BREAKING NEWS

LIVE : शीला दीक्षित की अंतिम यात्रा शुरू, निगमबोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार◾मुंबई : ताज होटल के पास की इमारत में लगी आग, एक की मौत ◾CM ममता ने शहीदों को किया याद, लोगों से लोकतंत्र ‘‘बचाने’’ का किया आह्वान ◾आडवाणी, स्वराज ने शीला दीक्षित को दी श्रद्धांजलि ◾सोमवार को 2 बजकर 43 मिनट पर होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण◾झारखंड : गुमला में डायन होने के शक में 4 लोगों की पीट-पीटकर हत्या◾कारगिल शहीदों की याद में दिल्ली में हुई ‘विजय दौड़’, लेफ्टिनेंट जनरल ने दिखाई हरी झंडी◾ आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾

विदेश

भारत को कच्चा तेल आयात सुनिश्चित करने के लिये उठा रहे हरसंभव कदम : US

अमेरिका ने ईरान से कच्चा तेल निर्यात करने पर लगाये प्रतिबंध के मद्देनजर भारत को बुधवार को आश्वस्त किया। उसने कहा कि वह भारत को कच्चे तेल के आयात की सुविधा के लिये हर संभव कदम उठा रहा है। 

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक नीतिगत संबोधन में यहां कहा कि भारत ने ईरान से कच्चा तेल आयात बंद करने का कठिन फैसला लिया है। 

उन्होंने कहा, ‘‘आपने वेनेजुएला से भी कच्चा तेल खरीदना बंद कर दिया। इन निर्णयों की निश्चित कीमत चुकानी पड़ी होगी। 

हम आपको यह आश्वस्त करने के लिये हरसंभव कदम उठा रहे हैं कि आपके पास कच्चा तेल आयात करने की सुविधा उपलब्ध रहेगी। हम इन देशों की सरकारों को आम देशों की तरह व्यवहार करने पर मजबूर करने के लिये आपके प्रयासों की सराहना करते हैं।’’ 

पोम्पियो ने दिन में विदेश मंत्री एस. जयशंकर से मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने ऊर्जा सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा की। 

जयशंकर ने कहा, ‘‘ईरान को लेकर हमारे कुछ नजरिये हैं। मंत्री पोम्पियो ने ईरान को लेकर अमेरिकी चिंताओं से अवगत कराया। हमारे लिये यह महत्वपूर्ण है कि वैश्विक ऊर्जा आपूर्ति अनुमान लगाने के योग्य बनी रहे। मुझे लगता है कि यह एक ऐसी चिंता है जिसे मंत्री पोम्पियो ने भी स्वीकार किया।’’