BREAKING NEWS

दिल्ली: कोरोना के दैनिक मामलों में दर्ज हुई गिरावट, CM केजरीवाल बोले- जल्द मिलेगी प्रतिबंधों से राहत ◾दिल्ली में शराब प्रेमियों के लिए अच्छी खबर, सालभर में 21 की जगह अब सिर्फ 3 Dry Day◾यूपी: AIMIM ने उमैर मदनी को मैदान में उतारा, चुनावी घमासान में तेज हुई मुस्लिम वोटों के लिए खींचतान◾फिर आमने-सामने शिवसेना और BJP, राउत बोले-हिंदुत्व के मुद्दे पर सबसे पहले हमने लड़ा था चुनाव◾कांग्रेस को लगेगा बहुत बड़ा झटका! स्टार प्रचारक RPN हो सकते हैं BJP में शामिल, स्वामी मौर्य की बढ़ेंगी मुश्किलें ◾राष्ट्रपति और PM मोदी समेत इन नेताओं ने दी हिमाचल के स्थापना दिवस पर राज्यवासियों को बधाई◾BJP सांसद गौतम गंभीर हुए कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए लोगों से की टेस्ट कराने की अपील ◾मायावती का विरोधियों पर निशाना, कहा- बसपा को छोड़ बाकी सभी सरकारों ने किया राजनीति का अपराधीकरण ◾महाराष्ट्र : पुल से गिरी कार, भीषण सड़क हादसे में BJP विधायक के बेटे समेत 7 छात्रों की मौत◾Corona Update : कोरोना केस में गिरावट, 2 लाख 55 हज़ार नए मामले, एक्टिव केस 22 लाख से ज्यादा◾यूक्रेन को लेकर अमेरिका और रूस में तनाव की स्थिति, राष्ट्रपति बाइडन ने 8,500 सैनिकों को अलर्ट पर रखा◾UP: केशव प्रसाद मौर्य का सपा पर तीखा कटाक्ष, बोले- लिस्ट नई है, अपराधी वही हैं◾दुनियाभर में कहर बरपा रहा है कोरोना, वैश्विक स्तर पर 35.43 करोड़ पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा◾अभी जारी रहेगी ठिठुरन भरी ठंड, आने वाले दिनों में बर्फीली हवाएं और बढ़ाएंगी सर्दी, जानें पूरे उत्तर भारत का हाल◾पंजाब : नवजोत सिंह सिद्धू ने अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए उन्हें बताया फुंका कारतूस◾कांग्रेस पटोले को निगरानी में रखे और PM के खिलाफ टिप्पणी के लिए शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की जांच कराएं : भाजपा ◾दिल्ली कोर्ट ने शरजील इमाम के खिलाफ देशद्रोह का आरोप तय करने का दिया आदेश ◾छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री बघेल ने भाजपा पर लगाया आरोप, कहा- सत्ता में आने के लिए लोगों को बांटने का काम करती है ◾दिल्ली में कोरोना के 5,760 नए मामले सामने आये, संक्रमण दर गिरकर 11.79 ◾ रामपुर से आजम खां और कैराना से नाहिद हसन लड़ेंगे चुनाव, जानिए सपा की 159 उम्मीदवारों की लिस्ट में किसे कहां से मिली टिकट◾

ज्वालामुखी फटने से इंडोनेशिया में मरने वालों की संख्या 14 हुई

इंडोनेशिया की घनी आबादी वाले द्वीप जावा में ज्वालामुखी फटने की घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है, वहीं नौ लोग अब भी लापता हैं। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सुलगते मलबे के कारण तलाश अभियान में बाधा आ रही है। जावा द्वीप पर सबसे ऊंचे ज्वालामुखी के फटने के एक दिन बाद बचावकर्मी सुलगते मलबे और गीली मिट्टी में जीवित बचे लोगों को तलाशने में लगे हैं।

पूर्व जावा प्रांत के लूमागंज जिले में सेमेरू पर्वत में ज्वालामुखी फटने पर आकाश में 40,000 फुट की ऊंचाई पर राख की चादर बिछ गई साथ ही गैस और लावा बहता हुआ नीचे के स्थानों पर आ गया। भूगर्भीय सर्वेक्षण केन्द्र के प्रमुख इको बुड़ी लेलोनो ने बताया कि तूफान और कई दिनों तक बारिश होने के कारण 3,676 मीटर की ऊंचाई पर सेमेरू पर्वत पर ज्वालामुखी फटा। जिला प्रमुख टी हक ने कहा, ‘‘घनी राख के कारण कई गांवों में अंधेरे का आलम है। सैकड़ों लोगों को अस्थायी आश्रय स्थलों में पहुंचाया गया है और कुछ लोग खुद ही सुरक्षित स्थानों पर चले गए हैं।’’

इंडोनेशिया के ज्वालामुखी और भूवैज्ञानिक जोखिम शमन एजेंसी के अनुसार, गर्म गैस और लावा का प्रवाह शनिवार को कम से कम दो बार और रविवार को तीन बार, दो किलोमीटर की दूरी से लेकर पास की नदी में 11 किलोमीटर तक गयी।

अधिकारियों ने ज्वालामुखी के प्रकोप के कारण अपने-अपने निवास स्थान छोड़कर गए हजारों लोगों को रविवार को वापस नहीं लौटने की चेतावनी दी। पूर्वी जावा की खोज और बचाव एजेंसी के हरयादी पूर्णोमो ने कहा, ‘‘वहां जीवन नहीं बचा है पेड़, खेत, घर सब तबाह हो गए हैं। पूरा इलाका राख से भरा हुआ है।’’

राष्ट्रीय आपदा राहत एजेंसी के प्रवक्ता अब्दुल मुहारी ने कहा कि कम से कम 14 ग्रामीणों की गंभीर रूप से जलने से मौत हो गई और 57 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिनमें से 16 की हालत गंभीर है। उन्होंने कहा कि बचाव दल कुराह कोबोकन गांव में एक नदी के किनारे सात निवासियों और खनिकों की तलाश कर रहे हैं, जिनके लापता होने की खबर है। मुहारी ने कहा कि ज्वालामुखी के मलबे से गांव के सारे घर क्षतिग्रस्त हो गए और 900 से अधिक लोग अस्थायी सरकारी आश्रय स्थलों में रह रहे हैं।

परिवहन मंत्रालय की प्रवक्ता अदिता इरावती ने कहा कि उनके कार्यालय ने शनिवार को सभी एयरलाइन कंपनियों को ज्वालामुखी के पास के मार्गों से बचने के लिए नोटिस जारी किया है। इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने कहा कि उन्होंने अपने कैबिनेट मंत्रियों और आपदा एवं सैन्य अधिकारियों को राहत अभियान का संचालन करने का निर्देश दिया है।