BREAKING NEWS

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 25 हुई, 830 मामलों की पुष्टि ◾कोहरे की वजह दिल्ली आने वालीं 12 ट्रेनें 1 घंटे 30 मिनट से लेकर 4 घंटे 15 मिनट तक लेट ◾बालिका दिवस पर बोले नायडू- ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ हमारा संवैधानिक संकल्प है◾भ्रष्टाचार के मामले में 180 देशों में 80वें स्थान पर भारत◾अमित शाह ने केजरीवाल पर लगाया दिल्ली में दंगा भड़काने का आरोप ◾मैंने अपना भगवा रंग नहीं बदला है : उद्धव ठाकरे◾राज की मनसे ने अपनाया भगवा झंडा, घुसपैठियों को बाहर करने के लिए मोदी सरकार को समर्थन◾भाजपा नेता ने मोदी को चेताया, देश बढ़ रहा है दूसरे विभाजन की तरफ◾पासवान से मिला ब्राजील का प्रतिनिधिमंडल, एथेनॉल प्रौद्योगिकी साझेदारी पर बातचीत◾हिंदू समाज में साधु-संतों को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती : अखिलेश◾पदाधिकारी पार्टी के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने से बचें : ठाकरे◾दिल्ली की जनता तय करे, कर्मठ सरकार चाहिए या धरना सरकार चाहिए : शाह◾वन्य क्षेत्रों में अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित नहीं किया जा सकता : दिल्ली सरकार◾मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा है कांग्रेस नेतृत्व : नड्डा◾निर्भया के दोषियों से पूछा : आखिरी बार अपने-अपने परिवारों से कब मिलना चाहेंगे , तो नहीं दिया कोई जवाब !◾विपक्ष की तुलना पाकिस्तान से करना भारत की अस्मिता के खिलाफ : कांग्रेस◾ब्राजील के राष्ट्रपति 24-27 जनवरी तक भारत यात्रा पर रहेंगे, गणतंत्र दिवस परेड में होंगे मुख्य अतिथि◾उत्तर प्रदेश : किसानों के मुद्दे पर सड़क पर उतरेगी कांग्रेस ◾कश्मीर मुद्दे पर विदेश मंत्रालय ने कहा-किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं◾निर्भया मामले में आरोपियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी करने वाले जज का हुआ ट्रांसफर◾

हांगकांग की नेता ने अमेरिकी हस्तक्षेप की निंदा की

हांगकांग : हांगकांग की नेता कैरी लैम ने मंगलवार को अमेरिकी सांसदों द्वारा विधेयक के जरिए शहर (हांगकांग) के मामलों में हस्तक्षेप करने के प्रयासों की निंदा करते हुए इसे खारिज कर दिया। 

एफे न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, लैम एक संवाददाता सम्मेलन में हांगकांग प्रदर्शनकारियों द्वारा अमेरिकी कांग्रेस से हांगकांग मानवाधिकार एवं लोकतंत्र अधिनियम को पारित करने की मांग के संबंध में जवाब दे रही थीं। 

लैम ने कहा, 'हांगकांग की सरकार यहां के मामलों में विधेयक के माध्यम से अमेरिकी कांग्रेस के किसी भी दखल पर पूरी तरह से असहमति जताती है।' उन्होंने कहा, 'हम इस पर गहरा खेद व्यक्त करते हैं। किसी भी देश की संसद को ही उसके घरेलू मामलों को संभालना चाहिए।'

 

उन्होंने कहा, 'विदेशी संसद के लिए हांगकांग के मामलों में किसी भी तरह से हस्तक्षेप करना बेहद अनुचित है।' 

हाल ही में कुछ अमेरिकी सांसदों द्वारा अधिनियम पेश किया गया। इसमें कहा गया है कि वाशिंगटन को सालाना यह आंकलन करने की आवश्यकता है कि क्या हांगकांग इतना स्वायत्त है कि वह उसे मिले विशेष व्यापार दर्जे को सही ठहराने के लिए पर्याप्त है? 

हांगकांग में हजारों प्रदर्शनकारियों ने रविवार को अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के सामने प्रदर्शन किया था। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने अमेरिकी सरकार और कांग्रेस सदस्यों से 'उनकी स्वतंत्रता की रक्षा के लिए' विधेयक पास करने का आग्रह किया था। हांगकांग में लगभग 85 हजार अमेरिकी नागरिक रहते हैं। 

लगभग 1400 अमेरिकी कंपनियों के पास इस एशियाई वित्तीय केंद्र में अपने क्षेत्रीय कार्यालय या क्षेत्रीय मुख्यालय हैं, जो फिलहाल सबसे खराब राजनीतिक संकट की चपेट में है। 

यह संकट पिछले चार महीने से बरकरार है। दरअसल लैम के प्रशासन द्वारा एक विधेयक प्रस्तावित किया गया था, जिसमें हांगकांग में संदिग्धों को मुख्य भूमि चीन में प्रत्यर्पित करने की अनुमति देने का प्रावधान था। 

इसके बाद से ही हांगकांग में लगातार प्रदर्शनों का दौर जारी है। प्रदर्शनकारी लोकतांत्रिक सुधारों की मांग करने के अलावा लैम के इस्तीफे की भी मांग कर रहे हैं। 

लैम ने हालांकि चार सितंबर को विधेयक को वापस लेने की औपचारिक घोषणा कर दी थी। मगर लोगों का कहना है कि इस फैसले को लेने में काफी देर कर दी गई और यह शहर में बदलाव से संबंधित उनकी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए पर्याप्त नहीं है।