मलेशिया 34 अरब डॉलर की चीन समर्थित एक परिवहन परियोजना पर फिर से काम शुरू करेगा। 2017 में इस पर काम बंद कर दिया गया था। प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को कहा कि यह परियोजना बीजिंग के वैश्विक बुनियादी ढांचा अभियान में योगदान देगी। बंदर मलेशिया परियोजना दोनों देशों के बीच संबंधों में आए ठहराव के बाद संबंध बेहतर होने का संकेत देता है।

प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद के कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया है कि कुआलालंपुर में 34 अरब डॉलर की इस परियोजना के वित्तीय संस्थाओं और कंपनियों को अपनी ओर आकर्षित करने की उम्मीद है।

 इसमें कहा गया है , ‘‘मूल योजना में कुछ बदलाव किया गया है। इसमें 10,000 किफायती मकान और एक पीपुल्स पार्क शामिल किया गया है।’’ रेलवे परिवहन की यह परियोजना मूल रूप से 2011 में शुरू की गई थी, लेकिन भुगतान को लेकर हुए विवाद के बाद इसे 2017 में ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था।