BREAKING NEWS

भारत में होने जा रहा कोरोना की तीसरी लहर का आगाज? ओमीक्रॉन के खतरे के बीच मुंबई लौटे 109 यात्री लापता ◾देश में आखिर कब थमेगा कोरोना महामारी का कहर, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के इतने नए मामलों की हुई पुष्टि ◾लोकसभा में न्यायाधीशों के वेतन में संशोधन की मांग वाले विधेयक पर होगी चर्चा, कई दस्तावेज भी होंगे पेश ◾PM मोदी के वाराणसी दौरे से पहले 'गेरुआ' रंग में रंगी गई मस्जिद, मुस्लिम समुदाय में नाराजगी◾ओमीक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली फिर हो जाएगी लॉकडाउन की शिकार? जानें क्या है सरकार की तैयारी ◾यूपी : सपा और रालोद प्रमुख की आज मेरठ में संयुक्त रैली, सीट बटवारें को लेकर कर सकते है घोषणा ◾दिल्ली में वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज, प्रदूषण को कम करने के लिए किया जा रहा है पानी का छिड़काव ◾विश्व में वैक्सीनेशन के बावजूद बढ़ रहे है कोरोना के आंकड़े, मरीजों की संख्या हुई इतनी ◾सदस्यीय समिति को अभी तक सरकार से नहीं हुई कोई सूचना प्राप्त,आगे की रणनीति के लिए आज किसान करेंगे बैठक ◾ पीएम मोदी आज गोरखपुर को 9600 करोड़ रूपये की देंगे सौगात, खाद कारखाना और AIIMS का करेंगे लोकार्पण◾रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने भारत को एक बहुत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र बताया◾पंजाब के मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान के साथ सीमा व्यापार खोलने की वकालत की◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदली लेकिन हमारी दोस्ती नहीं....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾UP चुनाव को लेकर प्रियंका ने बताया कैसा होगा कांग्रेस का घोषणापत्र, कहा- सभी लोगों का विशेष ध्यान रखा जाएगा◾'Omicron' के बढ़ते खतरे के बीच MP में 95 विदेशी नागरिक हुए लापता, प्रशासन के हाथ-पांव फूले ◾महबूबा ने दिल्ली के जंतर मंतर पर दिया धरना, बोलीं- यहां गोडसे का कश्मीर बन रहा◾

डेमोक्रेट सांसदों ने एफबीआई प्रमुख की बर्खास्तगी की आलोचना की

वाशिंगटन : अमेरिका में डेमोक्रेट्स ने एफबीआई निदेशक जेम्स कोमी को बर्खास्त करने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले पर गुस्सा जताते हुए कहा कि एजेंसी ट्रंप की चुनाव प्रचार मुहिम में रूस के कथित हस्तक्षेप की जांच कर रही है, ऐसे में इस बर्खास्तगी से गंभीर सवाल खड़े होते हैं।

सीनेट में शीर्ष डेमोक्रेट सांसद चक शूमर ने संवाददाताओं से कहा, ''मैंने राष्ट्रपति से कहा, 'श्रीमान राष्ट्रपति, पूरे सम्मान के साथ मेरा कहना है कि आप बड़ी गलती कर रहे हैं।\" सीनेट अल्पसंख्यक नेता ने न्याय विभाग से एक विशेष अभियोजक नियुक्त करने की मांग की जो रूसी हैकिंग और 2016 के चुनावों में इसके असर के आरोपों की जांच करें।

उन्होंने कहा, ''अमेरिकी लोगों को यह भरोसा दिलाने की जरुरत है कि जांच बिना किसी पूर्वाग्रह के निष्पक्ष रूप से चल रही है। अमेरिकी लोग जांच पर केवल तभी भरोसा कर सकते हैं कि यह बिना किसी डऱ के, स्वतंत्र विशेष अभियोजक द्वारा की जाए।\" शूमर ने कहा कि सेली येट्स और प्रीत भरारा तथा अब कोमी जैसे शीर्ष अधिकारियों की बर्खास्तगी संयोग नहीं लग रहा। उन्होंने कहा, ''यह जांच जितना संभव हो सके व्हाइट हाउस और राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा नियुक्त व्यक्ति से दूर होकर करनी चाहिए।\" यह आश्चर्यजनक कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब कुछ ही दिन पहले कोमी ने चुनाव में रूसी हस्तक्षेप और रूस एवं ट्रंप की मुहिम के बीच संभावित मिलीभगत पर एफबीआई की जांच के बारे में कैपिटोल हिल के समक्ष बयान दिया था।

उन्होंने कहा, ''निदेशक कोमी ने जिस तरीके से क्लिंटन जांच की उससे अगर प्रशासन को आपत्ति थी तो उन्हें राष्ट्रपति के कार्यभार संभालते ही इस पर आपत्ति जतानी चाहिए थी लेकिन उन्होंने तब उन्हें बर्खास्त नहीं किया। आज यह क्यों हुआ?\" सदन में डेमोक्रेटिक कॉकस चेयरमैन जो क्रोली ने कहा कि कोमी को बर्खास्त करना बहुत परेशान करने वाली बात है।

उन्होंने कहा, ''राष्ट्रपति ट्रंप ने ऐसे व्यक्ति को निकाला है जो उनकी तथा उनके सहयोगियों की जांच कर रहे थे। मैं एक विशेष अभियोजक नियुक्त करने की मांग का कड़ा समर्थन करता हूं।\" इस कदम को ''अभूतपूर्व\" बताते हुए भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने कहा कि यह बहुत परेशान करने वाला है कि मुख्य कार्यकारी जांच कर रहे व्यक्ति को बर्खास्त करके उनके प्रशासन की जांच में हस्तक्षेप कर रहे हैं।

सशस्त्र सेवा समिति के रिपब्लिकन सीनेटर जॉन मैक्कैन ने कहा कि वह कोमी को बर्खास्त करने के ट्रंप के फैसले से निराश है।

- भाषा