BREAKING NEWS

महाराष्ट्र : पुल से गिरी कार, भीषण सड़क हादसे में BJP विधायक के बेटे समेत 7 छात्रों की मौत◾Corona Update : कोरोना केस में गिरावट, 2 लाख 55 हज़ार नए मामले, एक्टिव केस 22 लाख से ज्यादा◾यूक्रेन को लेकर अमेरिका और रूस में तनाव की स्थिति, राष्ट्रपति बाइडन ने 8,500 सैनिकों को अलर्ट पर रखा◾UP: केशव प्रसाद मौर्य का सपा पर तीखा कटाक्ष, बोले- लिस्ट नई है, अपराधी वही हैं◾दुनियाभर में कहर बरपा रहा है कोरोना, वैश्विक स्तर पर 35.43 करोड़ पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा◾अभी जारी रहेगी ठिठुरन भरी ठंड, आने वाले दिनों में बर्फीली हवाएं और बढ़ाएंगी सर्दी, जानें पूरे उत्तर भारत का हाल◾पंजाब : नवजोत सिंह सिद्धू ने अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए उन्हें बताया फुंका कारतूस◾कांग्रेस पटोले को निगरानी में रखे और PM के खिलाफ टिप्पणी के लिए शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की जांच कराएं : भाजपा ◾दिल्ली कोर्ट ने शरजील इमाम के खिलाफ देशद्रोह का आरोप तय करने का दिया आदेश ◾छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री बघेल ने भाजपा पर लगाया आरोप, कहा- सत्ता में आने के लिए लोगों को बांटने का काम करती है ◾दिल्ली में कोरोना के 5,760 नए मामले सामने आये, संक्रमण दर गिरकर 11.79 ◾ रामपुर से आजम खां और कैराना से नाहिद हसन लड़ेंगे चुनाव, जानिए सपा की 159 उम्मीदवारों की लिस्ट में किसे कहां से मिली टिकट◾केंद्र सरकार को सुभाषचंद्र बोस को देश के पहले प्रधानमंत्री के रूप में मान्यता देनी चाहिए : TMC◾कपटी 1 दिन में प्राइवेट नंबर पर 5 हजार से ज्यादा मैसेज नहीं आ सकते.....सिद्धू का केजरीवाल पर निशाना◾कर्नाटक : मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई अपने पहले बजट की तैयारियों में जुटे ◾गणतंत्र दिवस के बाद टाटा को सौंप दी जाएगी एयर इंड़िया, जानें अधिग्रहण की पूरी जानकारी◾पाक PM ने की नवजोत सिद्धू को मंत्रिमंडल में लेने की सिफारिश, अमरिंदर सिंह ने किया बड़ा खुलासा ◾कांग्रेस ने बेरोजगारी को लेकर केंद्र पर कसा तंज, कहा- कोरोना काल में बढ़ी अमीरों और गरीबों के बीच खाई ◾पंजाब: NDA में पूरा हुआ बंटवारे का दौर, नड्डा ने किया ऐलान- 65 सीटों पर BJP लड़ेगी चुनाव, जानें पूरा गणित ◾शरजील इमाम पर चलेगा देशद्रोह का मामला, भड़काऊ भाषणों और विशेष समुदाय को उकसाने के लगे आरोप ◾

चीन-अमेरिका के बीच संबंध सुधारने में लगे जिनपिंग, वार्ता में बोले- दोनों देशों को करना चाहिए एक-दूसरे का सम्मान

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपने अमेरिकी समकक्ष जो बाइडन से ऑनलाइन बैठक में कहा कि चीन और अमेरिका को एक-दूसरे का सम्मान करना चाहिए, शांति के साथ सह-अस्तित्व कायम करना चाहिए और दोनों पक्षों के फायदे के पथ पर आगे बढ़ना चाहिए। शी ने शिखर वार्ता में एक मजबूत एवं स्थिर चीन-अमेरिका संबंध विकसित करने का आह्वान किया और द्विपक्षीय संबंधों को सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाने के लिए आम सहमति कायम करने और सक्रिय कदम उठाने के लिए बाइडन के साथ काम करने की इच्छा भी व्यक्त की।

जिनपिंग और बाइडन के बीच तीसरी वार्ता 

यह बहुप्रतीक्षित शिखर वार्ता मंगलवार सुबह शुरू हुई। फरवरी के बाद से शी और बाइडन के बीच यह तीसरी वार्ता है। इससे पहले, दोनों नेताओं ने सितंबर में फोन पर लंबी बातचीत की थी। अमेरिका और चीन के बीच मौजूदा तनावपूर्ण संबंधों की पृष्ठभूमि में दोनों नेताओं ने यह बैठक की। बाइडन उत्तर पश्चिमी चीन में उइगर समुदाय के लोगों के मानवाधिकारों के हनन, हांगकांग में लोकतांत्रिक विरोध प्रदर्शनों को कुचलने, स्व-शासित ताइवान के खिलाफ सैन्य आक्रामकता सहित कई मुद्दों पर बीजिंग की आलोचना करते रहे हैं। 

चीन ने अमेरिका पर लगाए आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप के आरोप 

वहीं, शी के अधिकारियों ने बाइडन प्रशासन पर निशाना साधते हुए, उस पर चीन के आतंरिक मामलों में हस्तक्षेप करने के आरोप लगाए हैं। आधिकारिक मीडिया की खबर के अनुसार, शी ने कहा कि दोनों देश कई चुनौतियों का सामना कर रहे हैं और दोनों को संवाद एवं सहयोग बढ़ाना चाहिए। शी ने कहा कि चीन और अमेरिका को एक-दूसरे का सम्मान करना चाहिए, शांति के साथ सह-अस्तित्व कायम करना चाहिए और दोनों पक्षों के फायदे के पथ पर आगे बढ़ना चाहिए। 

 चीन-अमेरिका संबंधों को सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाने के लिए उठाए कदम : जिनपिंग 

जिनपिंग ने सर्वसम्मति बनाने के लिए बाइडन के साथ काम करने और चीन-अमेरिका संबंधों को सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाने के लिए सक्रिय कदम उठाने की इच्छा व्यक्त की। वहीं, संवाद समिति ‘एसोसिएटेड प्रेस’ (एपी) की खबर के अनुसार, बाइडन ने बैठक की शुरुआत में कहा, ‘‘ चीन और अमेरिका के नेता होने के नाते यह सुनिश्चित करना हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हमारे देशों के बीच जो प्रतिस्पर्धा है वह टकराव में न बदले....इसकी बजाय यह सरल एवं सीधी प्रतिस्पर्धा रहे।’’

अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के एक त्रिपक्षीय सुरक्षा गठबंधन ‘ऑकस’ के अलावा ताइवान, हांगकांग, शिनजियांग और तिब्बत से लेकर क्वाड गठबंधन (जिसमें अमेरिका, भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं) सहित कई मुद्दों पर वार्ता में चर्चा होने की उम्मीद है।