BREAKING NEWS

Maharashtra: अग्नि परीक्षा में सफल हुए शिंदे, 164 विधायकों के समर्थन के साथ पास किया फ्लोर टेस्ट ◾गर्मी में राहत.. डेंगू-मलेरिया ने बढ़ाई आफत, मच्छर ब्रीडिंग पाए जाने पर लगेगा दोगुना जुर्माना, जानें नई दरें? ◾हिमाचल प्रदेश : कुल्लू में खाई में गिरी बस, स्कूली बच्चों समेत 16 की मौत◾Corona Update : नहीं थम रही कोरोना संक्रमण की रफ्तार, एक्टिव केस 1 लाख 13 हजार के पार◾ शिवसेना को बड़ा झटका, अजय चौधरी की ग्रुप लीडर के रूप में नियुक्ति रद्द ◾फ्लोर टेस्ट से पहले बोले NCP प्रमुख पवार, '6 महीने में ही गिरेगी शिंदे-बीजेपी की सरकार'◾आज का राशिफल ( 04 जुलाई 2022)◾ Lalu Yadav: सीढ़ी से गिरे RJD सुप्रीमो लालू यादव, कंधे की हड्डी टूटी , राबड़ी आवास में हुआ हादसा◾maharashtra News: महाराष्ट्र में नहीं थम रहा कोरोना का कहर! सामने आये डराने वाले मामले◾ तेलंगाना : विजय संकल्प सभा में बोले पीएम मोदी राज्य में डबल इंजन की सरकार बनेगी तो विकास को शिखर पर ले जांएगे ◾IND vs ENG 5th Test Day: 284 रनों पर सिमटी इंग्लैंड, भारत को 132 रनों की बढ़त◾ अमरावती : उमेश कोल्हे हत्याकांड के मुख्य षडयंत्रकर्ता’ के एनजीओ की जांच कर रही पुलिस◾ ENG vs IND: टी20 सीरीज खेलने के लिए तैयार हिटमैन शर्मा, कोविड जांच में नेगेटिव आने के बाद आए आइसोलेशन से बाहर◾टीम इंडिया वह है जो मिलकर चुनौतियों का सामना करती, धर्म से विपरीत......, बोले राहुल गांधी ◾ Amravati Murder Case: अमरावती हत्याकांड पर देवेंद्र फडणवीस ने दिया बयान, बोले- विदेशी ताकतें देश में तनाव...◾केमिस्ट हत्याकांड में जांच अभी औपचारिक रूप से एनआईए ने अपने हाथ में नहीं ली है : पुलिस◾ Gujarat: BJP नेता को जान से मारने की धमकी मिलने के बाद मिली सुरक्षा◾PM मोदी ने विपक्षी दलों पर साधा निशाना, कहा- वंशवादी राजनीति से ऊबा देश.. अब टिकना बेहद मुश्किल! ◾Asaduddin Owaisi: कांग्रेस के आरोपों पर ओवैसी का पलटवार... BJP पर भी उठाये सवाल, जानें क्या कहा ◾ अधिकारी का दावा : आतंकियों में शामिल होने वाले 64 प्रतिशत कट्टरपंथी आतंकी युवा सालभर में ही जहन्नुम पहुंचे ◾

हैती भूकंप : मृतक संख्या 1297 पर पहुंची, करीब 5700 लोग घायल, तूफान आने से और विकट हो सकते हैं हालात

हैती में शनिवार को आए 7.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप के कारण रविवार तक 1,297 लोगों की मौत हो गई। आने वाले तूफान और उसके चलते मूसलाधार बारिश की आशंका के बीच बचाव अभियान तीव्र गति से चलाए जा रहे हैं। भूकंप के कारण कम से कम 5,700 लोग घायल हुए हैं तथा हजारों लोग बेघर हो गए हैं।

भीषण गर्मी के बावजूद लोग खुले में रहने को मजबूर हैं और मरीजों से पटे अस्पतालों में लोग इलाज के लिए इंतजार कर रहे हैं। इस हफ्ते की शुरुआत में संकट और भी बढ़ सकता है क्योंकि तूफान ग्रेस सोमवार रात तक हैती पहुंच सकता है। अमेरिका के राष्ट्रीय तूफान केंद्र ने रविवार को कहा कि तूफान बहुत शक्तिशाली नहीं होगा लेकिन मौसम विज्ञानियों ने आगाह किया है कि भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन का खतरा बना हुआ है।

शनिवार को हैती के दक्षिण पश्चिम हिस्से में भूकंप आने से कई शहर लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और भूस्खलन होने से बचाव अभियान प्रभावित हो रहा है। भूकंप के कारण कोरोना वायरस महामारी से पहले से बुरी तरह प्रभावित हैती के लोगों की पीड़ा और भी बढ़ गई है। अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने कहा है कि भूकंप का केंद्र राजधानी पोर्ट औ प्रिंस से करीब 125 किलोमीटर की दूरी पर था। 

रविवार को भी यहां झटके महसूस किए गए। रविवार को लोग स्थानीय बाजार में खाने-पीने की वस्तुएं जुटाने के लिए उमड़ पड़े। प्रधानमंत्री एरियल हेनरी ने कहा कि वह ऐसे स्थानों पर मदद भिजवा रहे हैं जहां पर शहर तबाह हो चुके हैं और अस्पताल मरीजों से भर गए हैं। प्रधानमंत्री ने पूरे देश में एक महीने की आपात स्थिति की घोषणा की है। 

उन्होंने कहा कि कुछ शहर तो लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और स्थानीय अस्पताल, खासकर भूकंप से बुरी तरह प्रभावित लेस कायेस के अस्पताल मरीजों से भरे हैं। हैती के नागरिक सुरक्षा कार्यालय की ओर से बताया गया कि 7,000 से अधिक मकान नष्ट हो गए तथा करीब 5,000 क्षतिग्रस्त हो गए। 

अस्पताल, स्कूल, कार्यालय और गिरजाघर भी प्रभावित हुए हैं। हैती पर यह आपदा ऐसे समय आई है जब वह कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहा है और उसके पास इन संकटों से निबटने के संसाधनों की कमी है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूएसऐड प्रशासक समांथा पॉवर को हैती को अमेरिकी मदद देने के लिए समन्वयक अधिकारी के रूप में नियुक्त किया है। 

पॉवर ने रविवार को कहा कि हैती के सरकार के अनुरोध पर यूएसऐड वर्जीनिया से तलाश एवं बचाव दलों को वहां भेज रहा है। 65 लोगों का दल आपदा मोचन कार्य में मदद देने के लिए विशेष उपकरण एवं चिकित्सा आपूर्ति पहुंचाएगा। अमेरिकी तटरक्षक बल ने कहा कि एक हेलीकॉप्टर चिकित्साकर्मियों को हैती की राजधानी से भूकंप प्रभावित क्षेत्र में ले जा रहा है और घायलों को वहां से निकालकर पोर्ट ओ प्रिंस लाएगा। क्यूबा का 253 सदस्यीय स्वास्थ्य मिशन भी हैती पहुंच चुका है