BREAKING NEWS

यूपी : योगी सरकार ने पुलिस विभाग में किया बड़ा फेरबदल, 11 IPS अधिकारियों के किए तबादले, देखें सभी की लिस्ट ◾J&K News: जम्मू कश्मीर के कठुआ में सुरक्षाबलों ने पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया गया◾'मन की बात' में बोले मोदी- देश में 'यूनिकॉर्न' कंपनियों की संख्या हुई 100, महामारी में भी बढ़ा स्टार्टअप और धन ◾नेपाल : 22 लोगों को लेकर जा रहा तारा एयरलाइन्स का विमान लापता, 4 भारतीय भी थे सवार, तलाश जारी ◾दिल्ली : साकेत कोर्ट के जज की पत्नी ने की आत्महत्या, कल से थी लापता, जांच में जुटी पुलिस ◾दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना की फोटो का इस्तेमाल कर युवक को दी धमकी, स्पेशल सेल कर रही जांच ◾यूपी : कर्नाटक से अयोध्या जा रहे श्रद्धालुओं के वाहन की ट्रक से टक्कर, 6 की मौत, 10 घायल ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,828 नए केस, उपचाराधीन मामलों की संख्या हुई 17 हजार 87 ◾इंडोनेशिया : इंजन फेल होने से मकासर जलडमरूमध्य में डूबा जहाज, 25 लोग लापता, तलाश जारी ◾भारत के टीकाकरण अभियान की बिल गेट्स ने की तारीफ, दुनिया को सीख लेने की दी नसीहत ◾राज्यसभा को लेकर झारखंड के CM हेमंत सोरेन ने की सोनिया गांधी से की मुलाकात, मिल सकती है एक सीट ? ◾लिपुलेख, कालापानी को लेकर नेपाल ने फिर दोहराया बयान, PM देउबा बोले- जमीन वापस लेने के लिए है प्रतिबद्ध ◾आज का राशिफल ( 29 मई 2022)◾पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल पानी के मुद्दों पर वार्ता के लिए अगले हफ्ते भारत आएगा◾वेंकैया नायडू ने तमिलनाडु में करुणानिधि की 16 फुट ऊंची प्रतिमा का किया अनावरण ◾ योगी सरकार का कामकाजी महिलाओं के लिए बड़ा फैसला, जानें ऑफिस टाइमिंग को लेकर क्या दिया आदेश ◾ J&K : अनंतनाग इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़, दो दहशतगर्द हुए ढेर ◾ Asia Cup 2022: रोमांचक मुकाबले में टीम इंडिया का शानदार प्रदर्शन, जापान को 2-1 से दी मात ◾ नैनो यूरिया संयंत्र का उद्घाटन कर पीएम मोदी, बोले- आत्मनिर्भरता में भारत की अनेक मुश्किलों का हल ◾ Gujarat News: देश में गुजरात का सहकारी आंदोलन एक सफल मॉडल, गांधीनगर में बोले अमित शाह ◾

पाकिस्तान में भ्रष्टाचार और यौन अपराध मुस्लिम जगत के समक्ष मुख्य समस्याएं, इमरान खान ने कहा

दिन दुगनी रात चौगुनी की गति से खस्ता होती पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था का हाल अब किसी से छिपा नहीं। इमरान खान ने पाकिस्तान की सत्ता में आने से पहले मुल्क में भ्रष्टाचार पर नकेल कसने का वादा किया था लेकिन अब उनके अपने मंत्री कह रहे हैं कि इमरान ऐसा करने में फेल हो गए।  प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि बढ़ता भ्रष्टाचार और यौन अपराध मुस्लिम जगत के समक्ष दो मुख्य समस्याएं हैं।

खान ने रविवार को दुनिया के शीर्ष मुस्लिम विद्वानों के साथ 'रियासत-ए-मदीना: इस्लाम, समाज और नैतिक पुनरुत्थान' विषय पर एक परिचर्चा के दौरान यह बात कही, जिसका आयोजन हाल में गठित नेशनल रहमतुल-लिल-आलमीन अथॉरिटी (एनआरएए) द्वारा किया गया था। खान ने पिछले वर्ष अक्टूबर में एनआरएए का गठन यह शोध करने के लिए किया था कि पैगंबर के जीवन से सबक को जनता तक कैसे पहुंचाया जाए।

विद्वानों ने इस बारे में अपने विचार प्रस्तुत किए कि कैसे युवाओं को उनकी आस्था और धार्मिक एवं नैतिक मूल्यों पर सोशल मीडिया के आक्रमण से बचाया जा सकता है। खान ने परोक्ष तौर पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के प्रमुख नवाज शरीफ पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘समाज में दो तरह के अपराध होते हैं, एक भ्रष्टाचार और दूसरा यौन अपराध। हमारे समाज में यौन अपराध तेजी से बढ़े हैं, यानी बलात्कार और बाल यौन उत्पीड़न तथा इस तरह की केवल एक प्रतिशत घटनाएं ही दर्ज हो पाती हैं।’’

खान ने कहा, ‘‘मेरा मानना ​​​​है कि समाज को अन्य 99 प्रतिशत (अपराधों) से लड़ना होगा। भ्रष्टाचार के मामले में भी ऐसा ही है... समाज को भ्रष्टाचार को अस्वीकार्य बनाना होगा। दुर्भाग्य से, जब आपके पास ऐसा नेतृत्व होता है जो समय के साथ भ्रष्ट हो जाता है, तो वे भ्रष्टाचार को स्वीकार्य बना देते हैं।’’ शरीफ (72) नवंबर 2019 से लंदन में हैं, जब लाहौर उच्च न्यायालय ने उन्हें इलाज के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश जाने की अनुमति दी थी। तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रह चुके शरीफ की बेटी मरियम और दामाद मुहम्मद सफदर को 6 जुलाई, 2018 को एवेनफील्ड संपत्ति मामले में दोषी ठहराया गया था।

शरीफ को दिसंबर 2018 में अल-अजीजिया स्टील मिल्स मामले में भी सात साल कैद की सजा सुनाई गई थी। हालांकि, उन्हें दोनों ही मामलों में जमानत मिल गई और इलाज के लिए लंदन जाने की इजाजत भी दे दी गई। ‘द डॉन’ अखबार ने अपनी खबर में संकेत दिया है कि प्रधानमंत्री खान भविष्य में भी प्रसिद्ध विद्वानों के साथ इसी तरह की परिचर्चा करेंगे। उन्होंने मुस्लिम युवाओं को इंटरनेट पर उपलब्ध अश्लीलता और अश्लील सामग्री से बचाने की आवश्यकता पर बल दिया।

विद्वानों ने आधुनिकता के नकारात्मक प्रभावों का मुकाबला करने के लिए मुस्लिम देशों द्वारा कुछ सामूहिक प्रयासों का सुझाव दिया।

जॉर्ज वाशिंगटन विश्वविद्यालय में इस्लामी अध्ययन के प्रोफेसर डॉ सैय्यद हुसैन नासिर ने कहा, ‘‘आज, दुनिया युवाओं के लिए एक अधिक अनिश्चित और खतरनाक जगह है।’’ उन्होंने इस्लाम के बारे में नकारात्मक लहजे में बात करने वाले पश्चिमी तत्वों की निंदा की और कहा कि यह धर्म पर हमला करने के समान है।