BREAKING NEWS

लॉकडाउन में ढील के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था सामान्य स्थिति में वापस आ रही है : RBI गवर्नर ◾पीएम द्वारा रीवा सौर ऊर्जा परियोजना को एशिया में सबसे बड़ी बताने पर राहुल गांधी ने साधा निशाना ◾पीएम नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ के आगामी कार्यक्रम के लिए जनता से सुझाव आमंत्रित किये◾देश में कोरोना के 27 हजार से अधिक नए मामलों का रिकॉर्ड, संक्रमितों का आंकड़ा सवा आठ लाख के करीब ◾World Corona cases: दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 1.24 करोड़ के पार, अब तक हुई 559,481 मौतें◾J&K : नौशेरा सेक्टर में LOC के पास घुसपैठ की कोशिश नाकाम, दो आतंकवादी ढेर◾UP में आज से फिर लॉकडाउन, गौतमबुद्धनगर DM ने 10 जुलाई से 13 जुलाई तक के लिए जारी की एडवाइजरी◾कांग्रेस सांसदों के साथ आज वर्चुअल बैठक करेंगी सोनिया, इन मुद्दों पर होगी चर्चा ◾कांग्रेस का आरोप- खरीद फरोख्त से गहलोत सरकार को गिराने की साजिश रच रही है BJP◾राहुल गांधी की सरकार से मांग, कहा- चीन की घुसपैठ की शिनाख्त के लिए स्वतंत्र तथ्यान्वेषी मिशन की अनुमति दी जाए◾भाजपा ने केजरीवाल सरकार पर साधा निशाना, कहा- केंद्र के हस्तक्षेप के कारण दिल्ली में कोरोना स्थिति सुधरीं◾महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 7,862 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 2.38 लाख के पार◾दिल्ली में कोरोना के 2089 नए मामले की पुष्टि, 42 लोगों की मौत ◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर राहुल गांधी का शायराना तंज- 'कई जवाबों से अच्छी खामोशी उसकी'◾एनकाउंटर के दौरान विकास दुबे को 3 सीने में और 1 हाथ में लगी थी गोली◾Vikas Dubey Encounter : कानपुर शूटआउट से लेकर हिस्ट्रीशीटर के खात्मे तक, जानिए हर दिन का घटनाक्रम◾STF की गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे ने की भागने की कोशिश, एनकाउंटर में मारा गया हिस्ट्रीशीटर ◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 25 लाख के करीब, साढ़े पांच लाख से अधिक की मौत ◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले दिग्विजय-जिसका शक था वह हो गया◾विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले अखिलेश- कार नहीं पलटी बल्कि सरकार पलटने से बचाई गयी◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पाकिस्तान की पूर्व गवर्नर शमशाद अख्तर ने इमरान मंत्रिमंडल में शामिल होने से किया इंकार

स्टेट बैंक आफ पाकिस्तान (एसबीपी) की पूर्व गवर्नर शमशाद अख्तर ने इमरान खान मंत्रिमंडल में शामिल होने से इन्कार कर दिया है। डॉ. अख्तर ने पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत विशेष सहायक का ओहदा दिए जाने से मतभेदों के चलते इमरान खान मंत्रिमंडल में शामिल होने से मना किया है। 

कैबिनेट डिवीजन ने 11 जुलाई को डॉ अख्तार को पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत प्रधानमंत्री का विशेष सहायक नियुक्त करने को अधिसूचित किया था। यह विभाग व्यावहारिक रूप से अस्तित्व में नहीं था। करीब तीन माह की अवधि बीत जाने के बाद वह मंत्रिमंडल में शामिल नहीं हुईं। 

मुरादाबाद में डबल डेकर ट्रेन के 2 कोच पटरी से उतरे, सभी यात्री सुरक्षित

डॉ अख्तर ने कहा,‘‘ मैंने संघीय सरकार में शामिल नहीं होने का निर्णय किया है।’’ उन्होंने हालांकि मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होने के कारण नहीं बताया। इमरान खान मंत्रिमंडल में 48 सदस्य हैं, जिसमें से 20 चुने हुए जनप्रतिनिधि नहीं हैं। डॉ अख्तर ने एसबीपी गवर्नर के अलावा 2018 के आम चुनाव के लिए गठित कार्यवाहक सरकार में वित्त मंत्री का दायित्व निभाया था। 

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सूत्रों ने दावा किया है कि जानी-मानी अर्थशास्त्री अपनी शख्सियत के अनुरूप पद चाहती थी। सूत्रों के अनुसार वह संघीय मंत्री दर्जा स्तर के साथ प्रधानमंत्री की सलाहकार के रुप में शामिल होना चाहती थी। सूत्रों के इस दावे को डॉ अख्तर ने खारिज कर दिया। 

पूर्व गवर्नर ने कहा कि उन्होंने कभी भी विशिष्ट पोर्टफोलियों के लिए नहीं कहा था। प्रधानमंत्री के प्रवक्ता नदीम अफजल चान ने कहा कि उन्हें डॉ अख्तर के संघीय मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होने के पीछे का कारण नहीं पता है।