BREAKING NEWS

PM मोदी कल विभिन्न जिलों के DM के साथ करेंगे बातचीत , सरकारी योजनाओं का लेंगे फीडबैक ◾DELHI CORONA UPDATE: सामने आए 10756 नए केस, 38 की हुई मौत◾केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह से नौसेना प्रमुख ने की मुलाकात, डीप ओशन मिशन के तौर-तरीकों पर हुई चर्चा◾गोवा: उत्पल पर्रिकर ने भाजपा छोड़ी, पणजी से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ेंगे चुनाव ◾BJP ने 85 उम्‍मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की, कांग्रेस छोड़कर आईं अदिति सिंह को रायबरेली से मिला टिकट◾उत्तर प्रदेश : मुख्‍यमंत्री योगी ने किया चुनावी गीत जारी, यूपी फ‍िर मांगें भाजपा सरकार◾ भारत सरकार ने पाक की नापाक साजिश को एक बार फिर किया बेनकाब, देश विरोधी कंटेंट फैलाने वाले 35 यूट्यूब चैनल किए बंद ◾भाजपा ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए 34 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की ◾मणिपुर के 50 वें स्थापना दिवस पर पीएम ने दिया बयान, राज्य को भारत का खेल महाशक्ति बनाना चाहती है सरकार ◾15-18 आयु के चार करोड़ से अधिक किशोरों को मिली कोविड की पहली डोज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी ◾शाह ने साधा वाम दलों पर निशाना, कहा- कम्युनिस्टों का सियासी प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ हिंसा का रहा इतिहास ◾UP चुनाव को लेकर बिहार में गरमाई सियासत, तेजस्वी शुरू करेंगे SP के समर्थन में प्रचार, BJP पर कसा तंज... ◾ कर्नाटक सरकार ने खत्म किया कोरोना का वीकेंड कर्फ्यू, लेकिन ये पाबंदी लागू ◾नेशनल वॉर मेमोरियल में जल रही लौ में मिली इंडिया गेट की अमर जवान ज्‍योति◾UP चुनाव को लेकर बढ़ाई गई टीकाकरण की रफ्तार, मतदान ड्यूटी करने वालों को दी जा रही ‘एहतियाती’ खुराक ◾भाजपा से बर्खास्त हरक सिंह रावत ने थामा कांग्रेस का दामन, पुत्रवधू भी हुई शामिल◾त्रिपुरा ना सिर्फ नयी बुलंदियों की तरफ बढ़ रहा है बल्कि "ट्रेड कॉरिडोर’’ का केंद्र भी बन रहा है : PM मोदी ◾ASP ने जारी किया घोषणापत्र, कृषि ऋण माफी और ‘मॉब लिंचिंग’ निरोधक आदि कानून लाने का किया वादा ◾UP चुनाव: योगी को मिलेगा ठाकुर समुदाय का समर्थन? जानें SP, BSP और कांग्रेस की क्या है प्रतिक्रिया ◾LG ने वीकेंड कर्फ्यू खत्म करने का प्रस्ताव ठुकराया, निजी दफ्तरों में 50% उपस्थिति पर सहमति जताई◾

कुलभूषण जाधव पर ICJ के फैसले को तत्काल लागू करें : भारत ने Pak से कहा

भारत ने गुरुवार को पाकिस्तान से कहा कि वह कुलभूषण जाधव मामले में अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) के फैसले के मुताबिक उन्हें तत्काल राजनयिक सहायता मुहैया कराए और जोर देकर कहा कि फैसला भारत के रुख की पूरी तरह पुष्टि करता है। 

आईसीजे में जीत पर इस्लामाबाद के दावे को लेकर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि अपने लोगों से “झूठ” बोलने को लेकर पाकिस्तान की अपनी मजबूरियां हैं । 

अपनी साप्ताहिक मीडिया ब्रीफिंग में उन्होंने मामले में पाकिस्तान के जीत के दावे को खारिज करते हुए कहा, “आईसीजे का फैसला मामले में भारत के रुख की पूरी तरह से पुष्टि करता है। 

भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव (49) को पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में एक मुकदमे के बाद मौत की सजा सुनाई थी। उन पर “जासूसी और आतंकवाद” का आरोप लगाया गया था। 

सैन्य अदालत के फैसले के खिलाफ भारत ने मई 2017 में आईसीजे में अपील की थी। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने सजा के अमल पर रोक लगा दी थी। 

मामले में भारत के आवेदन की स्वीकार्यता को लेकर पाकिस्तान की आपत्तियों को खारिज करते हुए आईसीजे ने अपने 42 पन्नों के आदेश में कहा कि पाकिस्तान को जाधव को दिये गए मृत्युदंड पर फिर से विचार करना चाहिए और उससे जाधव को राजनयिक मदद उपलब्ध कराने को भी कहा। 

पीठ ने हालांकि भारत द्वारा की गई कुछ मांगों को खारिज कर दिया था जिसमें सैन्य अदालत के फैसले को खारिज किया जाना, जाधव को रिहा किया जाना और भारत आने के लिये सुरक्षित रास्ता मुहैया कराना शामिल था। 

उन्होंने कहा कि आईसीजे की प्रेस विज्ञप्ति में आठ बिंदु हैं और सभी बिंदु यह परिलक्षित करते हैं कि फैसला भारत के पक्ष में गया है। 

पाकिस्तान के जीत के दावे के संदर्भ में कुमार ने कहा, “स्पष्ट रूप से कहूं तो, मुझे ऐसा लगता है कि वे (पाकिस्तान) बिल्कुल दूसरा फैसला पढ़ रहे हैं। मुख्य फैसला 42 पन्नों का है। अगर 42 पन्नों को पढ़ने का धैर्य नहीं है तो उन्हें प्रेस विज्ञप्ति पढ़ लेनी चाहिए थी जहां प्रत्येक बिंदु भारत के पक्ष में है।” 

यह पूछे जाने पर कि अगर पाकिस्तान आदेश का पालन नहीं करता है तो क्या होगा, कुमार ने कहा कि आईसीजे का फैसला अंतिम, बाध्यकारी है और अब इस पर कोई अपील नहीं हो सकती। 

यह पूछे जाने पर कि क्या भारत जाधव को राजनयिक मदद दिये जाने के लिये नए सिरे से अनुरोध करेगा, उन्होंने कहा कि अब कुछ भी नया नहीं किया जाएगा क्योंकि राजनयिक मदद के अनुरोध वाला आवेदन अब भी उस देश के पास लंबित है। 

वही , पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि हम कानून के हिसाब से काम करेंगे। गुरुवार को इमरान खान ने ट्वीट करके लिखा है कि ICJ के फैसले की सराहना करता हूं कि उन्होंने कुलभूषण जाधव को बरी करने, रिहा करने और लौटाने का फैसला नहीं दिया। वह पाकिस्तान की जनता के खिलाफ अपराधों का गुनहगार है। इस मामले में पाकिस्तान कानून के मुताबिक आगे कार्रवाई करेगा।