BREAKING NEWS

LJP में फूट पर चिराग पासवान के तर्क को पशुपति कुमार पारस ने दी चुनौती◾अयोध्या में कथित भूमि घोटाले को लेकर AAP नेता संजय सिंह करेंगे कोर्ट का रुख◾बाइडन और पुतिन अपने राजदूतों को वापस उनके पदों पर भेजने के लिए सहमत ◾सोनिया गांधी ने ली कोविड-19 टीके की दोनों खुराकें, संक्रमित होने के चलते राहुल को टीकाकरण में देरी हुई◾मौर्य ने विपक्ष पर साधा निशाना, कहा - रामभक्तों के खून से होली खेलने वाले मंदिर पर जनता को कर रहे गुमराह◾आगामी विधानसभा चुनाव किसके नेतृत्व में लड़ा जाएगा, यह भाजपा नेतृत्व करेगा तय : केशव प्रसाद मौर्य ◾उत्तर प्रदेश : बीते 24 घंटे में सिर्फ 310 कोरोना केस मिले, संक्रमण से 50 और लोगों की मौत◾PNB घोटाला : CBI ने मेहुल चोकसी के खिलाफ दायर की नई चार्जशीट, सबूतों से हेराफेरी के लगे आरोप◾राहुल के आरोपों पर हर्षवर्धन का पलटवार, कहा- उनके ज्ञान के सामने तो आर्यभट्ट व अरस्तु जैसे विद्वान भी नतमस्तक◾धनकड़ के दिल्ली दौरे पर TMC का तंज - 'अंकल जी, हम पर एक एहसान करें ,बंगाल वापस न आएं' ◾जेनेवा समिट में बाइडन और पुतिन ने की मुलाकात, हाथ मिलाकर रिश्ते बेहतर करने के दिए संकेत◾कोविड-19 : फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए PM मोदी की सौगात, 18 जून को लॉन्च करेंगे कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स◾VivaTech सम्मेलन में बोले PM-महामारी से प्रभावित स्वास्थ्य सुविधाओं और अर्थव्यवस्था को दुरूस्त करने की जरूरत◾ब्लू इकोनॉमी को मजबूत करने के लिए मोदी कैबिनेट ने 'डीप सी मिशन' को दी मंजूरी ◾6 साल के बच्चे को कोविड से बचाने के लिए मां-बाप ने लिया ऐसा फैसला कि पीएम मोदी भी हो गए भावुक ◾पंजाब कांग्रेस में घमासान जारी, अमरिंदर सिंह के साथ काम करने को तैयार नहीं सिद्धू, ठुकराया डिप्टी सीएम का पद◾चिराग पासवान बोले- शेर का बेटा हूं, लंबी लड़ाई के लिए तैयार, लंबे वक्त से पार्टी तोड़ने की कोशिश में JDU ◾दिल्ली में कोरोना वायरस के 212 नए मामले, 25 लोगों की मौत, संक्रमण दर 0.27 फीसदी◾गांधी परिवार और कांग्रेस कर रहे हैं महापाप, खुद टीका लगवाया नहीं और फैला रहे हैं भ्रम : संबित पात्रा ◾क्या कोवैक्सीन में इस्तेमाल हुआ बछड़े का सीरम, केंद्र ने कहा- सोशल मीडिया पर तोड़-मरोड़ कर पेश किए गए तथ्य ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

मलाला यूसुफजई को धमकाने के आरोप में मुफ्ती गिरफ्तार

उत्तर पश्चिम पाकिस्तान में एक मुफ्ती को नोबल पुरस्कार से सम्मानित मलाला यूसुफजई को शादी पर उनकी हालिया टिप्पणी को लेकर उन्हें आत्मघाती हमले में मारने की धमकी देने और लोगों को उनपर हमला करने के लिए उकसाने के आरोप में आतंकवाद निरोधी कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है।

‘डॉन’ अखबार ने बृहस्पतिवार को लक्की मारवत जिला पुलिस दफ्तर के हवाले से खबर दी कि पुलिस ने खैबर पख्तूनख्वा के मुफ्ती सरदार अली हक्कानी के घर पर छापा मारा और बुधवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

‘वोग’ पत्रिका को दिए एक साक्षात्कार में 23 वर्षीय यूसुफजई ने कहा कि उन्हें पक्के तौर पर नहीं पता कि वह कभी शादी करेंगी भी। पाकिस्तानी कार्यकर्ता यूसुफजई के सिर में तालिबान ने 2012 में गोली मार दी थी। वह पाकिस्तान में लड़कियों की शिक्षा के लिए काम करती हैं।

उन्होंने कहा, “मुझे अब भी समझ में नहीं आता कि लोगों को शादी क्यों करनी पड़ती है। अगर आप अपने जीवन में एक व्यक्ति चाहते हैं, तो आपको शादी के कागजात पर हस्ताक्षर करने की क्या ज़रूरत है, यह सिर्फ एक साझेदारी क्यों नहीं हो सकती?”

हक्कानी प्रांत के नौशेरा इलाके का बाशिंदा है लेकिन जब पुलिस ने उसे पकड़ा तो वह लक्की मारवत इलाके के पिज़ो में था। वह जाहिर तौर पर गिरफ्तारी से बचने के लिए भागा था।

हक्कानी पर लोक व्यवस्था बनाए रखना अधिनियम और आतंकवाद रोधी अधिनियम के तहत आरोप लगाया गए हैं।

खबर के मुताबिक, मामले में शिकायतकर्ता एसएचओ (थाना प्रभारी) वसीम सज्जाद की हैं।

लक्की मारवत के पिजो थाने में दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक, सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में मुफ्ती सरदार पेशावर के वहिद गढ़ी इलाके में लोगों को कानून अपने हाथ में लेने और यूसुफजई पर हमला करने के लिए उकसा रहे हैं। खबर में बताया गया है कि जब घटना हुई तब वह हथियार से लैस थे।

प्राथमिकी में उसके हवाले से कहा गया है, “ जब मलाला पाकिस्तान आएंगी तो मैं उनपर आत्मघाती हमला करने वाला पहला शख्स होउंगा।” शिकायत में कहा गया है कि भाषण से शांति के लिए खतरा पैदा हो सकता था और इसमें अराजकता के लिए भड़काया गया था।

हिंसा भड़काने वाला वीडियो भाषण वायरल हो गया और कई लोगों ने सरकार से उसके खिलाफ कार्रवाई करने की गुजारिश की।

बहारहाल, यूसुफजई की टिप्पणी ने पाकिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा में तूफान ला दिया है। प्रांतीय असेम्बली में विपक्षी पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) के सदस्य साहिबज़ादा सनाउल्लाह ने सरकार से मांग की है कि इस बात की जांच की जाए कि उन्होंने शादी को लेकर टिप्पणी की है या नहीं।

खबर में कहा गया है कि पीपीपी एवं मजहबी-राजनीतिक पार्टियों गठबंधन मुत्ताहिदा मजिलिस-ए-अमल ने भी उनके परिवार से मुद्दे पर स्थिति साफ करने को कहा है।