BREAKING NEWS

कोविड-19 : संक्रमण मामलों में एक दिन में दर्ज की गई सर्वाधिक बढ़ोतरी, संक्रमितों की संख्या 1,834 और मृतकों की संख्या 41 हुई◾ट्रंप ने दी ईरान को चेतावनी, कहा- अमेरिकी सैनिकों पर हमला किया तो चुकानी पड़ेगी भारी कीमत ◾NIA करेगी काबुल गुरुद्वारे हमले की जांच, एजेंसी ने किया पहली बार विदेश में मामला दर्ज ◾आवश्यक सामानों की आपूर्ति में लगे वायुसेना के विमान के इंजन में लगी आग, पायलटों ने सुरक्षित उतारा◾राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति सहित कई नेताओं ने दी देशवासियों को रामनवमी की बधाई◾Covid 19 के खिलाफ लड़ाई को कमजोर करने वालों पर भाजपा अध्यक्ष ने साधा निशाना◾खुफिया रिपोर्ट : मरकज से गायब 7 देशों की 5 महिलाओं सहित 160 विदेशी राजधानी दिल्ली में मिले◾तब्लीगी जमात से लौटे लोगों की सूचना न देने वालों पर मुकदमा दर्ज हो - CM योगी◾PM मोदी ने कोविड-19 से बचने के लिए आयुष मंत्रालय के नुस्खों को किया साझा, बोले- मैं सिर्फ गर्म पानी पीता हूं ◾दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 32 नये मामले आने से संक्रमितों की संख्या 152 पहुँची◾स्पेन : कोविड-19 से पिछले 24 घंटों में हुई 864 लोगों की मौत, मरने वाले लोगों की संख्या 9,000 के पार पहुंची ◾भारत-चीन मिलकर करेंगे वैश्विक चुनौतियों का सामना ◾कोविड-19 : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कोरोना से निपटने के लिए रक्षा मंत्रालय के उपायों की समीक्षा की◾मेरठ में कोरोना से संक्रमित 70 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, अब तक 2 लोगों की गई जान◾पिछले 24 घंटे में कोरोना के 386 नये मामले आये सामने, निजामुद्दीन मरकज है प्रमुख वजह : स्वास्थ्य मंत्रालय◾Coronavirus : केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान- कोरोना का इलाज करते किसी स्वास्थ्यकर्मी की जान गई तो देंगे 1 करोड़ रुपये◾आंध्र प्रदेश में कोरोना के 43 नये मामलें आये सामने, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 87 हुई◾निजामुद्दीन : मरकज से निकाले गए कुल 2361 लोग, पिछले 36 घंटे चला ऑपरेशन ◾दिल्ली में एक और डॉक्टर में कोरोना वायरस की पुष्टि, 120 हुई मरीजों की संख्या◾अमेरिका में कोरोना वायरस से मृतकों की संख्या 4000 के पार, 3 दिन में दुगना हुआ आंकड़ा◾

MIT की नसीहत : हवाई अड्डों पर हाथ रखे साफ, कोरोना वायरस का खतरा होगा कम

न्यूयॉर्क : कोरोना वायरस, जिसे अब आधिकारिक रूप से कोविड-19 के रूप में जाना जाता है, चीन में 1,300 से अधिक लोगों की जान ले चुका है। इस बीच शोधकर्ताओं ने खुलासा किया है कि सभी हवाई अड्डों पर अगर सही तरीके से हाथों की स्वच्छता पर ध्यान दिया जाए तो इस संभावित महामारी के जोखिम को 24 से 69 फीसदी तक कम किया जा सकता है। 

जर्नल रिस्क एनालिसिस में प्रकाशित अध्ययन में दुनिया भर के हवाई अड्डों पर रोग शमन रणनीतियों को लागू करने के प्रभाव का विश्लेषण किया गया है। 

साइप्रस एवं मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) विश्वविद्यालय से अध्ययन के प्रमुख लेखक क्रिस्टोस निकोलाइड्स ने कहा, 'हवाई अड्डे और हवाई जहाज अत्यधिक संक्रामक होते हैं, क्योंकि वे बड़ी आबादी के साथ सीमित क्षेत्र में होते हैं। विषाणु शारीरिक तरल पदार्थ के माध्यम से फैलते हैं, इसलिए इसकी रोकथाम के लिए प्रमुख परिवहन केंद्रों पर हाथ साफ रखना महत्वपूर्ण है।' 

इसके लिए शोधकर्ताओं ने ऐसे 10 महत्वपूर्ण हवाई अड्डों व वैश्विक हवाई-परिवहन नेटवर्क की पहचान की और पाया कि अगर हाथ धोने पर ध्यान दिया जाए तो इस महामारी के जोखिम को 37 फीसदी तक कम किया जा सकता है। 

इन हवाई अड्डों में लंदन हीथ्रो, लॉस एंजिल्स इंटरनेशनल, जॉन एफ. कैनेडी, चार्ल्स डी गॉल, दुबई इंटरनेशनल, फ्रैंकफर्ट, हांगकांग इंटरनेशनल, बीजिंग कैपिटल, सैन फ्रांसिस्को और एम्स्टर्डम शिफोल शामिल हैं। 

अध्ययन से पता चलता है कि अगर हाथ धोने की प्रक्रिया को आजमाया जाए तो वायरस के प्रसार को कम करने में एक महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ेगा। 

ये दस हवाई अड्डे महज ऐसे स्थान नहीं हैं, जहां यात्रियों की बड़ी संख्या होती है, बल्कि ये हवाई अड्डे दुनिया के सभी हिस्सों व गंतव्यों को आपस में जोड़ते भी हैं। 

हवाई अड्डों में कई जगहें अत्यधिक दूषित होती हैं, जिनका इस्तेमाल विभिन्न यात्री करते हैं। इनमें स्वयं-सेवा चेक-इन स्क्रीन, गेट बेंच आर्मरेस्ट, वॉटर फाउनटेन बटन, दरवाजों के हैंडल, सीट और ट्रे टेबल आदि शामिल हैं। 

विश्लेषण बताते हैं कि वर्तमान में हर पांच में से एक ही व्यक्ति हर समय अपने हाथों को साफ रखता है।