BREAKING NEWS

गुजरात को मिलेगी विकास की सौगात, पीएम मोदी ने सूरत में कहा - गुजरात का गौरव बढ़ाने का मिला सौभाग्य◾PFI BAN : लगातार करवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे सकता है पीएफआई, ट्विटर अकाउंट पर भी बैन ◾सोनिया से बगावत के बाद आज पहली बार मिलेंगे गहलोत, पायलट ने भी दिल्ली में डाला डेरा◾गरबा में छिपाकर कर आए मुस्लिम युवको को बजरंग दल ने जमकर पीटा, इंदौर से अहमदाबाद तक मचा बवाल ◾तीन साल और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहेंगे नड्डा, नहीं करना चाहती BJP पार्टी में बदलाव !◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटो में संक्रमण के 4,272 नए मामले दर्ज़, 27 लोगों की मौत ◾पायलट गुट के विधायकों ने तोड़ी चुप्पी, अशोक गहलोत पर कह दी बड़ी बात ◾अशोक गहलोत ने बीजेपी पर साधा निशाना, सोनिया गांधी पर भी दिया बड़ा बयान ◾अशोक गहलोत ने कांग्रेस हाईकमान के सामने मानी हार, जानिए दिल्ली एयरपोर्ट पर क्या कहा ◾जम्मू-कश्मीर : उधमपुर में 8 घंटे के भीतर दो बड़े धमाके, बसों में हुए दोनों ब्लास्ट◾प्रियंका गांधी को बनाया जाए कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के सांसद ने पेश की ये बड़ी दलील◾अशोक गहलोत का कटेगा पत्ता? कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर संशय◾आज का राशिफल (29 सितंबर 2022)◾दिग्विजय बनाम थरूर की ओर बढ़ रहा कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव◾दिल्ली पहुंचे गहलोत ने सोनिया के नेतृत्व को सराहा व संकट सुलझने की जताई उम्मीद ◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की सुनील छेत्री की सराहना◾टाट्रा ट्रक भ्रष्टाचार मामले में पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी से की गई जिरह◾PFI से पहले RSS पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए था - लालू◾IND vs SA (T20 Match) : भारत ने पहले टी20 मैच में दक्षिण अफ्रीका को 8 विकेट से हराया◾Ukraine crisis : यूक्रेन संकट का स्वरूप अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए ‘घोर चिंता’ का विषय - भारत◾

पेलोसी के ताइवान दौरे के बाद से गुस्से में चीन, दक्षिण पूर्व एशिया के साथ संबंधों पर दिया जोर

अमेरिकी सीनेट स्पीकर नैंसी पेलोसी के ताइवान दौरे के बाद से चीन एकदम गर्म हो गया है। धमकियां तो दे ही रहा है, यहां तक कि नैंसी के लौटते ही ताइवान की नाकेबंदी भी कर दी है। इतना ही नहीं रुका, ताइवान से सटे सभी इलाकों पर युद्धाभ्यास भी शुरू कर दिया है। इसी बीच चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के विदेश मंत्रियों के साथ एक बैठक में संबंधों को मजबूत करने के प्रयासों पर जोर दिया है। 

संयम बरतने और भड़काऊ कार्रवाई से बचने को कहा

समूह ने इससे पहले दिन में एक बयान जारी कर अमेरिका और चीन दोनों से दौरे के मद्देनजर “अधिकतम संयम” बरतने और “भड़काऊ कार्रवाई से बचने” को कहा था। चीन ताइवान के स्वशासी द्वीप पर अपने क्षेत्र के रूप में दावा करता है और ताइवान के अधिकारियों द्वारा विदेशी सरकारों के साथ किसी भी तरह के जुड़ाव का विरोध करता है।

चीन ने सहयोग पर दिया जोर 

अपनी शुरुआती टिप्पणी में वांग ने स्थिति का उल्लेख नहीं किया और इसके बजाय इस पर जोर दिया कि कैसे चीन और आसियान देशों ने हाल के वर्षों में सहयोग को मजबूत किया है। आसियान में ब्रूनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमा, फिलीपीन, सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम शामिल हैं।