BREAKING NEWS

पीेएम मोदी ने पूर्वांचल को दी 10 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात, सपा के लिए कही ये बात◾सदन में पैदा हो रही अड़चनों के लिए सरकार जिम्मेदार : मल्लिकार्जुन खड़गे◾UP चुनाव में BJP कस रही धर्म का फंदा? आनन्द शुक्ल बोले- 'सफेद भवन' को हिंदुओं के हवाले कर दें मुसलमान... ◾नगालैंड गोलीबारी केस में सेना ने नगारिकों की नहीं की पहचान, शवों को ‘छिपाने’ का किया प्रयास ◾विवाद के बाद गेरुआ से फिर सफेद हो रही वाराणसी की मस्जिद, मुस्लिम समुदाय ने लगाए थे तानाशाही के आरोप ◾लोकसभा में बोले राहुल-मेरे पास मृतक किसानों की लिस्ट......, मुआवजा दे सरकार◾प्रधानमंत्री मोदी ने सांसदों को दी कड़ी नसीहत-बच्चों को बार-बार टोका जाए तो उन्हें भी अच्छा नहीं लगता ...◾Winter Session: निलंबन वापसी के मुद्दे पर राज्यसभा में जारी गतिरोध, शून्यकाल और प्रश्नकाल हुआ बाधित ◾12 निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्ष का समर्थन,संसद परिसर में दिया धरना, राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित ◾JNU में फिर सुलगी नए विवाद की चिंगारी, छात्रसंघ ने की बाबरी मस्जिद दोबारा बनाने की मांग, निकाला मार्च ◾भारत में होने जा रहा कोरोना की तीसरी लहर का आगाज? ओमीक्रॉन के खतरे के बीच मुंबई लौटे 109 यात्री लापता ◾देश में आखिर कब थमेगा कोरोना महामारी का कहर, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के इतने नए मामलों की हुई पुष्टि ◾लोकसभा में न्यायाधीशों के वेतन में संशोधन की मांग वाले विधेयक पर होगी चर्चा, कई दस्तावेज भी होंगे पेश ◾PM मोदी के वाराणसी दौरे से पहले 'गेरुआ' रंग में रंगी गई मस्जिद, मुस्लिम समुदाय में नाराजगी◾ओमीक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली फिर हो जाएगी लॉकडाउन की शिकार? जानें क्या है सरकार की तैयारी ◾यूपी : सपा और रालोद प्रमुख की आज मेरठ में संयुक्त रैली, सीट बटवारें को लेकर कर सकते है घोषणा ◾दिल्ली में वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज, प्रदूषण को कम करने के लिए किया जा रहा है पानी का छिड़काव ◾विश्व में वैक्सीनेशन के बावजूद बढ़ रहे है कोरोना के आंकड़े, मरीजों की संख्या हुई इतनी ◾सदस्यीय समिति को अभी तक सरकार से नहीं हुई कोई सूचना प्राप्त,आगे की रणनीति के लिए आज किसान करेंगे बैठक ◾ पीएम मोदी आज गोरखपुर को 9600 करोड़ रूपये की देंगे सौगात, खाद कारखाना और AIIMS का करेंगे लोकार्पण◾

गाजा पट्टी में लगे प्रतिबंधों में ढील को लेकर हमास के समर्थकों ने किया प्रदर्शन, इजराइली सेना पर फेंके विस्फोटक

हमास के सैकड़ों समर्थकों ने इजराइली सेना की ओर विस्फोटक फेंककर इजराइल के साथ लगती सीमा पर प्रदर्शन किए। इजराइली सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की। प्रदर्शनों के आयोजकों ने कहा कि हफ्ते भर चलने वाले प्रदर्शनों का मकसद गाजा पट्टी पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों में ढील देने के लिए इजराइल पर दबाव बढ़ाना है। हमास के 2007 में गाजा पर नियंत्रण के बाद से इजराइल और मिस्र ने उस पर पाबंदी लगा रखी है। हमास ने फलस्तीन में चुनाव जीतने के एक साल बाद गाजा पर नियंत्रण किया।

इन प्रतिबंधों के तहत गाजा में और उसके बाहर सामान तथा लोगों की आवाजाही पर रोक है जिससे इस क्षेत्र की अर्थव्यवस्था चरमरा गयी है। मई में 11 दिन तक चली लड़ाई के बाद इजराइल ने पाबंदियां और कड़ी कर दी हैं और वह अपने दो सैनिकों के पार्थिव शरीर लौटाने तथा दो इजराइली नागरिकों को रिहा करने की मांग कर रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि इन नागरिकों को हमास ने बंधक बना रखा है। गाजा के भीतर की तस्वीरों और वीडियो में शनिवार को सैकड़ों फलस्तीनी प्रदर्शन करते हुए दिखायी दिए। 

कुछ विस्फोटक फेंकते हुए और धमाके की आवाज आने पर जश्न मनाते हुए भी दिखे। इजराइली सेना ने कहा कि सैनिकों ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाते हुए जवाबी कार्रवाई की। इजराइल की ओर कोई हताहत नहीं हुआ है। गाजा के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि इजराइली गोलीबारी में तीन प्रदर्शनकारी घायल हुए हैं। इससे पहले शनिवार को गाजा के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि एक हफ्ते पूर्व ऐसे ही प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से 12 वर्षीय फलस्तीनी लड़का घायल हो गया था।

एक अन्य फलस्तीनी शख्स भी उस प्रदर्शन में मारा गया था और उसकी पहचान हमास की सैन्य शाखा के सदस्य के रूप में की गयी जबकि एक प्रदर्शनकारी ने एक इजराइली सैनिक के सिर में गोली मारी थी। इस सैनिक की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है।