BREAKING NEWS

भारत ने किया स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल परीक्षण◾म्यांमार के राजदूत ने की विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला से मुलाकात◾KKR vs MI (IPL 2020) : रोहित की धमाकेदार पारी, मुंबई इंडियन्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स को 49 रन से हराया◾कोरोना वायरस संक्रमण से रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगडी का निधन, PM मोदी ने दुख व्यक्त किया◾कोविड-19 के खिलाफ ‘मेरा परिवार- मेरी जिम्मेदारी’ अभियान शुरू किया गया - उद्धव ठाकरे◾KKR vs MI IPL 2020: मुंबई ने कोलकाता को दिया 196 रनों का टारगेट◾महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾कोविड-19: देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में लगातार तेजी, रिकवरी रेट 81.25 प्रतिशत ◾कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

J&K : कश्मीरी नागरिकों की मौत पर इमरान ने बहाए घड़ियाली आंसू, कश्मीर का अलापा राग

जम्मू- कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद के 3 आतंकवादी मारे गए। इसके बाद वहां आतंकियों की विस्फोटक सामग्री में हुए धमाके में 7 नागरिकों की मौत हो गई। इन नाग‌रिकों की मौत  पर पाकिस्तान ने घड़ियाली आंसू बहाए हैं और कश्मीर का राग अलापा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अंग्रेजी और उर्दू में ट्वीट कर कहा कि हम इसकी निंदा करते हैं।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ''भारतीय सुरक्षाबलों की तरफ से भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर में मासूम कश्मीरियों के कत्लेआम का नया सिलसिला बहुत ही निंदनीय है। वक़्त आ गया है कि भारत संयुक्त राष्ट्र के सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों और कश्मीरी अवाम की उमंगों के मुताबिक बातचीत के जरिए कश्मीर मसले के हल की कोशिश करे।''

Strongly condemn the new cycle of killings of innocent Kashmiris in IOK by Indian security forces. It is time India realised it must move to resolve the Kashmir dispute through dialogue in accordance with the UN SC resolutions & the wishes of the Kashmiri people.

— Imran Khan (@ImranKhanPTI) 22 October 2018

आपको बता दें कि इमरान खान ने प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत के साथ रिश्तों को लेकर कहा था कि भारत अगर एक कदम बढ़ाता है तो पाकिस्तान दो कदम बढ़ाएगा। हालांकि बयान हकीकत में नहीं बदला. इमरान खान के शपथ के बाद पाकिस्तानी सेना और आक्रामक हो गई है।

कल ही बॉर्डर एक्शन टीम (बीएटी) की मदद से घुसपैठ की कोशिश कर रहे दो आतंकियों को सेना के जवानों ने राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर ढेर कर दिया था। इस दौरान तीन जवान भी शहीद हो गए थे। मारे गये घुसपैठिये को बार्डर एक्शन टीम (बीएटी) का सदस्य माना जा रहा है जिसमें पाकिस्तानी सेना के जवान और प्रशिक्षित आतंकवादी शामिल होते हैं। इससे पहले भी बीएटी सीमा पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे चुका है।

क्या है कुलगाम का मामला? कुलगाम जिले में रविवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गए और इसके बाद वहां आतंकियों की विस्फोटक सामग्री में हुए धमाके में सात नागरिकों की मौत हो गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने दक्षिण कश्मीर में कुलगाम जिले के लारू गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद वहां घेरा डाला और तलाश अभियान शुरू किया था।

सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों से बार-बार समर्पण करने को कहा, लेकिन आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस सूत्रों के अनुसार इसके बाद सुरक्षाबल जब चीजों को वहां से हटा रहे थे तो मुठभेड़ स्थल को घेरकर खड़ी भीड़ ने उन पर भीषण पथराव शुरू कर दिया। इसके चलते सुरक्षाबल वहां से आंशिक रूप से हटे तो भीड़ मारे गए आतंकवादियों के बचे हथियारों और गोला-बारूद को एकत्र करने के लिए वहां पहुंच गई। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं के दौरान लोग आतंकवादियों के हथियारों और गोला-बारूद को एकत्र कर बाद में आतंकी समूहों को पहुंचा देते हैं।

अलगाववादियों ने बुलाया बंद पुलिस ने कहा कि भीड़ मुठभेड़ स्थल पर पहुंची तो आतंकवादियों के बचे हुए गोला-बारूद और ग्रेनेडों में विस्फोट हो गया जिससे नागरिकों की मौत हो गई। नागरिकों की मौत के बाद आज अलगाववादियों ने बंद का एलान किया है। बंद की वजह से कश्मीर में जनजनीवन प्रभावित हुआ है। अधिकारियों ने खानयार, रैनवाड़ी, नौहट्टा, मैसूमा व एमआर गंज में बंद को रोकने के लिए प्रतिबंध लागू किए हैं। दुकानें, सार्वजनिक परिवहन, व्यापार और शैक्षणिक संस्थान बंद हैं।