BREAKING NEWS

Bharat Jodo Yatra: मूसलाधार बारिश के बीच बेपरवाह राहुल गांधी ने मैसूर में जनसभा को संबोधित किया◾India vs South Africa 2nd T20I: भारत ने दूसरे टी-20 मैच में 16 रनों से जीत हासिल कर टी-20 सीरीज़ पर रचा बड़ा इतिहास◾ महाराष्ट्र : सीएम शिंदे की जान को खतरा, बढाई गई सुरक्षा◾सियासत के धरती पुत्र मुलायम सिंह की बिगड़ी तबीयत, आईसीयू में शिफ्ट◾उद्धव गुट में टूट जारी, वर्ली के 3000 शिवसैनिकों ने थामा शिंदे गुट का दामन ◾फिर उबाल मार रहा हैं खालिस्तान मूवमेंट, बठिंडा में दीवार पर लिखे गए खालिस्तान समर्थक नारे◾पुलवामा में आतंकी हमला, एक पुलिस जवान शहीद, सशस्त्र बल का जवान घायल ◾बीजेपी ने नीतीश कुमार को दी सलाह, कहा - आपकी विदाई तय, बांध लें बोरिया-बिस्तर◾Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव क्यों लड़ रहे हैं मल्लिकार्जुन खड़गे? बताया पूरा प्लान ◾खड़गे से खुले आसमान के नीचे बहस करने के लिए तैयार हूं - शशि थरूर ◾ महात्मा गांधी की विरासत को हथियाना आसान पदचिन्हों पर चलना मुश्किल : राहुल गांधी ◾मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महात्मा गांधी, लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित की◾इस बात पर गौर किया जाना चाहिए कि नए मुख्यमंत्री के नाम पर विधायकों में नाराजगी क्यों है : गहलोत◾पायलट को बीजेपी का खुला ऑफर, घर लक्ष्मी आए तो ठुकराए नहीं ◾राजस्थान में बढ़ा सियासी बवाल, अशोक गहलोत ने विधायकों की बगावत पर दिया बड़ा बयान◾राजद नेताओं पर जगदानंद सिंह ने लगाई पाबंदिया, तेजस्वी यादव पर टिप्पणी ना करने की मिली सलाह ◾ इयान तूफान के कहर से अमेरिका में हुई जनहानि पर पीएम मोदी ने जताई संवेदना ◾महात्मा गांधी की ग्राम स्वराज अवधारणा से प्रेरित हैं स्वयंपूर्ण गोवा योजना : सीएम सावंत◾उत्तर प्रदेश: अखिलेश यादव पर राजभर ने कसा तंज, कहा - साढ़े चार साल खेलेंगे लूडो और चाहिए सत्ता◾ पीएम मोदी ने गांधी जयंती पर राजघाट पहुंचकर बापू को किया नमन, राहुल से लेकर इन नेताओं ने भी राष्ट्रपिता को किया याद ◾

गलवान हिंसा पर Video जारी कर अपनी ही फजीहत करा बैठा चीन, पत्थरबाज सैनिक हुए एक्सपोज

भारत-चीन के बीच सीमा पर जारी तनाव के बीच एक बार फिर बीजिंग ने गलवान घाटी में हुए संघर्ष का वीडियो जारी किया है। आपको बता दे कि करीब 48 सेकंड के इस वीडिया में नजर आ रहा है कि पिछले साल जून में  गलवान नदी के जमा देने वाले पानी में भारतीय जवान मोर्चा संभाले हुए हैं और चीनी सेना के पत्‍थरबाजी का करारा जवाब दे रहे हैं। इस वीडियो में दोनों देशों के सैनिकों के बीच आमने-सामने की जंग भी दिख रही है।

और वीडियो में चीनी सैनिकों को पानी में बहते हुए भी देखा जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक चीन की कम्यूनिस्ट पार्टी का ये एक प्रोपेगेंडा वीडियो उन मारे गये चीनी सैनिकों के परिवार के लिए है, जिनमें चीन की सरकार को लेकर गुस्सा है।

रिपोर्ट के मुताबिक चीन की कम्यूनिस्ट पार्टी की तरफ से इस वीडियो को जारी किया गया है और इसे चीन के सरकारी चैनल पर दिखाया गया है इस वीडियो में मारे गये चीनी सैनिकों के परिवार से बात की गई है। 

वीडियो में आप साफ देख सकते हैं कि भारत और चीन के सैनिकों के बीच जोरदार संघर्ष हो रहा है और दोनों देशों के सेनाओं के बीच पत्थरबाजी हो रही है। ये वीडियो देर रात का है और दिख रहा है कि सैकड़ों की संख्या में सैनिक वहां मौजूद हैं। इस वीडियो में दिख रहा है कि चीनी सैनिक पानी की तेज धार में बह रहे हैं और दूसरे सैनिक उन्हें संभालने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं, वीडियो में दिख रहा है कि एक चीनी सैनिक पानी की तेज धार में बह गया है।

वही देखा जा सकता है कि चीनी सैनिक ऊंचाई वाली जगह पर खड़े हैं और गलवान घाटी में पानी के बीच खड़े भारतीय जवानों पर पत्‍थर बरसा रहे हैं। 

इस वीडियो में हिंसा की रात के भी कुछ दृश्‍य दिखाए गए हैं। वीडियो में नजर आ रहा है कि लाठी और धारधार हथियारों से लैस चीनी सेना के सामने भारतीय जवान डटे हुए हैं। वीडियो देखकर यह लग रहा है कि भारतीय जवानों ने बहुत कठिन परिस्थितियों में चीनी सेना को करारा जवाब दिया। 

गौरतलब है कि पिछले साल अप्रैल के महीने में पूर्वी लद्दाख के इलाके में भारत और चीन की सेनाएं आमने सामने हो गई थी। जिसके बाद 15 जून को दोनों देश की सेनाओं के बीच हिंसक झड़प की ख़बरें सामने आई थी जिसमें 20 भारतीय सैनिकों की मौत हो गई थी। 

शुरू में चीन ने अपने किसी भी जवान के मौत की खबर से इंकार किया था लेकिन बाद में चीन ने माना था कि इस हिंसक संघर्ष में उसके 4 सैनिकों की मौत हुई। हालांकि कई जानकार कहते हैं चीनी सैनिकों की मौत का आंकड़ा इससे ज्यादा था।

पिछले एक साल से अधिक समय से चल रहे संघर्ष के बीच मंगलवार को दोनों देश के सेना की ओर से साझा बयान जारी किया गया है जिसमें कहा गया है कि दोनों पक्षों के बीच सीमा विवाद को लेकर आपसी समझ बढ़ी है। साथ ही भारत ने कहा कि सीमा विवाद का हल दोनों देशों के संबंधों के लिए महत्वपूर्ण है। इससे पहले 14 जुलाई को दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच हुई बैठक में भी सीमा विवाद को हल करने का मुद्दा उठाया गया था।