BREAKING NEWS

अंबानी के घर के निकट मिली कार के मालिक का शव मिला, एटीएस करेगा मामले की जांच ◾भारत-स्वीडन ने संबंधों को गहरा करने का संकल्प जताया, लोफवेन ने 'लोकतांत्रिक महाशक्ति' करार दिया ◾जलवायु को लेकर PM मोदी बोले- जलवायु परिवर्तन और आपदा दुनिया के समक्ष बड़ी चुनौतियां हैं◾मुकेश अंबानी के बाहर मिली विस्फोटक से लदी कार के मालिक का शव मिला, फड़णवीस ने कहा- NIA करे जांच ◾असम चुनाव के लिए भाजपा ने जारी की 70 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, माजुली से लड़ेंगे CM सर्बानंद ◾अखिलेश यादव ने केंद्र पर बोला हमला, कहा- अहंकार ने दिल्‍ली के शासकों को 'अंधा और बहरा' बना दिया ◾चुनाव आयोग ने कहा- बंगाल के प्रभारी चुनाव उपायुक्त पर पूरा भरोसा, सुदीप जैन पर TMC पर लगाए थे गंभीर आरोप ◾पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर कांग्रेस का केंद्र पर तंज, कहा- सरकार सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को बेच रही है◾पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर बोलीं वित्त मंत्री- केंद्र और राज्य सरकार दोनों को साथ चर्चा करनी चाहिए◾Ind vs Eng : ऋषभ पंत के शतक से भारत को पहली पारी में बढ़त, दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक स्कोर 294/7 ◾SC ने कहा- डिजिटल प्लेटफॉर्म के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए केंद्र सरकार के पास कोई प्रावधान नहीं◾देश में 1.8 करोड़ से अधिक लोगों का हुआ कोविड-19 टीकाकरण, देश में अभी भी 1,76,319 लोग उपचाराधीन ◾बंगाल चुनाव : TMC ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट, नंदीग्राम से चुनाव लड़ेंगी ममता◾विधानसभा चुनाव : अन्नाद्रमुक ने जारी की पहली उम्मीदवारों की सूची, CM पलानीस्वामी लड़ेंगे इडाप्पडी से चुनाव◾चीन ने अपना रक्षा बजट बढ़ाकर किया 209 अरब डालर, भारत के मुकाबले तीन गुना से अधिक ◾PM मोदी बोले-सरकार का दखल समाधान के बजाय पैदा करता है समस्या◾सुशांत ड्रग्‍स केस में NCB ने दाखिल की 30 हज़ार पेज की चार्जशीट, रिया समेत 33 लोगों के नाम शामिल ◾Tax कमाने के लिए जनता को महंगाई के दलदल में धकेलती जा रही है सरकार : राहुल◾Today's Corona Update : देश में कोरोना के 16,838 नए मामले, 113 और मरीजों की मौत ◾बंगाल चुनाव से 14 दिन पहले राकेश टिकैत करेंगे बंगाल का दौरा, BJP के खिलाफ करेंगे कैंपेन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

रूस की सख्त नसीहत : रूसी वैक्सीन की खिलाफत के बजाए कोरोना से लड़े अमेरिका

रूस ने अमेरिका से कहा है कि वह कोरोना की रूसी वैक्सीन के खिलाफ अभियान चलाने की बजाए अपने देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण को रोकने की दिशा में काम करे। अमेरिका में रूसी दूतावास की ओर से गुरुवार को ट्विटर पर एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी गयी। 

वक्तव्य के मुताबिक रूस ने कहा है कि कोविड-19 की वैक्सीन विकसित करने के लिए इच्छुक देशों के बीच सहयोग बढ़ाने के लिए राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक वर्चुअल सम्मेलन का आह्वान किया है। अमेरिका को पुतिन के इस प्रस्ताव का विरोध नहीं करना चाहिए, बल्कि उसे कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत कर अपने देशवासियों का जीवन बनाने की दिशा में काम करना चाहिए। 

अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मोर्गन ओर्टागुस ने इससे पहले ट्विटर पर कहा, ‘‘ पुतिन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र में दावा किया है कि कोरोना की रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-5 पूरी तरह से भरोसेमंद, सुरक्षित और प्रभावी है। लेकिन रूस ने इसके तीसरे चरण का परीक्षण शुरू किए बिना ही इसे मान्यता देकर इसका पंजीकरण भी कर दिया है। विशेषज्ञों ने स्पूतनिक-5 के पहले और दूसरे चरण के परीक्षण के डेटा को लेकर भी सवाल खड़े किए हैं।’’

 पुतिन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र को मंगलवार को संबोधित करते हुए कहा है कि रूस कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में अन्य देशों के साथ सहयोग करने को लेकर प्रतिबद्ध है। रूसी राष्ट्रपति ने इसके मद्देनजर एक वर्चुअल सम्मेलन बुलाने का भी सुझाव दिया जिसमें सभी देश मिलकर कोविड-19 की वैक्सीन पर काम करने की चर्चा करें। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारियों को कोरोना की रूसी वैक्सीन निशुल्क देने का भी प्रस्ताव रखा। 

गौरतलब है कि रूस 11 अगस्त को कोविड-19 की वैक्सीन का पंजीयन कराने वाला दुनिया का पहला देश बन गया। यह वैक्सीन संभवत:अगले साल एक जनवरी से आम लोगों के लिए उपलब्ध होगी। रूस के गैमेलिया रिसर्च इंस्टिट्यूट और रक्षा मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से विकसित ‘स्पूतनिक-5’ के नाम से जानी जाने वाली कोरोना वैक्सीन सबसे पहले कोरोना संक्रमितों के इलाज में जुटे स्वास्थ्य कर्मियों को दी जायेगी। इस वैक्सीन का उत्पादन संयुक्त रूप से रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) द्वारा किया जा रहा है।

अफगान अधिकारी : सुरक्षाचौकियों पर किया हमला, 28 पुलिसकर्मियों की मौत