजीनियरों और उनके वाहन चालक का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने आश्वासन दिया कि लापता भारतीय इंजीनियरों और उनके वाहन चालक को शीघ्र ही रिहा कर दिया जाएगा।  बगलान के गवर्नर ने कल कहा था कि आतंकी समूह ने भारतीय इंजीनियरों और उनके वाहन चालक का यह सोच कर अपहरण किया कि वे सरकारी कर्मचारी हैं। अभी तक किसी भी समूह ने अपहरण की जिम्मेदारी नहीं ली है।

नयी दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा था कि वह अफगानिस्तान में प्राधिकारियों से संपर्क बनाए हुए है।  वर्ष 2016 में काबुल में 40 वर्षीय भारतीय राहत कर्मी जुडिथ डिसूजा का अपहरण कर लिया गया था। उसे 40 दिन बाद रिहा किया गया था।  भारत ने युद्ध से जर्जर अफगानिस्तान को आर्थिक विकास के लिए कम से कम 2 अरब डालर की सहायता मुहैया कराई है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।