BREAKING NEWS

दिल्ली : ITO में लगे BJP सांसद गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर◾वसीम रिजवी बोले- बगदादी और ओवैसी में कोई अंतर नहीं◾अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾सबरीमला मंदिर के कपाट खुले, पुलिस ने 10 महिलाओं को वापस भेजा◾राफेल पर CM अरविंद केजरीवाल का प्रकाश जावड़ेकर को जवाब, ट्वीट कर कही ये बात ◾दिल्ली: राफेल डील में SC से क्लीन चिट के बाद AAP कार्यालय के पास भाजपा का प्रदर्शन◾

विदेश

भारत को कच्चा तेल आयात सुनिश्चित करने के लिये उठा रहे हरसंभव कदम : US

अमेरिका ने ईरान से कच्चा तेल निर्यात करने पर लगाये प्रतिबंध के मद्देनजर भारत को बुधवार को आश्वस्त किया। उसने कहा कि वह भारत को कच्चे तेल के आयात की सुविधा के लिये हर संभव कदम उठा रहा है। 

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक नीतिगत संबोधन में यहां कहा कि भारत ने ईरान से कच्चा तेल आयात बंद करने का कठिन फैसला लिया है। 

उन्होंने कहा, ‘‘आपने वेनेजुएला से भी कच्चा तेल खरीदना बंद कर दिया। इन निर्णयों की निश्चित कीमत चुकानी पड़ी होगी। 

हम आपको यह आश्वस्त करने के लिये हरसंभव कदम उठा रहे हैं कि आपके पास कच्चा तेल आयात करने की सुविधा उपलब्ध रहेगी। हम इन देशों की सरकारों को आम देशों की तरह व्यवहार करने पर मजबूर करने के लिये आपके प्रयासों की सराहना करते हैं।’’ 

पोम्पियो ने दिन में विदेश मंत्री एस. जयशंकर से मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने ऊर्जा सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा की। 

जयशंकर ने कहा, ‘‘ईरान को लेकर हमारे कुछ नजरिये हैं। मंत्री पोम्पियो ने ईरान को लेकर अमेरिकी चिंताओं से अवगत कराया। हमारे लिये यह महत्वपूर्ण है कि वैश्विक ऊर्जा आपूर्ति अनुमान लगाने के योग्य बनी रहे। मुझे लगता है कि यह एक ऐसी चिंता है जिसे मंत्री पोम्पियो ने भी स्वीकार किया।’’