BREAKING NEWS

अमेरिका में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 71 लाख से अधिक, ये प्रांत बुरी तरह प्रभावित ◾J&K के पुंछ में पाकिस्तान ने LOC पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया, सेना ने दिया मुहतोड़ जवाब◾आज का राशिफल (29 सितम्बर 2020)◾MI vs RCB (IPL 2020) : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की मुंबई इंडियन्स पर सुपर ओवर में रोमांचक जीत◾सुशांत केस: AIIMS ने सीबीआई को सौंपी रिपोर्ट, जांच की रफ्तार होगी तेज◾पत्नी से मारपीट का वीडियो वायरल : पुलिस अधिकारी पदमुक्त, सरकार ने जारी किया 'कारण बताओ नोटिस'◾कोविड-19 को लेकर बोली दिल्ली सरकार - दिल्ली में शुरू हो चुका है कोरोना का डाउनट्रेंड◾शिरोमणि अकाली दल ने किया ऐलान - दिल्ली में बीजेपी गठबंधन के सभी पद छोड़ेगा अकाली दल◾अमित शाह ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ विभिन्न मुद्दों पर स्थिति की समीक्षा की◾महाराष्ट्र में कोरोना का कोहराम बरकरार, बीते 24 घंटे में 11,921 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 13.51 लाख के पार ◾IPL-13: डिविलियर्स-फिंच का तूफानी अर्धशतक, बेंगलोर ने मुंबई को दिया 202 रनों का लक्ष्य ◾रक्षा मंत्रालय बड़ा फैसला - 2,290 करोड़ रुपये के सैन्य उपकरणों की खरीद को मंजूरी दी ◾प. बंगाल के राज्यपाल की ममता सरकार को चेतावनी - संविधान की रक्षा नहीं हुई तो कार्रवाई होगी◾‘नमामि गंगे’ मिशन के तहत प्रधानमंत्री मोदी उत्तराखंड में छह बड़ी परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन◾सचिन पायलट का केन्द्र सरकार पर वार - चुनौतीपूर्ण समय में किसानों के साथ किया विश्वासघात◾कोरोना महामारी ने किसी एक स्रोत पर वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला की निर्भरता के जोखिम को उजागर किया : मोदी ◾RCB vs MI: मुंबई इंडियंस ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाजी, आरसीबी को दिया बल्लेबाजी का न्योता◾रियल एस्टेट सेक्टर पर कोरोना की भारी मार, जुलाई-सितंबर के दौरान घरों की बिक्री 61 प्रतिशत घटी ◾3 अक्टूबर को प्रधानमंत्री मोदी अटल सुरंग रोहतांग का करेंगे उद्घाटन, सामरिक रूप से है बेहद खास ◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने नयी रक्षा खरीद प्रक्रिया को किया जारी, स्वदेशी उत्पादन को मिलेगा बढ़ावा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जाति के नाम पर नहीं होगा भेदभाव : आंग सान सू

म्‍यांमार की स्‍टेट काउंसलर आंग सान सू की ने रोहिंग्‍या मुसलमानों के पलायन पर मंगलवार को पहली बार चुप्‍पी तोड़ी । सान सू ची ने ANI से रोहिंग्या मुस्लिम समस्या पर बात करते हुए कहा कि सरकार मौजूदा समस्या को सुलझाने की पूरी कोशिश कर रही है।

म्यांमार की जनता को मंगलवा को संबोधित करने के दूसरे दिन बुधवार को सू ची ने इस मुद्दे पर बात करते हुए कहा है कि अपनी तरफ से हम तनाव में फंसे लोगों को बाहर निकालने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और हिन्दू , मुस्लिम या रोहिंग्या के बीच कोई भेदभाव नहीं किया जा रहा है।

There is a small Hindu community in #Rakhine, who were also caught up in the conflict and some of whom were killed: Aung San Suu Kyi

— ANI (@ANI) September 20, 2017

सू ची ने कहा कि यहां रखाइन में हिन्दू समुदाय के लोगों की भी छोटी संख्या है जो कि इस फसाद में फंस गए और उनमें से कुछ मारे गए हैं।

 

आंग सान ने कहा कि रेखाइन में रहने वाले मुस्लिमों को परिभाषित करने के संबंध में बेहद विवाद है। उनमें से कई ऐसे हैं जो खुद को रोहिंग्‍या कहलाना पसंद करते हैं। ऐसे भी लोग वहां हैं जो खुद को बंगाली कहलाना चाहते हैं । उन्‍होंने कहा कि दरअसल यह शब्‍द भावना से जुड़ा है, लिहाजा मौजूदा माहौल में उनको केवल मुस्लिम कहा।

बता दे कि मंगलवार को स्‍टेट काउंसलर आंग सान सू की ने पहली बार रोहिंग्‍या मुसलमानों के पलायन के मुद्दे पर बोलते हुए कहा था कि म्‍यांमार हिंसाग्रस्‍त रखाइन प्रांत के सभी आहत पक्षों की पीड़ा को समझता है और यहां से मुस्लिमों के बांग्‍लादेश में पलायन को लेकर चिंतित है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि हम यह जानने का प्रयास करेंगे कि आखिर यह पलायन क्‍यों हो रहा है? जो लोग पलायन को मजबूर हुए हैं उनसे बातचीत करेंगे।

इसके साथ ही कहा था कि सरकार सांप्रदायिक हिंसा के शिकार रखाइन प्रांत में शांति, स्‍थायित्‍व और भाईचारा बहाली के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. यहां पर अभी भी बहुत सारे मुस्लिम गांवों से पलायन नहीं हुआ है. यानी कि सभी लोग यहां से नहीं भागे हैं. इसमें जिम्‍मेदार लोगों को किसी भी सूरत में नहीं बख्‍शा नहीं जाएगा चाहें वो किसी भी जातीय समूह या धर्म के हों।