BREAKING NEWS

NPR के प्रारूप में जोडे गए नए कॉलम को हटाने का आग्रह करेंगे पार्टी सांसद : नीतीश कुमार ◾बजट सत्र के मद्देनजर राज्यसभा के सभापति ने शुक्रवार को बुलाई सर्वदलीय बैठक ◾राहुल ने किया नेशनल रजिस्टर आफ अनएम्पलायमेंट पोस्टर का विमोचन ◾राजद्रोह का आरोपी शरजील इमाम बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार◾नरेंद्र मोदी ने देश की भाईचारे और एकता की छवि को नुकसान पहुंचाया : राहुल गांधी◾एनसीसी के कार्यक्रम में PM मोदी बोले- पाक को धूल चटाने में 10 दिन भी नहीं लगेंगे'◾कांग्रेस ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- प्रति व्यक्ति कर्ज 27 हजार रुपये बढ़ा, सरकार बजट में बताए कि यह बोझ कैसे कम होगा ◾2002 गुजरात दंगे के 14 दोषियों को सुप्रीम कोर्ट से मिली जमानत◾केजरीवाल की चुनौती को अमित शाह ने स्वीकारी, 8 सांसदों को स्कूलों में भेजकर खोली पोल ◾सीएए के तहत भारतीय नागरिकता पाने के लिए लोगों को देना होगा धर्म का सबूत◾क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए एक-दूसरे की संवेदनाओं को समझना आवश्यक : राजनाथ सिंह◾पाक के लाहौर में मारा गया खालिस्तानी नेता 'हैप्पी PhD’, RSS नेताओं की हत्या का था आरोपी◾निर्भया केस के दोषी मुकेश सिंह की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई ◾BJP सांसद प्रवेश वर्मा का बड़ा बयान, बोले-हमारी सरकार बनी तो 1 घंटे में खाली करा देंगे शाहीन बाग◾दिल्ली में कोरोना वायरस ने दी दस्तक, RML अस्पताल में 3 संदिग्ध मामले सामने आए◾जम्मू-कश्मीर पुलिस को बड़ी कामयाबी हासिल, लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी को किया गिरफ्तार◾मध्यप्रदेश : कमलनाथ सरकार में राजनीतिक नियुक्तियां अटकने से कांग्रेस नेताओं में बढ़ रहा असंतोष ◾दिल्ली चुनाव : अमित शाह ने केजरीवाल को शाहीनबाग जाने की चुनौती दी, कहा- मोदी सरकार राष्ट्र विरोधी को नहीं बख्शेगी ◾कोरोना वायरस से चीन में अब तक 106 लोगों की मौत, 1300 नए मामले आए सामने ◾हेमंत मंत्रिमंडल का विस्तार मंगलवार को, सात नये मंत्री हो सकते हैं शामिल ◾

मेलानिया ट्रंप ने साइबर धमकी के खिलाफ अभियान शुरू किया

अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप ने ट्विटर पर रोजाना उनके पति और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा अपने विरोधियों को अपमानित करने के बावजूद बच्चों और नाबालिगों के खिलाफ साइबर धमकी से निपटने के लिए औपचारिक रूप से अपना अभियान शुरू किया है। अमेरिकी मीडिया की रपट के अनुसार, मेलानिया ट्रंप ने मंगलवार को इस अभियान के तहत गूगल, फेसबुक, ट्विटर, स्नैपचैट के प्रमुख को व्हाइट हाउस बुलाया। मेलानिया ने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव अभियान के दौरान इस अभियान का वादा किया था।

मेलानिया ने कहा, 'मैं पूरी तरह से अवगत हूं कि लोग इस विषय में चर्चा करते हुए मुझ पर संदेह कर रहे हैं। इस मुद्दे से निपटने के लिए अपनी प्रतिबद्धता के लिए मुझे आलोचना का सामना करना पड़ रहा है और मुझे पता है कि यह आगे भी चलता रहेगा। लेकिन ये सब मुझे उस चीज को करने से नहीं रोक सकते, जो मेरे अनुसार सही है।' मेलानिया को इस मुद्दे पर उस वक्त भी आलोचना का सामना करना पड़ा था, जब उन्होंने चुनाव अभियान के दौरान इस बारे में पहली बार इच्छा जताई थी।

कई लोगों ने इस विचार को 'पाखंड' कहा था, क्योंकि लोगों का मानना था कि उनके पति खुद ही ट्विटर पर अपने विरोधियों के मजाक उड़ाते हुए पोस्ट करते हैं और कोई पछतावा नहीं जताते। उन्होंने कंपनियों के प्रतिनिधियों के समक्ष कहा, 'मैं यहां एक लक्ष्य के साथ हूं, जिसमें हमारे आने वाली पीढ़ी के बच्चों की मदद करना है। प्रथम महिला के तौर पर, मुझे सोशल मीडिया पर कई बच्चों के भयभीत महसूस करने के संबंध में चिट्ठियां प्राप्त हुई हैं।'

अधिकतर सोशल मीडिया सेवा प्रदाताओं ने साइबर खतरे के लिए कठोर नियम बना रखे हैं, लेकिन सामान्य तौर पर यह प्रयोगकर्ताओं पर निर्भर करता है कि वे इन जगहों पर अपने खिलाफ हुए उत्पीड़न की शिकायत करें, जिसके बाद सोशल मीडिया सेवा प्रदाता यह तय करते हैं कि उक्त व्यक्ति को प्रतिबंधित करना है या नहीं।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।