BREAKING NEWS

शाहीन बाग में नहीं निकला कोई हल, महिलाएं वार्ताकारों की बात से नाखुश◾राम मंदिर निर्माण : अमित शाह ने पूरा किया महंत नृत्यगोपाल से किया वादा◾उद्धव ठाकरे शुक्रवार को नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री से मिलेंगे ◾UP के 4 स्टेशनों के नाम बदले, इलाहाबाद जंक्शन हुआ प्रयागराज जंक्शन◾J&K प्रशासन ने महबूबा मुफ्ती के करीबी सहयोगी पर लगाया PSA◾ओवैसी के मंच पर प्रदर्शनकारी युवती ने लगाए 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे, पुलिस ने किया राजद्रोह का केस दर्ज◾भारत में लोगों को Trump की कुछ नीतियां नहीं आई पसंद, लेकिन लोकप्रियता बढ़ी - सर्वेक्षण◾दिल्ली सहित उत्तर के कई इलाकों में बारिश , फिर लौटी ठंड , J&K में बर्फबारी◾Trump की भारत यात्रा के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने रूट पर CCTV कैमरे लगाने शुरू किए◾गांधी के असहयोग आंदोलन जैसा है सीएए, एनआरसी और एनपीआर का विरोध : येचुरी ◾AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी की मौजूदगी में मंच पर पहुंचकर लड़की ने लगाए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे◾महिलाओं को सेना में स्थायी कमीशन मिलने से लैंगिक समानता लाने की दिशा में मिलेगी सफलता : सेना प्रमुख◾मुझे ISI, 26/11 आंतकी हमलों से जोड़ने वाले BJP प्रवक्ताओं के खिलाफ करुंगा मानहानि का दावा : दिग्विजय◾अमेरिकी राष्ट्रपति के बयान का संदर्भ व्यापार संतुलन से था, चिंताओं पर ध्यान देंगे : विदेश मंत्रालय◾राम मंदिर ट्रस्ट ने PM मोदी से की मुलाकात, अयोध्या आने का दिया न्योता◾अयोध्या में बजरंगबली की शानदार और भव्य मूर्ति बनाने के लिए ट्रस्ट से करेंगे अनुरोध - AAP◾अमित शाह सीएए के समर्थन में 15 मार्च को हैदराबाद में करेंगे रैली ◾AMU के छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ निकाला विरोध मार्च ◾भाकपा ने किया ट्रंप की यात्रा के विरोध में ‘प्रगतिशील ताकतों’, नागरिक संस्थाओं से प्रदर्शन का आह्वान◾TOP 20 NEWS 20 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

जाति के नाम पर नहीं होगा भेदभाव : आंग सान सू

म्‍यांमार की स्‍टेट काउंसलर आंग सान सू की ने रोहिंग्‍या मुसलमानों के पलायन पर मंगलवार को पहली बार चुप्‍पी तोड़ी । सान सू ची ने ANI से रोहिंग्या मुस्लिम समस्या पर बात करते हुए कहा कि सरकार मौजूदा समस्या को सुलझाने की पूरी कोशिश कर रही है।

म्यांमार की जनता को मंगलवा को संबोधित करने के दूसरे दिन बुधवार को सू ची ने इस मुद्दे पर बात करते हुए कहा है कि अपनी तरफ से हम तनाव में फंसे लोगों को बाहर निकालने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और हिन्दू , मुस्लिम या रोहिंग्या के बीच कोई भेदभाव नहीं किया जा रहा है।

There is a small Hindu community in #Rakhine, who were also caught up in the conflict and some of whom were killed: Aung San Suu Kyi

— ANI (@ANI) September 20, 2017

सू ची ने कहा कि यहां रखाइन में हिन्दू समुदाय के लोगों की भी छोटी संख्या है जो कि इस फसाद में फंस गए और उनमें से कुछ मारे गए हैं।

 

आंग सान ने कहा कि रेखाइन में रहने वाले मुस्लिमों को परिभाषित करने के संबंध में बेहद विवाद है। उनमें से कई ऐसे हैं जो खुद को रोहिंग्‍या कहलाना पसंद करते हैं। ऐसे भी लोग वहां हैं जो खुद को बंगाली कहलाना चाहते हैं । उन्‍होंने कहा कि दरअसल यह शब्‍द भावना से जुड़ा है, लिहाजा मौजूदा माहौल में उनको केवल मुस्लिम कहा।

बता दे कि मंगलवार को स्‍टेट काउंसलर आंग सान सू की ने पहली बार रोहिंग्‍या मुसलमानों के पलायन के मुद्दे पर बोलते हुए कहा था कि म्‍यांमार हिंसाग्रस्‍त रखाइन प्रांत के सभी आहत पक्षों की पीड़ा को समझता है और यहां से मुस्लिमों के बांग्‍लादेश में पलायन को लेकर चिंतित है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि हम यह जानने का प्रयास करेंगे कि आखिर यह पलायन क्‍यों हो रहा है? जो लोग पलायन को मजबूर हुए हैं उनसे बातचीत करेंगे।

इसके साथ ही कहा था कि सरकार सांप्रदायिक हिंसा के शिकार रखाइन प्रांत में शांति, स्‍थायित्‍व और भाईचारा बहाली के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. यहां पर अभी भी बहुत सारे मुस्लिम गांवों से पलायन नहीं हुआ है. यानी कि सभी लोग यहां से नहीं भागे हैं. इसमें जिम्‍मेदार लोगों को किसी भी सूरत में नहीं बख्‍शा नहीं जाएगा चाहें वो किसी भी जातीय समूह या धर्म के हों।