BREAKING NEWS

कचरा बनी बागमती, मानी जाती है नेपाल की सबसे पवित्र नदी ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा- भारत ने रूस से तेल खरीदने के अपने रुख का कभी बचाव नहीं किया◾उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने किया ब्याज दरों में इजाफा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए दर 0.50 प्रतिशत से बढ़कर 0.75◾राजस्थान में बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार? जानिए क्या कहती है जनता◾कार्तिकेय सिंह के अरेस्ट वारंट पर बोले CM नीतीश, मुझे मामले की जानकारी नहीं◾Mann Ki Baat :PM मोदी ने 'मन की बात' की 28वीं कड़ी के लिए मांगे सुझाव, 28 अगस्त को होगा प्रसारण◾दलित छात्र की मौत को लेकर पायलट ने अपनी ही सरकार को दी नसीहत, BJP ने पूर्व उपमुख्यमंत्री का किया समर्थन◾बिलकिस बानो केस के दोषियों की रिहाई को लेकर राहुल का तंज, कहा-PM की कथनी और करनी को देख रहा है देश◾Yamuna Water Level : दिल्ली में यमुना नदी का जल स्तर एक बार फिर खतरे के पार पहुंचा◾Assembly Elections : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आज से गुजरात दौरा, चुनावी तैयारियों की करेंगे समीक्षा◾Central University Admission : CUET-ग्रेजुएट का चौथा चरण आज से शुरू हो गया ◾संगीत सोम का मंच से धमकी भरा बयान, कहा-'मैं अभी गया नहीं, अब भी 100 विधायकों के बराबर हूं'◾बीजेपी के निशाने पर कांग्रेस, सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए आतंकवाद, भ्रष्टाचार और परिवारवाद का लगाया आरोप ◾एक्सप्रेस ट्रेन और मालगाड़ी में जोरदार टक्कर,चार पहिए पटरी से उतरे, मची अफरा-तफरी ◾महाराष्ट्र : आज से शुरू होगा विधानसभा का मानसून सत्र, पहली बार विपक्ष में बैठेंगे आदित्य ठाकरे◾Coronavirus : 24 घंटे में दर्ज हुए 9 हजार केस, 2.49% रहा डेली पॉजिटिविटी रेट◾Jammu Kashmir: सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड फेंक फरार हुए आतंकी, सर्च अभियान में हथियार-गोलाबारूद बरामद◾मुश्किलों में फंस सकते है कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल, सीबीआई कसेगी शिकंजा ◾आज का राशिफल (17 अगस्त 2022)◾बिहार में मिशन 35 प्लस के लक्ष्य के साथ नीतीश-तेजस्वी सरकार के खिलाफ मैदान में उतरेगी भाजपा◾

कोरोना के बढ़ते कहर को रोकने के लिए इंडोनेशिया ने 20 जुलाई तक लगाया प्रतिबंध

दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस महामारी ने अभी भी अपना आतंक जारी रखा हुआ है, कोविड -19 के कारण अभी भी विश्व में कई तरह के प्रतिबंधों का सिलसिला जारी है। कोरोना के कहर को कम करने के लिए कई देशों ने सख्त पाबंदियां लागू कर रखी है। इंडोनेशिया ने कोरोना के बढ़ते कहर को रोकने के लिए 20 जुलाई तक जावा और बाली में आपातकालीन सामुदायिक गतिविधि प्रतिबंध लगाने की बात कही है, जिसे स्थानीय रूप से पीपीकेएम के रूप में जाना जाता है। 

देश में कोविड -19 मामलों की संख्या खतरनाक दर से बढ़ रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि इंडोनेशिया ने पिछले 24 घंटों में 27,913 नए पुष्ट मामले दर्ज किए, जो उच्चतम दैनिक स्पाइक है। इसके साथ ही, कोविड की संख्या कुल मिलाकर 2,256,851 तक पहुंच गई है। यहां मार्च 2020 में पहला संक्रमण पाया गया था।

राष्ट्रपति जोको विडोडो ने कहा कि ताजा मामलों में वृद्धि के बीच इंडोनेशियाई राष्ट्र और लोगों की सुरक्षा के लिए नीति महत्वपूर्ण है। वर्तमान स्थिति में वायरस के प्रसार को रोकने के लिए और अधिक निर्णायक उपायों की आवश्यकता है।राष्ट्रपति ने कहा कि यह नीति सामुदायिक गतिविधियों पर अब तक लागू किए गए प्रतिबंधों की तुलना में सख्त प्रतिबंध लागू करती है।

इंडोनेशियाई सरकार ने पीपीकेएम के कार्यान्वयन के साथ-साथ महामारी पर अंकुश लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।पीपीकेएम का समर्थन करने के लिए, वित्त मंत्रालय ने स्वास्थ्य देखभाल के लिए बजट को बढ़ाकर 185.98 ट्रिलियन रुपये (12 बिलियन डॉलर) कर दिया। 

वित्त मंत्री मुल्यानी इंद्रावती ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, राष्ट्रीय आर्थिक सुधार में स्वास्थ्य देखभाल सर्वोच्च प्राथमिकता है और अब टीकाकरण, निदान और उपचार के विकास के साथ, स्वास्थ्य देखभाल की आवश्यकता बढ़ेगी।सरकार ने पीपीकेएम के दौरान संयुक्त बल में 53,000 कर्मियों को तैनात करने का भी फैसला किया है। समुद्री मामलों और निवेश के समन्वय मंत्री लुहुत बिनसर पंडजैतन ने कहा कि सरकार स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वाले को दंडित करेगी। शनिवार तक, इंडोनेशियाई सरकार को कई विदेशी उत्पादकों से थोक और रेडी-टू-यूज दोनों टीकों की लगभग 119,726,800 खुराक प्राप्त हुई हैं और निकट भविष्य में टीकों की ज्यादा आवक होने की उम्मीद है।