BREAKING NEWS

राहुल गांधी को मिला अभिनेत्री स्वरा भास्कर का साथ, Bharat Jodo Yatra में दिग्गज नेताओं के साथ हुईं शामिल◾दूल्हे ने स्टेज पर किया KISS ..तो दुल्हन ने तोड़ी शादी, बोली-इनका चरित्र ठीक नहीं◾अमेरिका में VR Headset नहीं खरीदने पर 10 साल के बच्चे ने की अपनी मां हत्या◾गुजरात : मतदान से पहले BJP उम्मीदवार पर जानलेवा हमला, कांग्रेस पर लगा गंभीर आरोप◾Shraddha Murder Case: नार्को में सवालों के जवाब उगलेगा आफताब, अस्पताल के बाहर कड़ी सुरक्षा◾गुजरात चुनाव 2022 : जानिये कौन है साइकिल पर गैस सिलेंडर लेकर वोट डालने पहुंचे कांग्रेस उम्मीदवार◾श्रद्धा मर्डर केस : आज होगा आफताब का नार्को टेस्ट, आरोपी को अंबेडकर अस्पताल लेकर पहुंची पुलिस◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में 291 नए मामले दर्ज, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 4,767 ◾गुजरात विधानसभा चुनाव : पहले चरण के लिए मतदान शुरू, 788 उम्मीदवारों की किस्मत का होगा फैसला ◾गुजरात चुनाव के पहले चरण का मतदान शुरू, PM मोदी व गृहमंत्री ने की बड़ी संख्या में मतदान की अपील◾आज का राशिफल (01 दिसंबर 2022)◾खुद के विकास में जुटे नेता, एमसीडी चुनाव दोबारा लड़ रहे 75 पार्षदों की संपत्ति में तीन से 4,437% तक की वृद्धि : ADR◾SC ने कहा- सबसे महत्वपूर्ण सवाल, क्या ‘जल्लीकट्टू’ को किसी भी रूप में अनुमति दी जा सकती◾सीएम योगी ने कहा- सैनी ने मुजफ्फरनगर की गरिमा बचाने के लिए खोई विधानसभा सदस्यता◾Congress ने कहा- तीसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर और गिरने का डर, सच्चाई से मुंह नहीं मोड़ें PM◾Delhi Excise Policy: अमित अरोड़ा की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने 7 दिन के लिए ईडी हिरासत में भेजा◾धामी सरकार का कट्टरपंथियों पर प्रहार, विधानसभा में सख्त प्रावधान वाला धर्मांतरण रोधी संशोधन ​विधेयक पारित◾गुजरात पर चुनाव पूर्व सर्वेक्षण से कांग्रेस को तकलीफ, EC से कार्रवाई की मांग की◾GDP growth rate दूसरी तिमाही में घटकर 6.3% रही, विनिर्माण, खनन क्षेत्रों में गिरावट का असर◾Border dispute: महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद के बीच बेलगावी जिले में सुरक्षा सख्त◾

भारत में सऊदी अरब का निवेश बढ़ाने के लिये शीर्ष स्तर पर होगी व्यवस्था

ब्यूनस आयर्स : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सऊदी अरब के वली अहद (क्राउन प्रिंस) मोहम्मद बिन सलमान ने जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर यहां मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच सऊदी अरब का भारत में ऊर्जा, आधारभूत संरचना और रक्षा क्षेत्रों में निवेश बढ़ाने के लिये नेतृत्व के स्तर पर एक प्रणाली स्थापित किये जाने का फैसला किया गया।

दोनों नेताओं ने बैठक के दौरान आर्थिक, सांस्कृतिक और ऊर्जा संबंधों को आगे बढ़ाने पर चर्चा की। विदेश सचिव विजय गोखले ने बैठक के बाद कहा, ‘‘यह बैठक गर्मजोशी और दोस्ताना माहौल में हुई।’’ सलमान ने भारत को एक महत्वपूर्ण भागीदार बताया।

उन्होंने कहा, इस बारे में विशिष्ट चर्चा हुई कि सऊदी अरब कैसे दो से तीन साल में भारत में विभिन्न क्षेत्रों में अपना निवेश बढ़ा सकता है।सलमान ने कहा कि सऊदी अरब राष्ट्रीय बुनियादी संरचना कोष में शुरुआती निवेश को अंतिम रूप देगा।

किसान आंदोलन में एक जुट हुआ विपक्ष, पीएम मोदी पर जमकर बरसे राहुल और केजरीवाल

गोखले ने कहा, उन्होंने प्रौद्योगिकी, कृषि और ऊर्जा क्षेत्रों में निवेश की भविष्य की संभावनाओं का भी जिक्र किया। गोखले ने कहा, ‘‘दोनों नेता इस बात पर सहमत हुए कि ऊर्जा से लेकर खाद्य सुरक्षा और बुनियादी संरचना से लेकर रक्षा तक निवेश, प्रौद्योगिकी और विनिर्माण के संदर्भ में ठोस कदम उठाने की संभावनाओं को लेकर नेतृत्व के स्तर पर प्रणाली तैयार की जाएगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह व्यवस्था जल्दी ही तैयार होगी और हमें उम्मीद है कि अगले दो-तीन साल में भारत में सऊदी अरब का निवेश उल्लेखनीय तरीके से बढ़ेगा।’’

प्रधानमंत्री ने स्थिर और अनुमानित दायरे में तेल कीमतों के महत्व पर जोर दिया। इस बात पर भी चर्चा हुई कि विशेषकर भारत के लिये कच्चे तेल की कीमतें स्थिर रखने में सऊदी अरब कैसे मदद कर सकता है।

सऊदी अरब भारत का चौथा सबसे बड़ा व्यापार भागीदार है। भारत अपनी जरूरत का 19 प्रतिशत कच्चा तेल सऊदी अरब से खरीदता है। गोखले ने कहा, ‘‘क्राउन प्रिंस सलमान ने सऊदी अरब को बनाने में कई सालों से भारतीयों के योगदान को याद किया और इसके लिये आभार प्रकट किया।’’

मोदी ने मुलाकात के बाद ट्वीट किया, ‘‘‘क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान अल सऊद के साथ सार्थक बातचीत हुई। हमने भारत-सऊदी अरब के संबंधों के अनेक पहलुओं और आर्थिक, सांस्कृतिक और ऊर्जा संबंधों को और बढ़ाने के उपायों पर चर्चा की।’’

प्रधानमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने कहा, ‘‘पिछले कुछ वर्षों में सऊदी अरब गणराज्य एक मूल्यवान साझेदार रहा है। इन संबंधों का विस्तार भारतीय समुदाय से परे अर्थव्यवस्था, ऊर्जा और सुरक्षा से जुड़े मुद्दों तक हुआ है। द्विपक्षीय और क्षेत्रीय हित के सभी मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।’’

पत्रकार जमाल खशोगी की इस्तांबुल के सऊदी दूतावास में दो अक्टूबर को हुई हत्या के बाद यह पहला मौका है जब सलमान ने किसी वैश्विक मंच के कार्यक्रम में हिस्सा लिया हो।