BREAKING NEWS

Bharat Jodo Yatra: मूसलाधार बारिश के बीच बेपरवाह राहुल गांधी ने मैसूर में जनसभा को संबोधित किया◾India vs South Africa 2nd T20I: भारत ने दूसरे टी-20 मैच में 16 रनों से जीत हासिल कर टी-20 सीरीज़ पर रचा बड़ा इतिहास◾ महाराष्ट्र : सीएम शिंदे की जान को खतरा, बढाई गई सुरक्षा◾सियासत के धरती पुत्र मुलायम सिंह की बिगड़ी तबीयत, आईसीयू में शिफ्ट◾उद्धव गुट में टूट जारी, वर्ली के 3000 शिवसैनिकों ने थामा शिंदे गुट का दामन ◾फिर उबाल मार रहा हैं खालिस्तान मूवमेंट, बठिंडा में दीवार पर लिखे गए खालिस्तान समर्थक नारे◾पुलवामा में आतंकी हमला, एक पुलिस जवान शहीद, सशस्त्र बल का जवान घायल ◾बीजेपी ने नीतीश कुमार को दी सलाह, कहा - आपकी विदाई तय, बांध लें बोरिया-बिस्तर◾Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव क्यों लड़ रहे हैं मल्लिकार्जुन खड़गे? बताया पूरा प्लान ◾खड़गे से खुले आसमान के नीचे बहस करने के लिए तैयार हूं - शशि थरूर ◾ महात्मा गांधी की विरासत को हथियाना आसान पदचिन्हों पर चलना मुश्किल : राहुल गांधी ◾मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महात्मा गांधी, लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित की◾इस बात पर गौर किया जाना चाहिए कि नए मुख्यमंत्री के नाम पर विधायकों में नाराजगी क्यों है : गहलोत◾पायलट को बीजेपी का खुला ऑफर, घर लक्ष्मी आए तो ठुकराए नहीं ◾राजस्थान में बढ़ा सियासी बवाल, अशोक गहलोत ने विधायकों की बगावत पर दिया बड़ा बयान◾राजद नेताओं पर जगदानंद सिंह ने लगाई पाबंदिया, तेजस्वी यादव पर टिप्पणी ना करने की मिली सलाह ◾ इयान तूफान के कहर से अमेरिका में हुई जनहानि पर पीएम मोदी ने जताई संवेदना ◾महात्मा गांधी की ग्राम स्वराज अवधारणा से प्रेरित हैं स्वयंपूर्ण गोवा योजना : सीएम सावंत◾उत्तर प्रदेश: अखिलेश यादव पर राजभर ने कसा तंज, कहा - साढ़े चार साल खेलेंगे लूडो और चाहिए सत्ता◾ पीएम मोदी ने गांधी जयंती पर राजघाट पहुंचकर बापू को किया नमन, राहुल से लेकर इन नेताओं ने भी राष्ट्रपिता को किया याद ◾

Independence Day 2022 : विश्व नेताओं ने स्वतंत्रता के 75 वर्षों में भारत की उपलब्धियों की सराहना की

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और इजराइल के प्रधानमंत्री याइर लापिद के साथ ही विश्व के अन्य नेताओं ने सोमवार को भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर भारतीयों को बधाई दी तथा दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के साथ द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने का संकल्प लिया जिसने आश्चर्यजनक उपलब्धियां हासिल की हैं।

राष्ट्रपति बाइडन ने भारत की लोकतांत्रिक यात्रा के 75 साल पूरे होने पर महात्मा गांधी के 'सत्य और अहिंसा के स्थायी संदेश' को याद किया।

इस साल, अमेरिका और भारत राजनयिक संबंधों की 75 वीं वर्षगांठ भी मना रहे हैं।

बाइडन ने कहा कि दोनों लोकतंत्र नियम आधारित व्यवस्था की रक्षा के लिए एक साथ खड़े रहेंगे, एक स्वतंत्र और मुक्त हिंद-प्रशांत की अवधारणा को आगे बढ़ाएंगे तथा दुनिया के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों का समाधान करेंगे।

उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘लगभग 40 लाख गौरवान्वित भारतीय-अमेरिकियों सहित पूरी दुनिया में लोग 15 अगस्त को स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मना रहे हैं, ऐसे में अमेरिका महात्मा गांधी के सत्य और अहिंसा के स्थायी संदेश से निर्देशित भारत की लोकतांत्रिक यात्रा का सम्मान करने के लिए भारतीय लोगों के साथ खड़ा है।’’

बाइडन ने कहा, 'इस साल, हम अपने महान लोकतंत्रों के बीच राजनयिक संबंधों की 75 वीं वर्षगांठ भी मना रहे हैं। भारत और अमेरिका मजबूत भागीदार हैं, और अमेरिका-भारत सामरिक साझेदारी व्यवस्था के शासन एवं मानव स्वतंत्रता और गरिमा के लिए हमारी साझा प्रतिबद्धता में अंतर्निहित है।'

उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच साझेदारी उनके लोगों के बीच गहरे संबंधों से और मजबूत हुई है।

बाइडन ने कहा, 'अमेरिका में जीवंत भारतीय-अमेरिकी समुदाय ने हमें एक अधिक नवोन्मेषी, समावेशी और मजबूत राष्ट्र बनाया है।'

उन्होंने कहा, 'मुझे विश्वास है कि आने वाले वर्षों में हमारे दो लोकतंत्र नियम-आधारित व्यवस्था की रक्षा के लिए एक साथ खड़े रहेंगे; हमारे लोगों के लिए अधिक शांति, समृद्धि और सुरक्षा को बढ़ावा देंगे; एक स्वतंत्र और मुक्त हिंद-प्रशांत क्षेत्र की अवधारणा को आगे बढ़ाएंगे; तथा दुनिया के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों का मिलकर समाधान करेंगे।’’

वहीं, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपने बधाई संदेश में कहा कि स्वतंत्रता के बाद के दशकों में भारत ने आर्थिक, सामाजिक, वैज्ञानिक, तकनीकी और अन्य क्षेत्रों में सार्वभौमिक रूप से स्वीकार की जाने वाली सफलता हासिल की है।

यूक्रेन पर अपने हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय दबाव का सामना कर रहे पुतिन ने कहा, 'भारत को विश्व मंच पर काफी प्रतिष्ठा प्राप्त है और वह महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय मुद्दों को हल करने में अहम रचनात्मक भूमिका निभाता है।'

उन्होंने कहा, 'रूस-भारत के संबंध विशेष और विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी की भावना से विकसित हो रहे हैं। मॉस्को और नयी दिल्ली विभिन्न क्षेत्रों में सफलतापूर्वक सहयोग कर रहे हैं, संयुक्त राष्ट्र, ब्रिक्स, एससीओ और अन्य बहुपक्षीय संरचनाओं के ढांचे के भीतर प्रभावी ढंग से विमर्श कर रहे हैं।'

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इस अवसर इस साल की शुरुआत में अपनी गुजरात यात्रा के दौरान साबरमती आश्रम की एक पुरानी तस्वीर साझा करते हुए बधाई दी।

उन्होंने कहा, 'भारत के लोगों को आजादी के 75 साल पूरे होने पर बधाई।'

जॉनसन ने अहमदाबाद में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करने की अपनी एक तस्वीर के साथ ट्वीट किया, 'मेरी हाल की गुजरात और नयी दिल्ली यात्रा के दौरान, मैंने हमारे देशों के बीच एक सहयोग सेतु देखा। मैं अगले 75 वर्षों में इस संबंध के और मजबूत होने की उम्मीद करता हूं।'

फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के लोगों को ट्विटर पर बधाई दी।

मैक्रों ने ट्वीट किया, 'प्रिय मित्र नरेंद्र मोदी, भारत के प्रिय लोगों, आपको स्वतंत्रता दिवस की बधाई! पिछले 75 वर्षों में भारत की शानदार उपलब्धियों का जश्न मनाते हुए आप फ्रांस पर भरोसा कर सकते हैं कि वह हमेशा आपके साथ खड़ा रहेगा।'

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज ने अपने संदेश में कहा कि उनकी भारत यात्रा की बहुत अच्छी यादें हैं।

अल्बनीज ने कहा कि वह 'सम्मान, दोस्ती और सहयोग की भावना से हमारी साझेदारी को गहरा करने के लिए दृढ़ प्रतिज्ञ हैं।'

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने कहा, '1947 में पहले स्वतंत्रता दिवस पर, जब प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने अपने लोगों का अपनी नई स्वतंत्रता की साहसिक यात्रा में विश्वास के साथ शामिल होने का आह्वान किया था, तो दुनिया कल्पना नहीं कर सकती थी कि भारत उनके आह्वान पर कितनी गहराई से ध्यान देगा।'

अल्बनीज ने बयान में कहा, 'दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का उदय और स्वतंत्र भारत द्वारा हासिल की गईं उपलब्धियां उल्लेखनीय हैं।'

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री के रूप में अपने पहले कार्य को याद करते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने तोक्यो में क्वाड शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

उन्होंने कहा, 'सभी ऑस्ट्रेलियाई भारत की सफलताओं और इस महान देश तथा इसके लोगों को परिभाषित करने वाली कई उपलब्धियों की सराहना करते हैं।'

मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने एक ट्वीट में कहा, ' भारत अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है..राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के लोगों को हार्दिक शुभकामनाएं।'

सोलिह ने लिखा, 'मालदीव और भारत के बीच हमेशा गहरी दोस्ती रही है तथा यह हमारी इच्छा है कि भारत स्वतंत्रता, प्रगति और विविधता का प्रतीक बना रहे!'

लापिद ने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा, ‘‘भारत एक गौरवशाली लोकतंत्र है जिसकी जड़ें गहरे इतिहास और परंपरा में हैं। यह दुनिया को बेहतर के लिए बदलने वाली एक नवाचार महाशक्ति भी है।'

उन्होंने कहा, 'इसीलिए इजराइल के लोग भारत और भारतीय लोगों से प्यार करते हैं। इसलिए हर साल हजारों इजराइली भारत जाते हैं।'

इस बात पर प्रकाश डालते हुए कि भारत और इजराइल इस वर्ष राजनयिक संबंधों के 30 साल पूरे कर रहे हैं, इजराइली प्रधानमंत्री ने भारत, इजराइल, यूएई और अमेरिका को शामिल करते हुए आई2यू2 फोरम की शुरुआत पर जोर दिया।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने एक अलग बयान में भारत के लोगों को बधाई दी।

ब्लिंकन ने कहा, 'इस महत्वपूर्ण दिन पर, हम साझा लोकतांत्रिक मूल्यों को प्रदर्शित करते हैं, और हम भारत के लोगों का सम्मान करते हैं जो मिलकर एक उज्ज्वल भविष्य का निर्माण कर रहे हैं।'

उन्होंने कहा, 'यह वर्ष हमारे दोनों देशों के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि हम राजनयिक संबंधों के 75 साल का जश्न मना रहे हैं। हमारी रणनीतिक साझेदारी जलवायु से लेकर व्यापार तक हमारे लोगों से लोगों के बीच जीवंत संबंधों तक विस्तारित है।'

ब्लिंकन ने कहा, 'मुझे विश्वास है कि दो महान लोकतंत्रों के रूप में, हमारी साझेदारी हमारे लोगों की सुरक्षा और समृद्धि तथा विश्व कल्याण में योगदान करना जारी रखेगी। स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं, भारत!'

सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालकृष्णन ने भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर विदेश मंत्री एस जयशंकर को शुभकामनाएं दीं और द्विपक्षीय संबंधों के लगातार मजबूत होने की उम्मीद जताई।

भारतीय मूल के मंत्री ने ट्वीट किया, 'मेरे अच्छे दोस्त डॉ. जयशंकर तथा भारत में दोस्तों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं जो आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मना रहे हैं।'

इज़राइल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज ने भारत को अपनी हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए 'उत्कृष्ट रक्षा संबंधों' को और गहरा करने का आह्वान किया जो 'वैश्विक शांति और स्थिरता में योगदान दे सकते हैं।

गैंट्ज ने ट्वीट किया, 'हमारे भारतीय मित्रों और भागीदारों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं। प्रधानमंत्री कार्यालय और मेरे समकक्ष राजनाथ सिंह - आपका देश समृद्ध हो तथा हमारे देशों के बीच उत्कृष्ट रक्षा संबंध और भी गहरे हों जो वैश्विक शांति और स्थिरता में योगदान दें।'

ऑस्ट्रेलियाई रक्षा मंत्री रिचर्ड मार्लेस ने भी भारत के स्वतंत्रता दिवस पर एक बधाई संदेश ट्वीट किया और आईएनएस सुमेधा की तस्वीरें साझा कीं, जो भारतीय नौसेना का पोत है जिसने पर्थ के फ्रेमेंटल बंदरगाह पर लंगर डाल रखा है।

मार्लेस ने कहा, ‘‘आज भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर बधाई और इस आयोजन के लिए पर्थ में आईएनएस सुमेधा का स्वागत है। लोगों से लोगों का जुड़ाव हमारी साझेदारी को मजबूत करता है और मैं अपने विशाल और जीवंत भारतीय प्रवासी समुदाय को शुभकामनाएं देता हूं।’’