BREAKING NEWS

उत्तर प्रदेश : फतेहपुर में दोहराया गया 'उन्नाव कांड', बलात्कार के बाद पीड़िता को जिंदा जलाया ◾साबित हो गया कि मोदी ने झूठे वादे किए थे : मनमोहन सिंह◾जम्मू-कश्मीर : फारुक अब्दुल्ला की हिरासत अवधि 3 महीने और बढ़ी◾कानपुर : नमामि गंगे की बैठक के बाद PM मोदी ने नाव पर बैठकर गंगा की सफाई का लिया जायजा ◾झारखंड : अमित शाह बोले- CAB कानून के खिलाफ कांग्रेस भड़का रही है हिंसा◾मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, कभी माफी नहीं मांगने वाला : राहुल गांधी◾'भारत बचाओ रैली' में बोलीं सोनिया गांधी- भारत की आत्मा को तार-तार कर देगा नागरिकता संशोधन कानून◾संविधान और देश को विभाजन से बचाने के लिए पूरा देश आवाज उठाए: प्रियंका गांधी ◾'भारत बचाओ' रैली से पहले राहुल गांधी का ट्वीट, कहा- BJP सरकार की तानाशाही के खिलाफ बोलूंगा◾पीएम मोदी निर्मल गंगा के दर्शन करने पहुंचे कानपुर, एयरपोर्ट पर CM योगी ने किया स्वागत ◾केजरीवाल को मिला प्रशांत किशोर की कंपनी आई-पैक का साथ, विधानसभा चुनाव में AAP के लिए करेंगे काम◾पति ने मेट्रो के आगे कूदकर की आत्महत्या, पत्नी ने बेटी को फांसी लगाने के बाद की खुदकुशी ◾CAB : असम के गुवाहाटी में सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक कर्फ्यू में दी गई ढील◾दिल्ली के मुंडका में लकड़ी के गोदाम में लगी भीषण आग, दमकल की 20 गाड़ियां मौके पर मौजूद◾भारत में CAB से पड़ने वाले असर को लेकर चिंतित है अमेरिका◾आज कानपुर दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अविरल-निर्मल गंगा पर करेंगे मंथन◾एनएसएफ ने CAB विधेयक के खिलाफ आज छह घंटे का बंद का आह्वान किया ◾बजट 1 फरवरी को हो सकता है पेश : सूत्र ◾BJP की महिला सांसदों ने चुनाव आयोग से की राहुल गांधी की शिकायत ◾दिल्ली में अभी चुनाव हुए तो भाजपा को मिलेंगी 42 सीटें◾

विदेश

ईरान की ओर से उकसावे की हर कार्रवाई से पूरी ताकत से निपटेंगे : अमेरिका

 us iran 600x314

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि ऐसा कोई संकेत नहीं है कि ईरान पश्चिम एशिया में अमेरिकी हितों के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी कर रहा है। उन्होंने कहा कि ईरान के किसी भी उकसावे का करारा जवाब दिया जाएगा। ट्रंप ने सोमवार को व्हाइट हाउस प्रेस पूल की रिपोर्ट के हवाले से कहा, "हमें इस बात का कोई संकेत नहीं है कि कुछ हुआ है या होगा लेकिन अगर ऐसा होता है तो इसका करारा जवाब दिया जाएगा।"

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यह भी कहा कि अगर ईरान के अधिकारी समझौते के लिए हाथ बढाएंगे तो वह उनके साथ वार्ता करने के लिए तैयार होंगे। अमेरिका-ईरान के बीच तनाव पिछले साल पहली बार तब बढ़ा जब अमेरिका ने ईरान के साथ 2015 के परमाणु समझौते से एकतरफा हट गया और ईरान के खिलाफ प्रतिबंधों को लागू करना शुरू कर दिया।

us_iran

यदि ईरान हमला करता है, तो यह उसका आधिकारिक अंत होगा : ट्रम्प

ईरान ने 8 मई को परमाणु समझौते के तहत अपने दायित्वों को आंशिक रूप से बंद करने के अपने फैसले की घोषणा की। हाल के हफ्तों में अमेरिका ने पश्चिम एशिया में अपने सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी जिसे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने ईरानी शासन के लिए एक स्पष्ट संदेश बताया।

अमेरिका के रक्षा मंत्रालय के अनुसार अमेरिका ने हाल ही में युद्ध समूह वाहक एक विमान, पैट्रियोट मिसाइलों, बी-52 बमवर्षकों विमानों और एफ -15 लड़कू विमानों को तैनात किया है। ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई ने कहा है कि ईरान का अमेरिका के साथ युद्ध करने का इरादा नहीं है लेकिन वह अमेरिका का विरोध करता रहेगा।