BREAKING NEWS

रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने भारत को एक बहुत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र बताया◾पंजाब के मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान के साथ सीमा व्यापार खोलने की वकालत की◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदलीं लेकिल हमारी दोस्ती नही....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾UP चुनाव को लेकर प्रियंका ने बताया कैसा होगा कांग्रेस का घोषणापत्र, कहा- सभी लोगों का विशेष ध्यान रखा जाएगा◾'Omicron' के बढ़ते खतरे के बीच MP में 95 विदेशी नागरिक हुए लापता, प्रशासन के हाथ-पांव फूले ◾महबूबा ने दिल्ली के जंतर मंतर पर दिया धरना, बोलीं- यहां गोडसे का कश्मीर बन रहा◾अखिलेश सरकार में होता था दलितों पर अत्याचार, योगी बोले- जिस गाड़ी में सपा का झंडा, समझो होगा जानामाना गुंडा ◾नागालैंड मामले पर लोकसभा में अमित ने कहा- गलत पहचान के कारण हुई फायरिंग, SIT टीम का किया गया गठन ◾आंग सान सू की को मिली चार साल की जेल, सेना के खिलाफ असंतोष, कोरोना नियमों का उल्लंघन करने का था आरोप ◾शिया बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अपनाया हिंदू धर्म, परिवर्तन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें नया नाम ◾इशारों में आजाद का राहुल-प्रियंका पर तंज, कांग्रेस नेतृत्व को ना सुनना बर्दाश्त नहीं, सुझाव को समझते हैं विद्रोह ◾सदस्यों का निलंबन वापस लेने के लिए अड़ा विपक्ष, राज्यसभा में किया हंगामा, कार्यवाही स्थगित◾राज्यसभा के 12 सदस्यों का निलंबन के समर्थन में आये थरूर बोले- ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की नहीं करूंगा मेजबानी ◾Winter Session: निलंबन के खिलाफ आज भी संसद में प्रदर्शन जारी, खड़गे समेत कई सांसदों ने की नारेबाजी ◾राजनाथ सिंह ने सर्गेई लावरोव से की मुलाकात, जयशंकर बोले- भारत और रूस के संबंध स्थिर एवं मजबूत◾IND vs NZ: भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त देकर रचा इतिहास, दर्ज की सबसे बड़ी टेस्ट जीत ◾

हैती भूकंप : मृतक संख्या 1297 पर पहुंची, करीब 5700 लोग घायल, तूफान आने से और विकट हो सकते हैं हालात

हैती में शनिवार को आए 7.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप के कारण रविवार तक 1,297 लोगों की मौत हो गई। आने वाले तूफान और उसके चलते मूसलाधार बारिश की आशंका के बीच बचाव अभियान तीव्र गति से चलाए जा रहे हैं। भूकंप के कारण कम से कम 5,700 लोग घायल हुए हैं तथा हजारों लोग बेघर हो गए हैं।

भीषण गर्मी के बावजूद लोग खुले में रहने को मजबूर हैं और मरीजों से पटे अस्पतालों में लोग इलाज के लिए इंतजार कर रहे हैं। इस हफ्ते की शुरुआत में संकट और भी बढ़ सकता है क्योंकि तूफान ग्रेस सोमवार रात तक हैती पहुंच सकता है। अमेरिका के राष्ट्रीय तूफान केंद्र ने रविवार को कहा कि तूफान बहुत शक्तिशाली नहीं होगा लेकिन मौसम विज्ञानियों ने आगाह किया है कि भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन का खतरा बना हुआ है।

शनिवार को हैती के दक्षिण पश्चिम हिस्से में भूकंप आने से कई शहर लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और भूस्खलन होने से बचाव अभियान प्रभावित हो रहा है। भूकंप के कारण कोरोना वायरस महामारी से पहले से बुरी तरह प्रभावित हैती के लोगों की पीड़ा और भी बढ़ गई है। अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने कहा है कि भूकंप का केंद्र राजधानी पोर्ट औ प्रिंस से करीब 125 किलोमीटर की दूरी पर था। 

रविवार को भी यहां झटके महसूस किए गए। रविवार को लोग स्थानीय बाजार में खाने-पीने की वस्तुएं जुटाने के लिए उमड़ पड़े। प्रधानमंत्री एरियल हेनरी ने कहा कि वह ऐसे स्थानों पर मदद भिजवा रहे हैं जहां पर शहर तबाह हो चुके हैं और अस्पताल मरीजों से भर गए हैं। प्रधानमंत्री ने पूरे देश में एक महीने की आपात स्थिति की घोषणा की है। 

उन्होंने कहा कि कुछ शहर तो लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और स्थानीय अस्पताल, खासकर भूकंप से बुरी तरह प्रभावित लेस कायेस के अस्पताल मरीजों से भरे हैं। हैती के नागरिक सुरक्षा कार्यालय की ओर से बताया गया कि 7,000 से अधिक मकान नष्ट हो गए तथा करीब 5,000 क्षतिग्रस्त हो गए। 

अस्पताल, स्कूल, कार्यालय और गिरजाघर भी प्रभावित हुए हैं। हैती पर यह आपदा ऐसे समय आई है जब वह कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहा है और उसके पास इन संकटों से निबटने के संसाधनों की कमी है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूएसऐड प्रशासक समांथा पॉवर को हैती को अमेरिकी मदद देने के लिए समन्वयक अधिकारी के रूप में नियुक्त किया है। 

पॉवर ने रविवार को कहा कि हैती के सरकार के अनुरोध पर यूएसऐड वर्जीनिया से तलाश एवं बचाव दलों को वहां भेज रहा है। 65 लोगों का दल आपदा मोचन कार्य में मदद देने के लिए विशेष उपकरण एवं चिकित्सा आपूर्ति पहुंचाएगा। अमेरिकी तटरक्षक बल ने कहा कि एक हेलीकॉप्टर चिकित्साकर्मियों को हैती की राजधानी से भूकंप प्रभावित क्षेत्र में ले जा रहा है और घायलों को वहां से निकालकर पोर्ट ओ प्रिंस लाएगा। क्यूबा का 253 सदस्यीय स्वास्थ्य मिशन भी हैती पहुंच चुका है