BREAKING NEWS

शाहीन बाग में नहीं निकला कोई हल, महिलाएं वार्ताकारों की बात से नाखुश◾राम मंदिर निर्माण : अमित शाह ने पूरा किया महंत नृत्यगोपाल से किया वादा◾उद्धव ठाकरे शुक्रवार को नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री से मिलेंगे ◾UP के 4 स्टेशनों के नाम बदले, इलाहाबाद जंक्शन हुआ प्रयागराज जंक्शन◾J&K प्रशासन ने महबूबा मुफ्ती के करीबी सहयोगी पर लगाया PSA◾ओवैसी के मंच पर प्रदर्शनकारी युवती ने लगाए 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे, पुलिस ने किया राजद्रोह का केस दर्ज◾भारत में लोगों को Trump की कुछ नीतियां नहीं आई पसंद, लेकिन लोकप्रियता बढ़ी - सर्वेक्षण◾दिल्ली सहित उत्तर के कई इलाकों में बारिश , फिर लौटी ठंड , J&K में बर्फबारी◾Trump की भारत यात्रा के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने रूट पर CCTV कैमरे लगाने शुरू किए◾गांधी के असहयोग आंदोलन जैसा है सीएए, एनआरसी और एनपीआर का विरोध : येचुरी ◾AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी की मौजूदगी में मंच पर पहुंचकर लड़की ने लगाए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे◾महिलाओं को सेना में स्थायी कमीशन मिलने से लैंगिक समानता लाने की दिशा में मिलेगी सफलता : सेना प्रमुख◾मुझे ISI, 26/11 आंतकी हमलों से जोड़ने वाले BJP प्रवक्ताओं के खिलाफ करुंगा मानहानि का दावा : दिग्विजय◾अमेरिकी राष्ट्रपति के बयान का संदर्भ व्यापार संतुलन से था, चिंताओं पर ध्यान देंगे : विदेश मंत्रालय◾राम मंदिर ट्रस्ट ने PM मोदी से की मुलाकात, अयोध्या आने का दिया न्योता◾अयोध्या में बजरंगबली की शानदार और भव्य मूर्ति बनाने के लिए ट्रस्ट से करेंगे अनुरोध - AAP◾अमित शाह सीएए के समर्थन में 15 मार्च को हैदराबाद में करेंगे रैली ◾AMU के छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ निकाला विरोध मार्च ◾भाकपा ने किया ट्रंप की यात्रा के विरोध में ‘प्रगतिशील ताकतों’, नागरिक संस्थाओं से प्रदर्शन का आह्वान◾TOP 20 NEWS 20 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

J&K : कश्मीरी नागरिकों की मौत पर इमरान ने बहाए घड़ियाली आंसू, कश्मीर का अलापा राग

जम्मू- कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद के 3 आतंकवादी मारे गए। इसके बाद वहां आतंकियों की विस्फोटक सामग्री में हुए धमाके में 7 नागरिकों की मौत हो गई। इन नाग‌रिकों की मौत  पर पाकिस्तान ने घड़ियाली आंसू बहाए हैं और कश्मीर का राग अलापा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अंग्रेजी और उर्दू में ट्वीट कर कहा कि हम इसकी निंदा करते हैं।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ''भारतीय सुरक्षाबलों की तरफ से भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर में मासूम कश्मीरियों के कत्लेआम का नया सिलसिला बहुत ही निंदनीय है। वक़्त आ गया है कि भारत संयुक्त राष्ट्र के सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों और कश्मीरी अवाम की उमंगों के मुताबिक बातचीत के जरिए कश्मीर मसले के हल की कोशिश करे।''

Strongly condemn the new cycle of killings of innocent Kashmiris in IOK by Indian security forces. It is time India realised it must move to resolve the Kashmir dispute through dialogue in accordance with the UN SC resolutions & the wishes of the Kashmiri people.

— Imran Khan (@ImranKhanPTI) 22 October 2018

आपको बता दें कि इमरान खान ने प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत के साथ रिश्तों को लेकर कहा था कि भारत अगर एक कदम बढ़ाता है तो पाकिस्तान दो कदम बढ़ाएगा। हालांकि बयान हकीकत में नहीं बदला. इमरान खान के शपथ के बाद पाकिस्तानी सेना और आक्रामक हो गई है।

कल ही बॉर्डर एक्शन टीम (बीएटी) की मदद से घुसपैठ की कोशिश कर रहे दो आतंकियों को सेना के जवानों ने राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर ढेर कर दिया था। इस दौरान तीन जवान भी शहीद हो गए थे। मारे गये घुसपैठिये को बार्डर एक्शन टीम (बीएटी) का सदस्य माना जा रहा है जिसमें पाकिस्तानी सेना के जवान और प्रशिक्षित आतंकवादी शामिल होते हैं। इससे पहले भी बीएटी सीमा पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे चुका है।

क्या है कुलगाम का मामला? कुलगाम जिले में रविवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गए और इसके बाद वहां आतंकियों की विस्फोटक सामग्री में हुए धमाके में सात नागरिकों की मौत हो गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने दक्षिण कश्मीर में कुलगाम जिले के लारू गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद वहां घेरा डाला और तलाश अभियान शुरू किया था।

सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों से बार-बार समर्पण करने को कहा, लेकिन आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस सूत्रों के अनुसार इसके बाद सुरक्षाबल जब चीजों को वहां से हटा रहे थे तो मुठभेड़ स्थल को घेरकर खड़ी भीड़ ने उन पर भीषण पथराव शुरू कर दिया। इसके चलते सुरक्षाबल वहां से आंशिक रूप से हटे तो भीड़ मारे गए आतंकवादियों के बचे हथियारों और गोला-बारूद को एकत्र करने के लिए वहां पहुंच गई। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं के दौरान लोग आतंकवादियों के हथियारों और गोला-बारूद को एकत्र कर बाद में आतंकी समूहों को पहुंचा देते हैं।

अलगाववादियों ने बुलाया बंद पुलिस ने कहा कि भीड़ मुठभेड़ स्थल पर पहुंची तो आतंकवादियों के बचे हुए गोला-बारूद और ग्रेनेडों में विस्फोट हो गया जिससे नागरिकों की मौत हो गई। नागरिकों की मौत के बाद आज अलगाववादियों ने बंद का एलान किया है। बंद की वजह से कश्मीर में जनजनीवन प्रभावित हुआ है। अधिकारियों ने खानयार, रैनवाड़ी, नौहट्टा, मैसूमा व एमआर गंज में बंद को रोकने के लिए प्रतिबंध लागू किए हैं। दुकानें, सार्वजनिक परिवहन, व्यापार और शैक्षणिक संस्थान बंद हैं।