BREAKING NEWS

Mother Dairy hikes Today: मदर डेयर दूध के भी बढ़े दाम, दो रूपये लीटर की हुई बढ़ोतरी, कल से होगा लागू◾खनन से प्रभावित लोगों की भलाई के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही है मोदी सरकार, जानिए पूरी जानकारी ◾ट्रंप की संपत्ति से जुड़ी जानकारी छिपा रहा न्याय विभाग, जांच में नुकसान होने का दिया हवाला ◾Rajasthan: गहलोत का सचिन पायलट पर कटाक्ष, कहा- जुमला बन गया है कार्यकर्ताओं का मान-सम्मान◾जम्मू-कश्मीरः सुरक्षाबलों की मौत पर राष्ट्रपति मुर्मू ने जताया दुख, घायलों के शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की ◾Ratan Tata Invests : वरिष्ठ नागरिकों के सहयोग के लिए स्टार्टअप गुडफेलोज में किया निवेश◾कश्मीरी पंडित की हत्या पर उमर अब्दुल्ला सहित कई राजनेताओं ने जताया दुख, जानिए क्या कहा? ◾Amul Milk Price Hiked: देश में महंगाई का कहर! अमूल मिल्क के बढ़े दाम, इतने लीटर महंगा हुआ दूध◾राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने की मुलाकात ◾नीतीश को घेरने के लिए बीजेपी आलाकमान ने बुलाई बैठक, बिहार इकाई के प्रमुख नेता होंगे शामिल ◾WPI मुद्रास्फीति घटकर 13.93 फीसदी, खाद्य वस्तुओं सहित विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बड़ी गिरावट ◾WPI मुद्रास्फीति घटकर 13.93 फीसदी, खाद्य वस्तुओं सहित विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बड़ी गिरावट ◾मुम्बई में बारिश को लेकर मौसम विभाग का बड़ा अलर्ट, 24 घंटे के अंदर होगी झमाझम बारिश ◾Bihar Politics : नीतीश मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार , तेज प्रताप समेत RJD से 16 मंत्री बने ◾गहलोत के अर्धसैनिक बलों के ट्रकों में 'अवैध धन' ले जानें वाले बयान पर बीजेपी का पलटवार, जानिए मामला◾NSE Phone Tapping Case : मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त की जमानत अर्जी पर ED को नोटिस जारी◾J-K News: जम्मू कश्मीर के पहलगाम में दर्दनाक हादसा, 39 जवानों की बस खाई में गिरी, 6 की मौत, जानें स्थिति ◾जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने दो कश्मीरी पंडित भाइयों पर बरसाई गोलियां, एक की मौत, एक घायल◾बिहार : नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल के 31 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली, कांग्रेस नेता भी शामिल ◾कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने उठाई 3 दशकों से जेल में बंद सिख कैदियों की रिहाई की मांग ◾

चीनी सेना ने ताइवान के निकट समुद्र में किया सैन्य अभ्यास, दोनों देशों में जंग से हालात

चीनी सेना ने लड़ाकू विमानों, पनडुब्बी रोधी विमानों और लड़ाकू जहाजों के साथ मंगलवार को ताइवान के निकट सैन्य अभ्यास किया। पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने कहा कि यह अभ्यास चीन की संप्रभुता की रक्षा के लिए आवश्यक था। चीन ने स्वशासित ताइवान के आसपास सैन्य अभ्यास तेज कर दिया है जिसे वह अपना क्षेत्र मानता है।

पूर्वी थिएटर कमान के प्रवक्ता शी यी ने एक बयान में कहा कि हाल में अमेरिका-ताइवान के उकसावे ने चीनी संप्रभुता का गंभीर उल्लंघन किया है। यह अभ्यास ताइवान के दक्षिण-पश्चिमी और दक्षिण-पूर्वी जल क्षेत्र के पास आयोजित किया गया।ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि उसने समुद्र और हवा की स्थिति को पूरी तरह से समझ लिया है और वह हर तरह से जवाब देने के लिए तैयार है। चीन ने जून में ताइवान की ओर रिकॉर्ड 28 लड़ाकू विमान उड़ाए थे। पिछले हफ्ते, अमेरिका और ताइवान के तटरक्षकों के अधिकारियों ने सहयोग और संचार में सुधार पर चर्चा करने के लिए मुलाकात की थी। 

गौरतलब है कि ताइवान पर 1949 से चीन का शासन है। चीन द्वीप को अपने प्रांत के रूप में देखता है, जबकि अपनी लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार वाले क्षेत्र ताइवान का कहना है कि वह एक स्वायत्त देश है और उसका कई अन्य देशों के साथ राजनीतिक और आर्थिक संबंध हैं जो उसकी संप्रभुता को मान्यता देते हैं। चीन उसकी स्वतंत्रता से मुखर रूप से इनकार करता है क्योंकि वह खुद को हर जगह चीनी लोगों का एकमात्र वैध राजनीतिक प्रतिनिधि मानता है।

UNSC में PAK ने अफगानिस्तान पर बाइडन के फैसले को बताया तार्किक, कहा- वार्ता से संघर्ष करें समाप्त