BREAKING NEWS

PNB धोखाधड़ी मामला: इंटरपोल ने नीरव मोदी के भाई के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस फिर से किया सार्वजनिक ◾कोरोना संकट के बीच, देश में दो महीने बाद फिर से शुरू हुई घरेलू उड़ानें, पहले ही दिन 630 उड़ानें कैंसिल◾देशभर में लॉकडाउन के दौरान सादगी से मनाई गयी ईद, लोगों ने घरों में ही अदा की नमाज ◾उत्तर भारत के कई हिस्सों में 28 मई के बाद लू से मिल सकती है राहत, 29-30 मई को आंधी-बारिश की संभावना ◾महाराष्ट्र पुलिस पर वैश्विक महामारी का प्रकोप जारी, अब तक 18 की मौत, संक्रमितों की संख्या 1800 के पार ◾दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर किया गया सील, सिर्फ पास वालों को ही मिलेगी प्रवेश की अनुमति◾दिल्ली में कोविड-19 से अब तक 276 लोगों की मौत, संक्रमित मामले 14 हजार के पार◾3000 की बजाए 15000 एग्जाम सेंटर में एग्जाम देंगे 10वीं और 12वीं के छात्र : रमेश पोखरियाल ◾राज ठाकरे का CM योगी पर पलटवार, कहा- राज्य सरकार की अनुमति के बगैर प्रवासियों को नहीं देंगे महाराष्ट्र में प्रवेश◾राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने हॉकी लीजेंड पद्मश्री बलबीर सिंह सीनियर के निधन पर शोक व्यक्त किया ◾CM केजरीवाल बोले- दिल्ली में लॉकडाउन में ढील के बाद बढ़े कोरोना के मामले, लेकिन चिंता की बात नहीं ◾अखबार के पहले पन्ने पर छापे गए 1,000 कोरोना मृतकों के नाम, खबर वायरल होते ही मचा हड़कंप ◾महाराष्ट्र : ठाकरे सरकार के एक और वरिष्ठ मंत्री का कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव◾10 दिनों बाद एयर इंडिया की फ्लाइट में नहीं होगी मिडिल सीट की बुकिंग : सुप्रीम कोर्ट◾2 महीने बाद देश में दोबारा शुरू हुई घरेलू उड़ानें, कई फ्लाइट कैंसल होने से परेशान हुए यात्री◾हॉकी लीजेंड और पद्मश्री से सम्मानित बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन◾Covid-19 : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 54 लाख के पार, अब तक 3 लाख 45 हजार लोगों ने गंवाई जान ◾देश में कोरोना से अब तक 4000 से अधिक लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 39 हजार के करीब ◾पीएम मोदी ने सभी को दी ईद उल फितर की बधाई, सभी के स्वस्थ और समृद्ध रहने की कामना की ◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- निजामुद्दीन मरकज की घटना से संक्रमण के मामलों में हुई वृद्धि, देश को लगा बड़ा झटका ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

यूरोपीय शक्तियों ने ईरानी परमाणु समझौते पर बचनबद्धता दोहराई

वर्ष 2015 के ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका के अलग होने की अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की घोषणा के बाद यूरोपीय शक्तियों ने ईरानी परमाणु समझौते पर अपनी 'बचनबद्धता जारी' रखने का संकल्प लिया है। अमेरिका ने ईरान परमाणु समझौते को 'भयावह, एकतरफा' बताया है। ट्रंप के मंगलवार रात के फैसले के बाद ब्रिटेन, फ्रांस व जर्मनी ने अमेरिका से ईरान समझौते के क्रियान्वयन में बाधा नहीं डालने का आग्रह किया है।

ईरान समझौते को संयुक्त समग्र कार्ययोजना (जेसीपीओए) नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने कहा कि वे समझौते के दूसरे हस्ताक्षकर्ताओं -रूस व चीन- के साथ समझौते के अनुसार निरंतर काम करना जारी रखेंगे। ईरान 2015 में विश्व शक्तियों के साथ समझौते में आर्थिक प्रतिबंधों में ढील देने के बदले अपने परमाणु कार्यक्रम रोकने पर सहमत हुआ था।

ट्रंप के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि उनकी सरकार अमेरिका के समझौते से हटने के बावजूद विश्व शक्तियों के साथ परमाणु समझौते के प्रति वचनबद्ध है। लेकिन उन्होंने चेतावनी दी कि अगर समझौते के अनुसार ज्यादा समय तक उन्हें लाभ नहीं मिला तो ईरान यूरेनियम संवर्धन को फिर से शुरू करने के लिए तैयार है।

रूहानी ने कहा कि उन्होंने अपने राजनयिकों को समझौते के बाकी के हस्ताक्षरकर्ताओं के साथ बातचीत करने का निर्देश दिया है। इसमें यूरोपीय देश, रूस व चीन शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका के बिना भी समझौता बना रह सकता है। ईरानी विदेशमंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ ने कहा कि वह 'एक राजनयिक प्रयास का नेतृत्व करेंगे,

जिससे यह पता चल सके कि जेसीपीओए के बाकी के भागीदार इसके पूरे लाभ ईरान को सुनिश्चित कर सकेंगे या नहीं।' अपने टेलीविजन संबोधन में ट्रंप ने कहा कि अमेरिका भयावह, एकतरफा समझौते से अलग हो जाएगा और ईरान के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंध बहाल किए जाएंगे। ट्रंप ने समझौते को बेकार बताया और इसके मूल में गड़बड़ी की बात कही।

हालांकि, अमेरिका के सहयोगी समझौते के साथ मजबूती से खड़े हैं, लेकिन वे भी ईरान के साथ व्यापार को जारी रखने को लेकर नए अमेरिकी प्रतिबंधों के तहत जुर्माना भुगत सकते हैं।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।