BREAKING NEWS

Delhi Lieutenant Governor: विनय कुमार सक्सेना ने दिल्ली के नए उपराज्यपाल के रूप में शपथ ली◾पूरे हुए मोदी सरकार के 8 साल... जानें किन अहम बदलावों के लिए किया जाएगा प्रधानमंत्री को याद!◾UP Budget 2022 : योगी सरकार ने महिला सुरक्षा, रोजगार और मेट्रो के लिए की घोषणा, जानिए खास बातें ◾J&K : शूटिंग पर जाने से मना किया तो टीवी कलाकार को मारी गोली, आतंकियों की तलाश में जारी है सर्च ऑपेरशन◾डिंपल यादव नहीं... जयंत चौधरी होंगे राज्यसभा जाने वाले तीसरे उम्मीदवार, SP-RLD के संयुक्त प्रत्याशी ◾महाराष्ट्र : परिवहन मंत्री अनिल परब के घर ED ने मारा छापा, सौमेया बोले- कैबिनेट के तीसरे मंत्री जेल...... ◾World Corona: 52.7 करोड़ नए मामलों की हुई पुष्टि, जानें अब तक कितने लोगों ने गंवाई जान ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,628 नए केस, 18 मरीजों की हुई मौत ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,628 नए केस, 18 मरीजों की हुई मौत ◾अभ्यास बाद में करें खिलाड़ी, IAS अफसर को ट्रैक पर टहलाना है कुत्ता, जानिए क्या है मामला ◾योगी सरकार आज पेश करेगी अपने 2.O कार्यकाल का बजट, संकल्प पत्र में किए गए वादों पर रहेगा जोर ◾अफगानिस्तान : दो अलग-अलग विस्फोट में हुई 14 लोगों की मौत, ISIS ने ली हमले की जिम्मेदारी ◾J&K: कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों ने ढेर किए LET के 3 आतंकी, 24 घंटे में 6 का हुआ सफाया ◾Yasin Malik News: टेरर फंडिंग मामले में यासीन मलिक को हुई उम्रकैद की सजा! 10 लाख का लगाया गया जुर्माना◾यासिन मलिक को उम्रकैद की सजा मिलने के बाद घाटी में मचा कोहराम! हिंसा की वजह से बंद हुआ इंटरनेट ◾ओडिशा में दुर्घटना को लेकर मोदी बोले- इस घटना से काफी दुखी हूं, जल्द स्वस्थ होने की करता हूं कामना◾वहीर पारा को जमानत मिलने पर महबूबा मुफ्ती बोलीं- मैं आशा करती हूं वह जल्द ही बाहर आ जाएंगे◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 26 मई को महिला जनप्रतिनिधि सम्मेलन-2022 का उद्घाटन करेंगे◾UP विधानसभा में भिड़े केशव मौर्य और अखिलेश यादव.. जमकर हुई तू-तू मैं-मैं! CM योगी को करना पड़ा हस्तक्षेप◾सपा का हाथ थामने पर जितिन प्रसाद ने कपिल सिब्बल पर किया कटाक्ष, कहा- कैसा है 'प्रसाद'?◾

कनाडा की सीमा पर चार भारतीयों की मौत पर PM ट्रूडो बोले- बेहद दुखद मामला, सख्त कार्रवाई करूंगा

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने अमेरिकी सीमा के पास भीषण सर्दी में फंसकर चार भारतीय की मौत को दिमाग को झकझोर देने वाली त्रासदी करार दिया है। उन्होंने कहा है कि उनकी सरकार अमेरिका के साथ मिलकर मानव तस्करी को रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। वहीं, कनाडा में भारतीय उच्चायोग स्थानीय प्रशासन से मिलकर घटना की वजहों को पता लगाने की कोशिश कर रहा है।

एक परिवार को इस तरह मरते देखना वाकई दुखद है। इससे भी ज्यादा बुरा है कि लोग उनकी मजबूरी का फायदा उठाकर मानव तस्करी को अंजाम दे रहे हैं।" उन्होंने कहा, “यही कारण है कि हम लोगों को अनियमित या अवैध तरीके से सीमा पार करने से हतोत्साहित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। हम जानते हैं कि ऐसा करने में बड़े जोखिम हैं।” 

मानव तस्करी रोकने के लिए अमेरिका के साथ काम कर रहा कनाडा

ट्रूडो ने कहा कि कनाडा तस्करी रोकने और लोगों को "जोखिम से बचाने" में मदद करने के लिए अमेरिका के साथ मिलकर काम कर रहा है।" मैनिटोबा रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (आरसीएमपी) ने गुरुवार को बताया कि एमर्सन के नजदीक कनाडा-अमेरिका सीमा पर कनाडा की ओर बुधवार को चार शव मिले, जिनमें दो शव वयस्कों के, एक किशोर का और एक शिशु का है। कनाडा का मैनिटोबा प्रांत मिनेसोटा में अमेरिकी सीमा से लगभग 10 किमी दूर है। 

मामले की जांच में जुटा भारतीय दूतावास 

टोरंटो में भारत के वाणिज्य दूतावास ने स्थानीय अधिकारियों और कानून प्रवर्तन के साथ समन्वय करने के लिए अधिकारियों की एक टीम मैनिटोबा में विन्निपेग भेजी है। कनाडा की पुलिस ने भी ओटावा में भारतीय अधिकारियों को जानकारी दी है। हालांकि, चार पीड़ितों की पहचान अभी तक तय नहीं हुई है और मैनिटोबा रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (आरसीएमपी) ने अपनी जांच जारी रखी है, सोमवार को पोस्टमार्टम होने की संभावना है।

गुजरात का था पीड़ित परिवार?

कनाडा की सीमा पर मृत पाए गए दुखद चार लोगों से जुड़े सात अन्य भारतीय नागरिकों को अमेरिका में गिरफ्तार किया गया था, और मिनेसोटा के अमेरिकी जिला अदालत के समक्ष होमलैंड सिक्योरिटी एजेंट द्वारा दायर एक हलफनामे के अनुसार, "सभी विदेशी नागरिक गुजराती बोलते थे”। इससे यह संभावना है कि पीड़ित भी गुजरात के थे, हालांकि पुलिस द्वारा इसकी पुष्टि की जानी बाकी है।

अमेरिका में पकड़े गए लोगों में से एक ने वहां एजेंटों को बताया कि उसने "धोखाधड़ी से प्राप्त छात्र वीजा के तहत भारत से कनाडा में प्रवेश करने के लिए भारी भरकम राशि का भुगतान किया"। फ्लोरिडा निवासी 47 वर्षीय एक व्यक्ति स्टीव शैंड को अमेरिकी अधिकारियों ने कथित रूप से "विदेशी नागरिकों की तस्करी" के आरोप में गिरफ्तार किया था। दो भारतीय नागरिक उसके साथ एक यात्री वैन में यात्रा करते हुए पाए गए थे, जबकि पांच अन्य पास में घूमते हुए पाए गए।