BREAKING NEWS

किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए सरकार ने बनाया रोडमैप : कृषि मंत्री ◾उत्तर भारत में बर्फबारी के बाद बढ़ी ठंड, दिल्ली में भी हुई बारिश ◾भाजपा नेता विनय कटियार को मिली जान से मारने की धमकी◾नागरिकता विधेयक पर बवाल के बीच गुवाहाटी के पुलिस प्रमुख हटाए गए, अन्य अधिकारियों का भी तबादला ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को राष्ट्रपति की मंजूरी, कानून बना ◾राज्यों की जीएसटी क्षतिपूर्ति के वादे को पूरा करेगा केन्द्र, समयसीमा नहीं बताई - सीतारमण◾ठाकरे ने गृह शिवसेना, वित्त राकांपा और राजस्व कांग्रेस को दिया ◾फिर बढ़े प्याज के दाम, सरकार ने किए 12660 टन आयात के नए सौदे◾असम के हथकरघा मंत्री के आवास पर हमला, तेजपुर, ढेकियाजुली में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू◾जब लोकसभा में मुलायम सिंह ने पूछा ... ‘‘सत्ता पक्ष कहां है''◾केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय विधेयक को लोकसभा की मंजूरी, निशंक ने सभी भारतीय भाषाओं को सशक्त बनाने पर दिया जोर ◾भारत और अमेरिका के बीच ‘टू प्लस टू’ वार्ता 18 दिसम्बर को वाशिंगटन में होगी : विदेश मंत्रालय◾TOP 20 NEWS 12 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की सभी पुनर्विचार याचिकाएं◾महाराष्ट्र में BJP की कोर समिति की सदस्य नहीं, बावजूद पार्टी नहीं छोड़ूंगी : पंकजा मुंडे◾झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनते ही किसानों का ऋण किया जाएगा माफ : राहुल गांधी ◾CAB :बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने भारत दौरा किया रद्द ◾झारखंड विधानसभा चुनाव: तीसरे चरण में 17 सीटों पर वोटिंग जारी, दोपहर 1 बजे तक 45.14 प्रतिशत मतदान◾झारखंड : धनबाद में रैली को संबोधित करते हुए बोले PM मोदी-कांग्रेस में सोच और संकल्प की कमी◾असम के लोगों से PM की अपील, कांग्रेस बोली- मोदी जी, वहां इंटरनेट सेवा बंद है◾

विदेश

ताइवान की शांति और स्थिरता के लिए खतरा है चीन: राष्ट्रपति साई इंग वेन

 taiwan

ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग-वेन ने ‘नेशनल डे’ पर बृहस्पतिवार को कहा कि चीन ताइवान को “लगातार” धमका रहा है और वह क्षेत्र की शांति एवं स्थिरता के लिए बड़ी चुनौती बन गया है। साई की यह टिप्पणी चीन द्वारा स्वशासित द्वीप के लोकतंत्र को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने की नये सिरे से कोशिश करने के बीच आई है।

चीन ताइवान को अपना क्षेत्र बताता है और उसे अलग-थलग करने के लिए उसके शेष बचे कूटनीतिक सहयोगियों को दूर करने की कोशिश कर रहा है। साथ ही साई की यह टिप्पणी हांग कांग में पिछले कुछ महीनों से हो रहे सरकार विरोधी प्रदर्शनों के मद्देनजर भी आई है। साई ने राष्ट्रपति भवन में दिए अपने भाषण में कहा, “चीन अपने ‘एक देश, दो तंत्र’ कार्यक्रम के इस्तेमाल के जरिए हमें लगातार धमका रहा है और सभी तरह के हमले करने के साथ ही क्षेत्र की शांति एवं स्थिरता के लिए बड़ी चुनौती बनता जा रहा है।” 

फ्रांस यात्रा के नतीजे दोनों देशो के बीच रक्षा सहयोग को करेंगे मजबूत : राजनाथ सिंह

चीन ने 2016 में साई के राष्ट्रपति बनने के साथ ही उनकी सरकार से संपर्क तोड़ लिया था क्योंकि उन्होंने द्वीप पर चीन के दावे को खारिज कर दिया था। ताइवान के बड़े कारोबारी समुदाय को चीन की तरफ आकर्षित कर साई के समर्थन को कम करने के बीजिंग के प्रयासों के बावजूद वह अगले साल होने वाले चुनावों में जीत की सबसे प्रबल दावेदार हैं।